भीलवाड़ा भाजपा ने क्यूं उठाया हाथ में डंडा, पढि़ए

सोशल डिस्टेसिंग को लेकर विवादों में घिरी भाजपा ने शनिवार को कलक्ट्रेट में जहाजपुर विधायक गोपीचंद मीणा के फार्म हाउस पर प्रशासनिक कार्रवाई के खिलाफ प्रदर्शन व ज्ञापन के दौरान पहली बार पूरी सावधानी बरती। इस दौरान भाजपा पदाधिकारियों ने मास्क लगा रखे थे। सोशल डिस्टेसिंग की पालना के लिए भाजपा पदाधिकारियों ने लकड़ी के डंडों को हाथों में थामते हुए डिस्टेंस तय की।

By: Narendra Kumar Verma

Published: 14 Jun 2020, 01:47 PM IST

भीलवाड़ा भाजपा ने क्यूं उठाया हाथ में डंडा, पढि़ए

भीलवाड़ा। सोशल डिस्टेसिंग को लेकर विवादों में घिरी भाजपा ने शनिवार को कलक्ट्रेट में जहाजपुर विधायक गोपीचंद मीणा के फार्म हाउस पर प्रशासनिक कार्रवाई के खिलाफ प्रदर्शन व ज्ञापन के दौरान पहली बार पूरी सावधानी बरती। इस दौरान भाजपा पदाधिकारियों ने मास्क लगा रखे थे। सोशल डिस्टेसिंग की पालना के लिए भाजपा पदाधिकारियों ने लकड़ी के डंडों को हाथों में थामते हुए डिस्टेंस तय की। इसके बाद भाजपा ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया ज्ञापन से पूर्व भाजपा ने जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और कांग्रेस के दबाव में आ कर जहाजपुर विधायक गोपीचंद मीणा के फार्म हाउस पर छापे की कार्रवाई करने का आरोप लगाया।

भाजपा जिलाध्यक्ष लादूलाल तेली की अगुवाई में शनिवार सुबह विधायक वि_ल शंकर अवस्थी, गोपाल खण्डेलवाल, पूर्व जिलाध्यक्ष दामोदर अग्रवाल, नगर परिषद सभापति मंजू चेचाणी आदि वरिष्ठ नेता कलक्ट्रेट पहुंचे। यहां जहाजपुर विधायक गोपीचन्द मीणा के फ ार्म हाउस पर गुरुवार रात्रि को जिला प्रशासन द्वारा की गई छापे की कार्रवाई को भाजपा ने गैर कानूनी बताते हुए कुछेक कांग्रेसी नेताओं के भ्रष्टाचार को छुपाने का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की। इसके बाद अतिरिक्त जिला कलक्टर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया।

ज्ञापन में आरोप लगाया गया कि कांग्रेस के नेताओं के दबाव मे जनता की आवाज को दबाया जा रहा है।ज्ञापन मे बताया कि जहाजपुर विधानसभा क्षैत्र मे अवैध बजरी दोहन के चलते आए दिन अपराधिक घटनाओं को लेकर विधायक मीणा ने पिछले एक वर्ष से जिला कलक्टर, पुलिस अधीक्षक, पुलिस महानिदेशक, खान निदेशक व मुख्य मंत्री से मिलकर भ्रष्टाचार व बजरी माफि याओ के खिलाफ कार्यवाही की मांग कर रहे है। विधानसभा में भी बजरी का मामला उठाया है, लेकिन सरकार द्वारा उनके खिलाफ कांग्रेसी नेताओं दबाव व मिलीभगत के चलते कोई नहीं हुई।

भाजपा का आरोप है कि उपखण्ड अधिकारी के चालक की मौत के बाद बजरी माफि याओं के खिलाफ कार्यवाही करने के बजाय भाजपा विधायक के घर पर रात्रि के समय पुलिस,खान,परिवहन ,राजस्व सहित कई विभागों के अधिकारियों द्वारा गैर कानूनी रूप से फ ार्म हाउस में तलाशी लेना अवैधानिक होकर विधायक को डराने व धमकाने की कार्यवाही की, जो कि अनुचित थी।

जिला प्रशासन द्वारा गठित कमेटी के अधिकारियों द्वारा जहाजपुर क्षैत्र मे बजरी के ट्रैक्टरों को जब्त करने के बजाय कई किसानों के खाली व खाद तथा फसल से भरे ट्रैक्टरों को जब्त कर क्षैत्र मे दहशत का माहौल पैदा कर दिया है जबकि पुलिस,खान व प्रशासनिक अधिकारी खनन माफि याओं से मिलीभगत कर अवैध बजरी दोहन करा रहे है।

ये थे मौजूद
ज्ञापन के दौरान भाजपा नेता रामलाल योगी, जिला महामंत्री बाबूलाल टांक, प्रवक्ता कैलाश सोनी, भैरूलाल मेघवंशी, मुरलीधर जोशी, जिला उपाध्यक्ष डॉ राजा साध वैष्णव, ज्योति आशीर्वाद, नन्दलाल गुर्जर, सुरेन्द्रसिह मोटरास, शोभिका जागेटिया,मंजू पालीवाल, सीमा शर्मा, राजेश सेन, जिला कोषाध्यक्ष ललित अग्रवाल, मीडिया प्रभारी विनोद झुर्रानी आदि मौजूद थे।

Narendra Kumar Verma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned