श्रमिकों को क्यों देना पड़ा धरना

श्रमिकों को क्यों देना पड़ा धरना
Why did workers have to sit in bhilwara

Suresh Jain | Publish: Oct, 11 2019 11:08:16 AM (IST) Bhilwara, Bhilwara, Rajasthan, India

सरकारी योजनाओं का दुरुपयोग होता है, इसका उदाहरण निर्माण श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना छात्रवृत्ति को प्राप्त करने के लिए चल रहे सांठ-गांठ के खेल व गड़बड़झाले में देखने को मिल रहा है।

भीलवाड़ा।
Labour Department सरकारी योजनाओं का दुरुपयोग होता है, इसका उदाहरण निर्माण श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना छात्रवृत्ति को प्राप्त करने के लिए चल रहे सांठ-गांठ के खेल व गड़बड़झाले में देखने को मिल रहा है। श्रमिकों ने आरोप लगाए है कि अधिकारी कर्मचारियों के काम नहीं कर रहे तथा प्रभावशाली लोगों के काम जल्दी कर रहे हैं। इससे हजारों आवेदन विभिन्न योजना में लम्बित है। इसी मांग को लेकर गुरुवार को श्रमिक संगठनों ने श्रम विभाग के बाद धरना दिया व प्रदर्शन किया।


Labour Department श्रमिक नेता प्रभाष चौधरी ने बताया कि विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति दिलाने के लिए गलत तथ्यों व साक्ष्यों को प्रमाण के तौर पर पेश किया जा रहा है। श्रमिकों के छात्रों के आवेदन लम्बे समय से लम्बित पड़े है। वर्तमान में निर्माण श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना में निर्माण श्रमिक जीवन व भविष्य सुरक्षा योजना, निर्माण श्रमिक सुलभ्य योजना प्रसूति सहायता योजना और श्रम विभाग निर्माण श्रमिक औजार सहायता योजना का भी संचालन हो रहा है। लेकिन रुझान निर्माण श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना छात्रवृत्ति को लेकर ही है। सभी सरकारी योजनाओं के आवेदन लम्बित होने से श्रमिकों को योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned