script2 head constable asking for bribe 1 caught red handed taking bribe | मुर्गा खिलाया, बीयर पिलाई, फिर भी पुलिसवालों ने मांगी 20 हजार की रिश्वत, जानिए फिर क्या हुआ | Patrika News

मुर्गा खिलाया, बीयर पिलाई, फिर भी पुलिसवालों ने मांगी 20 हजार की रिश्वत, जानिए फिर क्या हुआ

रिश्वत मांग रहे थे दो प्रधान आरक्षक...रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा गया एक, एसपी ने दोनों को किया निलंबित..

भिंड

Published: May 19, 2022 09:43:11 pm

भिंड/मालनपुर. साहब.. बेवजह आरोपी बनने से बचने के लिए दो मुर्गे बनवाकर खिलाए, बीयर की बोतलें मंगवाकर पिलाईं बावजूद इसके मालनपुर थाने के प्रधान आरक्षक मनीष पचौरी व आशीष शुक्ला 20 हजार रुपए की रिश्वत मांग रहे थे। मानसिक रूप से तनाव में आकर मैंने लोकायुक्त में शिकायत कर दी। जिसके बाद एक आरक्षक को रंगेहाथों लोकायुक्त ने पकड़ा है। यह बात विकास जाटव ने पत्रकारों से चर्चा में कही।

bhind.jpg

पूरा मामला जानिए
गत सोमवार को विकास जाटव बाइक पर सवार होकर गुजर रहा था। इसी दौरान संगीन अपराध में फरार आरोपी कमल नागर ने उससे लिफ्ट मांग ली। हरीरामपुरा के पास मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने कमल नागर को पकड़ लिया। उस समय कार्यवाही में मौजूद प्रधान आरक्षक मनीष पचौरी व आशीष शुक्ला ने उसे यह कहकर छोड़ दिया कि तू अभी जा बाद में बात करेंगे। उसी शाम उससे 20 हजार रुपए मांगे। ऐसे में रुपए देने में असमर्थता जाहिर करते हुए उसने दोनों ही पुलिस कर्मियों को दो मुर्गे बनवाए और बियर की बोतलें भी मंगाकर पिलाईं। उसके बावजूद दोनों 20 हजार रुपए की मांग करते रहे। प्रधान आरक्षकों ने उससे कहा यदि रुपए नहीं दिए तो उसे धारा 307 का आरोपी बना दिया जाएगा। थाना प्रभारी से बात हो गई है यदि व्यवस्था कर दोगे तो तुम्हें बचा दिया जाएगा। लिहाजा उसने 17 मई को ग्वालियर के लोकायुक्त कार्यालय पहुंचकर रिश्वत मांगे जाने के संबंध में शिकायत दर्ज करा दी। इस मामले में एसपी शैलेन्द्र चौहान ने दोनों ही प्रधान आरक्षकों को निलंबित कर दिया है।

यह भी पढ़ें

32 की दुल्हन ने 16 साल के दूल्हे के साथ लिए 7 फेरे, पंचायत बनी शादी की साक्षी




थाना परिसर में ही उतरे प्रधान आरक्षक के कपड़े
शिकायत पर कार्रवाई करने के लिए 15 सदस्यीय लोकायुक्त टीम मालनपुर थाने के आसपास सादे लिवास में पहुंच गई। ऐसे में उसने रुपए जब प्रधान आरक्षक मनीष पचौरी को दिए तो उसे कम लगे। ऐसे में उसने पुन: गिनकर उसे दे दिए। मनीष पचौरी ने जैसे ही रकम अपनी जेब में रखी तभी लोकायुक्त टीम के सदस्यों ने उसे घेराबंदी कर दबोच लिया। तदुपरांत थाना परिसर में न सिर्फ हाथ धुलवाए गए बल्कि वर्दी भी उतरवाकर धुलवाई गई। कार्यवाही में डीएसपी प्रघुम्न कुमार पाराशर, डीएसपी योगेश कुंजारिया, निरीक्षक राघवेंद्र ऋषिश्वर, कविंद्र सिंह चौहान, ब्रजमोहन नरवरिया, अंजली शर्मा, भारत सिंह किरार, प्रधान आरक्षक इकवाल खान, हेमंत शर्मा, आरक्षक विशंभर सिंह भदोरिया, सुरेंद्र सिंह सहमिल, अंकित शर्मा आदि शामिल रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Eknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयबीजेपी नेता कपिल मिश्रा को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा - 'हम तुम्हें जीने नहीं देंगे'हैदराबाद के एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे RCP सिंह तो BJP में शामिल होने की लगने लगी अटकलें, भाजपा ने कही ये बातप्रदेश के भोपाल, इंदौर समेत 11 नगर निगमों में मतदान 6 को, चुनावी शोर थमाकानपुर मेट्रो: टनल बनाने का काम शुरू, देश को समर्पित करने के विषय में मिली ये जानकारीउदयपुर कन्हैया हत्याकांड का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर युवक गिरफ्तारवरिष्ठता क्रम सही करने आरक्षकों की याचिका पर विभाग को 21 दिन में निर्णय लेने का आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.