23 हजार परिवार खरीदकर पी रहे 1.50 करोड़ का पानी

नपा की सह पर बढ़ते जा रहे पानी के कारोबारी

By: Rajeev Goswami

Published: 17 Jun 2020, 11:33 PM IST

रामू तोमर गोहद. भिण्ड जिले के गोहद नगर में पानी की समस्या अफसरों और राजनेताओं से जुड़े लोगों के लिए फलदायी साबित हो रही है। डेढ़ लाख की आबादी वाले इस नगर में करीब 23 हजार परिवार हर महीने लगभग 1.15 करोड़ रुपए का पेयजल हर महीने खरीदने को विवश हैं। जिले में भिण्ड के बाद गोहद दूसरा बड़ा नपा क्षेत्र है जहां शासन स्तर पर पेयजल आपूर्ति के लिए प्रतिवर्ष करोड़ों रुपए का बजट उपलब्ध कराया जाता है। बावजूद इसके पेयजल समस्या कम नहीं हो पा रही है, क्योंकि शासन की धनराशि का क्रियान्वयन अधिकांशत: कागजों में ही कर दिया जाता है। नगर पालिका गोहद क्षेत्र में कुल 18 वार्ड हैं, जिनमें से 8 वार्डों में पेयजल संकट बना हुआ है। उल्लेखनीय है कि वार्ड क्रमांक 02, 03, 04, 05, 15, 16, 17 एवं 18 में या तो लोग प्राइवेट टैंकर चंदा कर प्रति दिन मंगवा रहे हैं या फिर निजी बोर से कनेक्शन लेकर हर माह करीब 500 रुपए महीने की दर पर पानी खरीद रहे हैं। जबकि नगर पालिका द्वारा नगर में लगभग 450 हैंडपंप संचालित हैं, बल्कि 10 बोर भी चालू हैं जिनमें मोटर के माध्यम से अलग-अलग चार जोन बनाकर पानी सप्लाई कराई जा रही है। बावजूद इसके लोगों तक पूरी तरह से पानी नहीं पहुंच रहा है।

नगर में बढ़ रही वाटर सप्लायर्स की संख्या

न गर में पानी कारोबारियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। निजी बोर संचालक तथा टैंकरों के माध्यम से पानी सप्लाई करने वाले कारोबारियों से नपा की ओर से न तो किसी प्रकार का कर वसूल किया जा रहा है और न ही उन पर मनमाने ढंग से वसूली पर अंकुश लगाने की कार्रवाई की जा रही है। नगर में करीब 24 टैंकरों के माध्यम से पानी सप्लाई देने वाले कारोबारी हैं।

बोर संचालक हर कनेक्शन के वसूल रहे 500 रुपए

न गर में करीब 50 बोर प्राइवेट रूप से उत्खनन कर लिए गए हैं। बोर संचालक प्रति कनेक्शन धारक से 500 रुपए हर महीने वसूल कर रहे हैं। नगर में करीब 23 हजार परिवार ऐसे हैं जिनकी पेयजल आपूर्ति निजी बोर संचालक कर रहे हैं। नपा द्वारा लोगों को पेयजल सुविधा सहज मुहैया नहीं करा पाने से परेशान लोग मजबूरन महंगा पानी खरीद रहे हैं।

Rajeev Goswami
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned