script विधायक को गिरफ्तार करने के लिए निकाला वारंट, फिर आई ये खबर | Bhind MLA Narendra Singh Kushwaha gets relief from High Court | Patrika News

विधायक को गिरफ्तार करने के लिए निकाला वारंट, फिर आई ये खबर

locationभिंडPublished: Jan 05, 2024 09:03:41 pm

Submitted by:

deepak deewan

एमपी के एक विधायक पर धमकाने और मारपीट करने का आरोप लगा। उनका केस कोर्ट में भी चला गया। भाजपा के इस विधायक के खिलाफ एमपी-एमएलए कोर्ट में सुनवाई हुई पर वे उपस्थित ही नहीं हुए जिसपर कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया। विधायक तब उच्च न्यायालय पहुंच गए जहां से उन्हें अच्छी खबर मिली। उच्च न्यायालय ने विधायक के गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दी है।

bhindmla.png
उच्च न्यायालय ने विधायक के गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दी

एमपी के एक विधायक पर धमकाने और मारपीट करने का आरोप लगा। उनका केस कोर्ट में भी चला गया। भाजपा के इस विधायक के खिलाफ
एमपी-एमएलए कोर्ट में सुनवाई हुई पर वे उपस्थित ही नहीं हुए जिसपर कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया। विधायक तब उच्च न्यायालय पहुंच गए जहां से उन्हें अच्छी खबर मिली। उच्च न्यायालय ने विधायक के गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दी है।

यह मामला भिंड के भाजपा विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह का है जिन्हें हाईकोर्ट ने बड़ी राहत दी है। हाईकोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने विधायक नरेंद्रसिंह कुशवाह की गिरफ्तारी के लिए जारी वारंट पर रोक लगाते हुए उन्हें आठ जनवरी को कोर्ट के समक्ष पेश होने को भी कहा है।

यह भी पढ़ें पंडित प्रदीप मिश्रा के अगले चार कार्यक्रम, जानिए किन शहरों में होगी कथा

जबलपुर हाईकोर्ट ने शुक्रवार को आनलाइन सुनवाई के बाद भिंड से भाजपा विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह को यह राहत दी है। यह मामला 8 वर्ष पुराना है। उनपर आरोप है कि सन 2015 में उन्होंने जिला पंचायत वार्ड-एक बाराकलां से बसपा प्रत्याशी बाबूराम जामौर से मारपीट की। आरोप लगा कि वे कलेक्ट्रेट कैंटीन से जामौर को अपनी कार में जबरदस्ती बैठाकर ले गए। उनको धमकाया, चुनाव नहीं लड़ने की चेतावनी दी और मारपीट की।

यह भी पढ़ें: सीएम के प्रोग्राम के बाद कलेक्टर की तबियत बिगड़ी, ICU में भर्ती

एमपी-एमएलए कोर्ट ने जारी किया गिरफ्तारी वारंट
इस केस में 27 दिसंबर को एमपी-एमएलए कोर्ट में सुनवाई थी लेकिन कुशवाह उसमें नहीं आए। उनके अधिवक्ता ने बताया कि विधायक की तबीयत खराब है। इस पर कोर्ट ने नाराजगी दिखाते हुए विधायक का गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया।

यह भी पढ़ें: इस बड़े स्कूल में पढ़ाई, खाना, रहना, यूनिफार्म सब मुफ्त

हाईकोर्ट ने दी राहत
कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी करने के साथ ही उनकी गिरफ्तारी के लिए भी ग्वालियर और भिंड एसपी को निर्देश दे दिए थे। इसके बाद विधायक कुशवाह ने जबलपुर हाईकोर्ट में याचिका दायर की। शुक्रवार को मामले में सुनवाई के बाद हाईकोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दी।

ट्रेंडिंग वीडियो