अस्पताल में महिला विशेषज्ञ नहीं होने से नर्सें कर रहीं डिलेवरी, ग्रामवासी परेशान

अमायन में स्वास्थ्य सुविधाओं के नाम पर कुछ नहीं, इलाज कराने भिंड आते हैंं लोग।

By: Rajeev Goswami

Published: 07 Mar 2020, 10:30 PM IST

अमायन। जिले के अमायन में लोग स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव में जीवन गुजारने को मजबूर हैं। अमायन क्षेत्र का एकमात्र सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एक ही डॉक्टर के भरोसे चल रहा है, जिससे मरीजों को उचित इलाज नहीं मिल पा रहा है, वहीं महिलाओं के लिए स्त्री रोग विशेषज्ञ का नहीं होना प्रसूताओं के लिए जोखिम भरा है। ऐसे में अमायन क्षेत्र में निवास करने वाले कई गांवों के लोगों को इलाज के लिए भिंड व मेहगांव का रुख करना पड़ता है, जिससे कभी-कभी देरी से इलाज मिलने के कारण जान का खतरा बढ़ जाता है। लोगों का कहना है कि डॉक्टरों को लेकर कई बार शिकायत कर चुके हैं, लेकिन इसके बावजूद भी कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है।

अमायन में स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण 2004 में कराया गया, ताकि अमायन क्षेत्र में निवास करने वाली लगभग 40 हजार की आबादी को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकें। स्वास्थ्य केंद्र पर दो ड़ॅाक्टर व एक स्त्री रोग विशेषज्ञ की नियुक्ती होनी थी, लेकिन निर्माण कराए जाने के तत्काल बाद से लेकर अभी तक वहां न तो दूसरे डॉक्टर की व्यवस्था की गई और न ही कोई स्त्री रोग विशेसज्ञ को ही तैनात किया गया। चिकित्सकों के अभाव में मरीजों को परेशानी उठानी पड़ रही है। उन्हें इलाज कराने के लिए भिंड या मेहगांव का रुख करना पड़ रहा है, वहीं स्वास्थ्य केंद्र पर प्रतिदिन 2-3 महिलाओं की डिलीवरी की जाती है। कोई महिला रोग विशेषज्ञ न होने की वजह से डिलेवरी के लिए नर्सों पर ही निर्भर होना पड़ता है। ऐसे में गंभीर स्थिति होने पर डिलेवरी के दौरान प्रसूताओं को जान का खतरा बढ़ जाता है। स्थानीय लोगों द्वारा स्वास्थय विभाग से निरंतर गुहार लगाए जाने के बावजूद भी मरीजों के लिए चिकित्सक की नियुक्ति नहीं की जा रही है।

नर्सों के भरोसे चल रहा स्वास्थ्य केंद्र

अमायन स्वास्थ्य केंद्र पर एक ही डॉक्टर पदस्थ है, जिनका निवास मेहगांव में हैं और वहीं से रोज आवागमन करते हैं। वहां कभी चिकित्सक समय पर नहीं पहुंचते हैं या वह छुट्टी चले पर चले जाते हैं तो स्वास्थ्य केंद्र में कोई नहीं रहता है। ऐसे में अधिकांश समय नर्सों के भरोसे ही स्वास्थ्य केंद्र का संचालन किया जा रहा है।

ज"ाा और ब"ाा दोनों को रहता है खतरा

अमायन स्वास्थ्य केंद्र पर बेहतर इलाज की व्यवस्था नहीं होने के चलते स्थानीय निवासियों ने स्वास्थ्य केंद्र पर इलाज की उम्मीद लगाना भी बंद कर दी है। अधिकांश लोग उपचार कराने भिंड या मेहगांव ही जाते हैं। प्रसूति के लिए महिला विशेषज्ञ नहीं होने की वजह से ’यादातर लोगों को भिंड डिलेवरी कराने आना पड़ रहा है, वहीं पहले भी एक महिला को डिलेवरी के समय भिंड लाने के दौरान रास्ते में ही अपनी जान गंवानी पड़ी थी।

Rajeev Goswami
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned