प्रेमिका ने मिलने से किया मना तो मंगेतर को उतारा था मौत के घाट, अब जेल में गुजरेगी जिदंगी

प्रेमिका
ने मिलने से किया मना तो मंगेतर
को उतारा था मौत के घाट,
अब जेल में
गुजरेगी जिदंगी
logo

प्रेमिका के मंगेतर की हत्या, आरोपी को उम्रकैद पांच हजार एवं तीन हजार का अर्थदंड भी लगाया

भिण्ड. जिला एवं सत्र न्यायाधीश तारकेश्वर सिंह ने प्रेमिका के मंगेतर की हत्या के आरोपी को दोष सिद्ध पाते हुए आजीवन कारावास तथा अलग-अलग धाराओं में पांच व तीन हजार रुपए का अर्थदंड भुगताए जाने का फैसला सुनाया है।

जिला अभियोजन अधिकारी प्रवीण दीक्षित एवं विशेष लोक अभियोजक बीरेंद्र सिंह भदौरिया ने बताया कि फरियादिया रामबेटी के बेटे पंकज की सगाई पावई थाना क्षेत्र के सारूपुरा निवासी महाराज सिंह की बेटी रंजना से
17 फरवरी 2015 को तय हुई थी। रंजना का पहले से ही अपने ही गांव के शैलू उर्फ शैलेंद्र उर्फ जुझार सिंह पुत्र कमलेश जाटव के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था।

 आरोपी शैलू उर्फ शैलेंद्र उर्फ जुझार सिंह ने रंजना को धमकी दी थी कि वह उसके मंगेतर को जान से मार देगा। इसके बाद रंजना ने शैलू उर्फ शैलेंद्र से बात करना बंद कर दिया था। इधर गुस्से में आकर शैलू उर्फ शैलेंद्र सिंह ने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर
21 22 अप्रैल 2015 की दरमियानी रात में पंकज की बरोही थाना क्षेत्र अंतर्गत गोली मारकर हत्या कर दी थी। पंकज रामबेटी का इकलौता पुत्र था ऐसे में न्यायालय ने उसके शेष जीवन की देखरेख के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण भिण्ड को प्रतिकर प्रदान करने का आदेश दिया है।


MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned