scriptGNM exam examinees kept copying openly by peeping into each other copy | Live Video : खुलेआम एक-दूसरे की कॉपी में झांककर नकल करते रहे परीक्षार्थी, अफसर बोले- हम तो मदारी के बंदर... | Patrika News

Live Video : खुलेआम एक-दूसरे की कॉपी में झांककर नकल करते रहे परीक्षार्थी, अफसर बोले- हम तो मदारी के बंदर...

जीएनएम परीक्षा : केंद्राध्यक्ष तक बनाया प्राइवेट, जिन महाविद्यालयों के छात्र दे रहे परीक्षा उन्हीं नर्सिंग कॉलेज का स्टाफ केंद्र में कर रहा निरंकुश भ्रमण

भिंड

Published: March 28, 2022 07:14:24 pm

भिण्ड. जिला मुख्यालय पर जनरल नर्सिंग एण्ड मिडवाइफरी की परीक्षा नियमों को ताक पर रखकर कराई जा रही है। इसमें नकल माफिया का नकल कराने का मंसूबा भी सफल होता नजर आ रहा है। सोमवार की सुबह जीएनम की परीक्षा का पहला पेपर एक प्राइवेट विद्यालय में कराया गया।
Live Video : खुलेआम एक-दूसरे की कॉपी में झांककर नकल करते रहे परीक्षार्थी, अफसर बोले- हम तो मदारी के बंदर...
Live Video : खुलेआम एक-दूसरे की कॉपी में झांककर नकल करते रहे परीक्षार्थी, अफसर बोले- हम तो मदारी के बंदर...
उल्लेखनीय है कि नकल कराने की मंसूबे को प्राथमिकता पर रखते हुए परीक्षा प्रबंधन के जिम्मेदारों ने जीएनम परीक्षा के लिए न तो शासकीय विद्यालय भवन चुना और न ही उसमें केंद्रध्यक्ष सरकारी विद्यालय का प्राचार्य बनाया। लिहाजा अपनी ढपली अपरा राग अलापा जा रहा है। सोमवार को परीक्षा भवन के अंदर करीब डेढ़ दर्जन नर्सिंग कॉलेजों के ६०० परीक्षार्थियों ने एक ही छत के नीचे प्रश्न पत्र हल किए। अनुदान प्राप्त जनता बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भवन में इसी विद्यालय के शिक्षक रविकांत शर्मा को केंद्राध्यक्ष बनाया गया है।
एक ही भवन के अंदर सटकर टाटपट्टी पर बैठाए गए परीक्षार्थी एक-दूसरे की उत्तर पुस्तिका देखकर खुले तौर पर नकल करते देखे गए। इसके अलावा अलग से नकल मुहैया कराने के लिए पूर्व नियोजित ढंग से प्राइवेट लोगों को परीक्षा कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। यही वजह है कि परीक्षा भवन में सरकारी बॉडी का कोई नुमाइंदा नजर नहीं आ रहा। बता दें कि परीक्षा में ज्यादातर परीक्षार्थी उत्तर प्रदेश, राजस्थान एवं बिहार जैसे बाहरी राज्यों से हैं।
60 से 70 हजार रुपए सालान फीस अदा करते हैं

उल्लेखनीय है कि सालाना ६० से ७० हजार रुपए कॉलेज को फीस अदा करने के बावजूद उन्हें परीक्षा के लिए फर्नीचर तक उपलब्ध नहीं कराया गया। लिहाजा उन्हें जमीन पर बिछी टाटपट्टी पर बैठकर प्राथमिक एवं माध्यमिक कक्षा के बच्चों की तरह परीक्षा देनी पड़ रही है। सूत्रों की मानें तो परीक्षार्थियों ने इस अव्यवस्था का विरोध इसलिए नहीं जताया क्योंकि उन्हें नकल कराने का आश्वासन प्रबंधन की ओर से दिया गया है।
नोडल अधिकारी बोले साहब.. क्या करें हम तो मदारी के बंदर हैं

जीएनएम परीक्षा में अनियमितता व अव्यवस्था पर जब पत्रिका ने नोडल अधिकारी संजय गुप्ता से बातचीत की तो उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा हम क्या कर सकते हैं। साहब हम तो मदारी के बंदर हैं। न तो वे अव्यवस्था को दुरुस्त किए जाने पर कुछ कह पाए और न ही परीक्षा में नकल कराए जाने के दिए जा रहे अवसर पर अपनी जुबान खोल पाए। बार-बार यही कहते रहे कि यह भिण्ड है आप भी जानते हैं।
ऑब्जर्वर टीम भेजकर जानकारी ली गई है। जीएनएम परीक्षा में अनियमितता व अव्यवस्था के लिए मध्यप्रदेश नर्सिंग कॉउंसिल भोपाल के लिए कार्रवाई प्रस्तावित की है।
डॉ. सतीश कुमार एस, कलेक्टर भिण्ड

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

भीषण गर्मी : देश में 140 में से 60 बड़े बांधों का पानी घटा, राजस्थान के भी तीन बांधमंकीपॉक्स पर WHO की आपात बैठक में अहम खुलासा: यूरोप में अब तक 100 से अधिक मामलों की पुष्टि, जानिए 10 अपडेटJNU कैंपस में एमसीए की छात्रा से रेप, आरोपी छात्र गिरफ्तारकैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में बोले राहुल गांधी, भारत में ठीक नहीं हालात, BJP ने चारों तरफ केरोसिन छिड़क रखा हैकर्नाटक में बड़ा हादसाः बारातियों से भरी गाड़ी पेड़ से टकराई, 7 की मौत, 10 जख्मीजल्द ही कमर्शियल फ्लाइट्स शुरू करेगा जेट एयरवेज, DGCA ने दी मंजूरीमाता वैष्णो देवी के प्रमुख पुजारी अमीर चंद का निधन, जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल सहित कई नेताओं ने जताया दुखज्ञानवापी मस्जिद केसः प्रोफेसर रतन लाल की गिरफ्तारी पर हंगामा, DU में छात्रों का प्रदर्शन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.