बीमारियों से कैसे बचे, लोगों को जागरूक करने का है ये नायाब तरीका

shyamendra parihar

Publish: Sep, 16 2017 04:54:07 (IST)

Bhind, Madhya Pradesh, India
बीमारियों से कैसे बचे, लोगों को जागरूक करने का है ये नायाब तरीका

भिण्ड. शहर के सभी धार्मिक स्थलों पर स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा शुक्रवार को चिकनगुनिया, मलेरिया, स्वाइन फ्लू, डेंगू आदि मौसमी बीमारियों के लक्षण और

भिण्ड. शहर के सभी धार्मिक स्थलों पर स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा शुक्रवार को चिकनगुनिया, मलेरिया, स्वाइन फ्लू, डेंगू आदि मौसमी बीमारियों के लक्षण और उनसे बचाव के उपायों के बारे में जागरूकता अभियान चलाया गया। मंदिरों के पुजारियों और मस्जिदों के पेशइमाम को भी उक्त जानकारियां दी गईं तथा उनसे अपील की गई कि वे धार्मिक स्थलों पर आने वाले श्रद्धालुओं और जनसामान्य को इन बीमारियों से बचाव के बारे में जागरूक करें।

डॉ. अवधेश सोनी, जिला महामारी विशेषज्ञ ने भ्रमण के दौरान शहर विभिन्न धार्मिक स्थलों पर सम्पर्क कर, उनसे अपील की कि वे धार्मिक कार्यक्रमों के दौरान जनसामान्य को चिकुनगुनियॉ, मलेरिया, स्वाइन फ्लू, डेंगू मौसमी बीमारियों के लक्षण और उनसे बचाव के उपाय आमजनों को बताएं, ताकि वे इन बीमारियों से बच सकें एवं स्वस्थ्य रह सकें। इस मौके पर उनको पब्लिक में वितरण के लिए पैम्प्लेट भी दिए गए। डॉ. सोनी ने बताया कि पूर्व में ही जिला स्तर से जारी किए गए हेल्पलाइन नं.-98937-33695, 94247-58465 पर लोगों द्वारा जानकारी ली जा रही है। प्रतिदिन 5-6 कॉल जानकारी हेतु आ रहे हंै।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, डॉ. जेपीएस कुशवाह द्वारा बताया गया कि अगर किसी ब्यक्ति में इन बीमारियों सम्बंधित लक्षण दिखाई दें तो वे तुरंत अपने नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र/जिला चिकित्सालय पर चिकित्सक के मार्गदर्शन में उपचार लेना शुरू करें। ग्रसित व्यक्ति खांसते छींकते समय नाक मुंह को कपड़े ढांक कर रखें एवं नाक मुंह को छूने पहले एवं बाद में हाथों को साबुन से धोएं एवं भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से परहेज करें एवं पूरी नींद लें और सेहतमंद खाना खाऐं।

 

 

 

यह भी पढ़ें

 

 

 

मां को दें पोषणयुक्त आहार

भिण्ड. जनपद पंचायत अध्यक्ष संजू गजराज जाटव शुक्रवार को ग्राम पंचायत बिलाव के आंगनबाड़ी केन्द्र पर आयोजित स्नेह शिविर में पहुंचीं। उन्होंने वहां अपने नन्हे बच्चों के साथ माताओं व बच्चों से भी मुलाकात की। उन्होंने कुपोषित बच्चों को दुलारा तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व माताओं को उन्हें पोषणयुक्त आहार देने की सलाह दी। उन्होंने माताओं से कहा कि हृष्ठपुष्ठ बच्चे ही एक स्वस्थ राष्ट्र का भविष्य होते हैं इसलिए बच्चों के खानपान व पोषण पर विशेष ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है। राज्य सरकार आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से तथा विविध अन्य कार्यक्र मों के जरिए इसके लिए विशिष्ट प्रयास कर रही है।

 


सीएमओ ने झाडू लगाकर की स्वच्छता पखवाड़े की शुरूआत

फूप . नगर पंचायत क्षेत्र फूप में शुक्रवार से स्वच्छता पखबाड़े की शुरूआत अध्यक्ष एवं सीएमओ ने झाडू लगाकर की। इस अवसर पर नप कर्मियों के अलावा बड़ी संख्या मेंं ग्रामीण भी मौजूद थे।

अध्यक्ष संतोष शर्मा तथा सीएमओ सियाशरण यादव ने वार्ड नं 12 में पहुंच कर गलियों में झाडू लगाई तथा आम लोगों को स्वच्छता अपनाने की ओर प्रेरित किया। अध्यक्ष ने बताया कि आसपास का परिवेश स्वच्छ रखकर कई प्रकार की बीमारियों से बचा जा सकता है।

इनमें मलेरिया, डेंगू, हैजा, स्वाइन फ्लू, हैजा, डायरियां आदि शामिल है। उन्होंने कहा कि खुले मेंं शौच न जाए शौचालय का उपयोग करें। कचरा को निर्धारित स्थान अथवा कूड़ेदान में ही डाले। पखवाड़ा १५ सितंबर से 2 अक्टूबर गांधी जयंती तक चलेगा। स्थानीय लोगों ने आम जीवन में स्वच्छता अपनाने का संकल्प लिया है।

 

1
Ad Block is Banned