2500 वर्ष के इतिहास में बरासों में पहली बार होगा कलशारोहण

कीर्तिस्तंभ जैन मंदिर में शोभायात्रा के साथ प्रारंभ हुआ समोशरण महामंडल

भिण्ड. भगवान महावीर स्वामी दिगम्बर जैन कीर्ति स्तंभ जैन मंदिर में 16 से 24 दिसंबर तक होने वाले समोशरण महामंडल विधान एवं जैनेश्वरी दीक्षा में बुधवार को प्रथम दिन गणाचार्य विराग सागर के ससंघ सानिध्य में विशाल शोभायात्रा आयोजित की गई। चैत्यालय जैन मंदिर से बैंडबाजों के साथ महिलाएं हाथों में ध्वजा लेकर शोभायात्रा में चलते हुए कीर्तिस्तंभ तक पहुंची। इसके बाद ध्वजारोहण के साथ भगवान का महामस्तकाभिषेक शांतिधारा का आयोजन किया गया।


इस अवसर पर मेडीटेशन गुरु विहसंत सागर ने कहा कि आज शिखर कलशारोहण के पूर्व ध्वजारोहण किया गया, जिसमें ध्वजा का ईसान कोण की तरफ फेहराना बहुत ही शुभ माना जाता है। जो सुख शांति वैभव और कार्यक्रम की सफलता का प्रतीक है। जहां पर भगवान महावीर स्वामी का तीन बार समोशरण आया हो वहां पर 2500 वर्षों के पश्चात शिखर पर कलशारोहण होगा, जिसमें नवीन बेदियों के शिखर पर भी कलश लगाए जाएंगे।


जूम एप के माध्यम से होगा आचार्य का पूजन


38वें मुनि दीक्षा दिवस के अवसर पर जूम ऐप के माध्यम से देश-विदेश के धर्मावलंबी आचार्य विराग सागर का दर्शन करेंगे, जिसमें दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष रामनिवास गोयल, चीफ जस्टिस सिक्किम हाईकोर्ट एवं अध्यक्ष मानव अधिकार आयोग नरेंद्र कुमार जैन, स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन, भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी, पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया, पूर्व शिक्षा मंत्री झारखंड मीरा यादव सहित अन्य लोग जूम ऐप पर उपस्थित रहेंगे।


बरासो में ध्वजारोहण के साथ हुआ याग मंडल विधान


भगवान महावीर स्वामी की समोशरण स्थली अतिशय क्षेत्र बरासो में 2500 वर्र्षों के इतिहास में पहली बार बुधवार को शिखर पर 33 कलशारोहण होगा, जिसमें बुधवार को प्रातकाल भगवान का अभिषेक पूजन घटयात्रा के साथ ध्वजारोहण कर याग मंडल विधान का आयोजन मेडीटेशन गुरु विहसंत सागर के ससंघ सानिध्य में विधानाचार्य अजीत शास्त्री, चन्द्रप्रकाश चंदर ग्वालियर, संदीप शास्त्री मेहगांव द्वारा विधि विधान से विधान का आयोजन किया गया।

महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned