सनसनीखेज : रॉयल्टी के विवाद में भाजपा कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

- भिण्ड जिले के अमायन थाना अंतर्गत गेहेली एवं कनाथर के बीच हुई वारदात

By: हुसैन अली

Published: 05 Mar 2021, 10:35 PM IST

मेहगांव (भिण्ड). भिण्ड जिले के अमायन थाना अंतर्गत गेहेली एवं कनाथर के बीच भाजपा मंडल कोषाध्यक्ष व रेत कारोबारी की 04 एवं 05 मार्च की दरमियानी रात में गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक का एक साथी भी पैर में गोली लगने से घायल है, जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने हत्या एवं हत्या के प्रयास के तहत केस दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए हैं।

पुलिस के मुताबिक आधी रात के वक्त भाजपा मंडल कोषाध्यक्ष एवं रेत कारोबारी 29 वर्षीय रॉकी गुर्जर पुत्र मजबूत सिंह गुर्जर निवासी मेहगांव अमायन क्षेत्र की खदान से अपने ट्रैक्टर ट्रॉली में रेत भरकर ला रहा था। बताया गया है कि रॉयल्टी नहीं देने की नीयत से वह चेक नाके को बचाते हुए गांवों के रास्ते होकर ट्रैक्टर ट्रॉली निकाल ले गया। उसके साथ ट्रैक्टर पर एक अन्य साथी 28 वर्षीय समरथ सिंह तोमर पुत्र अर्जुन सिंह तोमर निवासी हंसपुरा हाल गोरमी रोड मेहगांव भी सवार था। उधर चेक नाके पर यह सूचना पहुंच गई कि एक ट्रैक्टर बिना रॉयल्टी के ही गांव के रास्ते से निकल गया है।

ऐसे में नाके पर तैनात कर्मी विनोद मद्रासी के अलावा उसके दो अन्य साथी बलदेव सिंह राजपूत निवासी मेहरा अमायन एवं प्रदीप सिंह गुर्जर निवासी छैंकुरी मौ उक्त ट्रैक्टर को पकडऩे के लिए रवाना हो गए। पुलिस की मानें तो गहेली के पास ट्रैक्टर को पकड़ लिया गया। रॉकी गुर्जर से विनोद मद्रासी रॉयल्टी को लेकर बात कर रहा था, इस दौरान दोनों के बीच हाथापाई होते देखे बलदेव सिंह राजपूत व प्रदीप गुर्जर ने फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से रॉकी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि समरथ सिंह पैर में गोली लगने से घायल हो गया। वारदात के बाद तीनों ही आरोपी फरार हो गए।

नगर परिषद अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लडऩे की तैयारी कर रहा था

बता दें कि रॉकी गुर्जर भाजपा का मंडल कोषाध्यक्ष था जो नगरीय निकाय चुनाव में मेहगांव से नगर परिषद अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लडऩे की तैयारी कर रहा था। विदित हो कि नगर परिषद अध्यक्ष सीट पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित कर दी गई है। लिहाजा अध्यक्ष पद के लिए गुर्जर समुदाय के अलावा राठौर एवं मुस्लिम समाज के लोग भी उम्मीदवारी जता रहे हैं।

संभाले हुए था सात सदस्यीय परिवार के लालन पालन का जिम्मा

रॉकी गुर्जर अपने-बुजुर्ग मां-बाप व भाई रिंकू गुर्जर के अलावा पत्नी तथा तीन वर्षीय बेटे और दुधमुही छह माह की बेटी के लालन पालन की जिम्मेदारी संभाल रहा था। एक तीन साल का बेटा व बेटी छह माह की है। पिछले कुछ समय से वह रेत के कारोबार से जुड़ गया था। बता दें कि एक ट्रॉली पर करीब तीन हजार रुपए रॉयल्टी अदा करनी होती है जिसे बचाकर ज्यादा मुनाफा कमाने के लालच ने यह जानलेवा विवाद उत्पन्न किया।

तमाम कोशिशों के बाद भी नहीं रुक पा रही रॉयल्टी की चोरी

विदित हो कि जिले की विभिन्न रेत खदानों पर पॉवरमेक कंपनी का ठेका है। करोड़ों रुपए में ली गई रेत खदानों पर सीधे तौर पर रेत भरकर बिना रॉयल्टी चुकाए रेत का परिवाहन हो रहा है। जगह-जगह चेक नाके लगाने के बावजूद रॉयल्टी चोरी की जा रही है। पुलिस एवं प्रशासन द्वारा तमाम प्रयास के बावजूद रॉयल्टी चोरी पर अंकुश नहीं लग पा रहा है।

संगठन का कर्मठ कार्यकर्ता था। उसके परिवार की आजीविका के लिए शासन के अलावा पॉवरमेक कंपनी की ओर से भी आर्थिक सहायता दिलाएंगे।

चौधरी मुकेश सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष भाजपा

कर्मचारियों को रॉयल्टी चेक करने भर के निर्देश हैं। मारपीट, झगड़ा या अन्य प्रकार का अपराध करने की इजाजत कंपनी नहीं देती। जिसने भी अपराध किया है उसे कानूनन सजा मिलनी चाहिए।
व्हीके रेड्डी, प्रबंधक पॉवरमेक कंपनी

वारदात में तीन आरोपी नामजद हुए हैं जिसमें एक पॉवरमेक कंपनी कर्मी है। केस दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। आरोपियों की गिरफ्तारी के भी निर्देश दिए गए हैं।

मनोज कुमार सिंह, एसपी भिण्ड

हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned