महिला ने प्रेम प्रस्ताव ठुकराया तो युवक ने उसके बेटे की हत्या कर कुएं में फेंक दी लाश

सनसनीखेज : 5 जुलाई की शाम 7 बजे किया था अपहरण, आरोपी गिरफ्तार

By: हुसैन अली

Published: 07 Jul 2020, 10:49 PM IST

लहार. लहार कस्बे के महाराणा प्रताप चौराहे के निकट किराए के आवास में अपने पति व बच्चों के साथ रह रही 30 वर्षीय महिला को सिरफिरे युवक का प्रेम प्रस्ताव ठुकराना महंगा पड़ गया। युवक ने महिला के इनकार को अपना अपमान समझकर न सिर्फ महिला के आठ वर्षीय मासूम बच्चे का अपहरण किया बल्कि उसका गला दबाकर हत्या करने के उपरांत शव को कुएं में फेंक दिया। पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

एसडीओपी डीएस बैस के अनुसार अमर सिंह पुत्र खडक़ सिंह दोहरे निवासी मेहरा बुजु्रर्ग हाल महाराणा प्रताप चौराहे के पास लहार का आठ वर्षीय बेटा सुमित गत ०५ जुलाई की शाम रहस्यमयी ढंग से लापता हो गया था। सुमित अपने पिता अमर सिंह के घर के पास ही स्थित चौराहे पर चाऊमीन व पैटीस के ठेले पर बैटरी देने के लिए गया था जहां से लौटने के दौरान उसका अपहरण कर लिया गया। आधे घंटे में ही बच्चे का गला दबाकर हत्या करने के बाद उसका शव महाराणा प्रताप चौराहे से करीब आधा किमी दूर स्थित कुए में फेंक दिया था।

पुलिस से बोला आरोपी : बच्चे को मारकर लिया अपमान का बदला

एसडीओपी डीएस बैस के मुताबिक आरोपी मान सिंह बघेल निवासी मेहराबुजुर्ग का ही रहने वाला है। पुलिस को पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि कुछ दिन पूर्व मृतक बालक सुमित की मां राजकुमारी के समक्ष उसने प्रेम का प्रस्ताव रखा था जिसे न सिर्फ महिला ने ठकुरा दिया बल्कि उसे अपमानित भी किया था। बदला लेने के लिए सुमित की हत्या कर दी।

ठेला लगाकर परिवार पाल रहे अमर सिंह का नहीं था किसी से बैर

ठेला लगाकर परिवार का लालन पालन कर रहे अमर सिंह दोहरे के अनुसार उसका गांव से लेकर लहार कस्बे तक किसी से बैर नहीं है। बावजूद इसके उसके बेटे की हत्या इतनी बेरहमी से क्यों कर दी गई, इस पर वह हैरत कर रहा था। उल्लेखनीय है कि कोरोना माहमारी फैलने से पूर्व अमर सिंह ग्वालियर में परिवार सहित रहकर चाऊमीन व पैटीस का ठेला लगा रहा था। कोरोना संक्रमण के बाद शुरू हुए लॉकडाउन में वह गृहगांव मेहराबुजुर्ग आ गया था, जहां लहार कस्बे में किराए का घर लेकर उसने पुन: अपना धंधा शुरू कर दिया था। मृतक सुमित अमर सिंह का मझला बेटा था जबकि बड़ा 11 वर्षीय विकास एवं सबसे छोटा पांच वर्षीय अमित है।

कुएं से उठ रही थी सड़ांध, कोई तैयार नहीं हुआ तो आरक्षक उतरे

उल्लेखनीय है कि दो दिन और दो रात से कुएं में पड़े बच्चे का शव सडऩे लगा था। ऐसे में जब आरोपी मान सिंह की निशानदेही पर पुलिस उस कुएं तक पहुंची तो इतनी सड़ांध उठ रही थी कि बच्चे का शव निकालने के लिए कोई भी उतरने को तैयार नहीं था। ऐसे में आरक्षक शैलेंद्र राजावत एवं विशाल सिंह कुएं में उतरकर शव निकाल लाए। इस दौरान एसपी मनोज कुमार सिंह भी मौके पर पहुंच गए थे, जिन्होंने आरक्षकों के कार्य की सराहना की है।

बच्चे का अपहरण कर हत्या करने के आरोपी युवक को पकड़ लिया गया है। फिलहाल उसने अपमान का बदला लेने वारदात करना स्वीकारा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
पीके चतुर्वेदी, थाना प्रभारी लहार

हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned