7 दुकानों में सेंध लगाकर लाखों का माल चोरी

आक्रोशित व्यापारियों ने लगाया जाम, अफसरों ने दिया आश्वासन तो खोला जाम

By: Rajeev Goswami

Published: 03 Jan 2019, 03:16 PM IST

भिण्ड. शहर के विकास मार्केट में सेंध लगाकर चोर एक लाइन में स्थित सात दुकानों से कपड़े, जूते, हॉजरी तथा सोने, चांदी के गहनों सहित २.५० लाख का माल समेट ले गए। घटना से गुस्साए व्यापारियों ने लश्कर रोड पर जाम लगा दिया। मौके पर पहुंचे विधायक संजीव सिंह कुशवाह, प्रभारी एसपी गुरकरन सिंह व सीएसपी आलोक शर्मा ने भविष्य में दुकानों की सुरक्षा तथा चोरी को शीघ्र ट्रेस कर लिए जाने का भरोसा दिलाने का आश्वासन देकर जाम खुलवाया।

जानकारी के अनुसार चोर गिरोह ने सबसे पहले सीढ़ी की दीवार तोडक़र व्यापारी धर्मेंद्र सोनी की ज्वैलर्स और साड़ी की दुकान को निशाना बनाया जहां से ५० हजार से ज्यादा का माल ले गए हैं। उसके बाद एक के बाद एक दीवार तोडक़र अमित जैन की रेडीमेड की दुकान से १० हजार के कपड़े, दीपक कुमार जैन की हॉजरी की दुकान से २५ हजार से ज्यादा का माल, गजेंद्र सिंह राजावत की रेडीमेट तथा बंटी भदौरिया की हॉजरी की दुकान से ३० हजार से ज्यादा का सामान, अमित कुमार की शूज की दुकान से छह हजार से अधिक, देवदत्त सोनी की ज्वॅलर्स की दुकान से एक लाख से अधिक के गहने समेट ले गए।

लश्कर रोड पर जाम

एक साथ सात दुकानों में हुई चोरियों से गुस्साए व्यापारियों ने लश्कर रोड पर बाइक और कटे हुए वृक्ष का तना रखकर जाम लगा दिया है। ऐसे में प्रभारी एसपी गुरकरन सिंह व सीएसपी आलोक शर्मा करीब आधा सैकड़ा जवानों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। जहां व्यापारियों को सुरक्षा मुहैया कराने का आश्वासन देकर जाम खुलवाया। उन्होंने बताया कि वे विकास मार्केट के पास एक्स्ट्रा प्वॉइंट बनाएंगे एवं चोरी की वारदात को ट्रेस करने के लिए विशेष टीम गठित करेंगे। इस मौके पर विधायक संजीव सिंह कुशवाह ने व्यापारियों को पूरी सुरक्षा जिम्मेदारी पूर्वक मुहैया कराने की बात पुलिस के अधिकारियों के समक्ष रखी। उन्होंने स्वंय दुकानों का मुआयना भी किया।

बीते पांच साल में विकास मार्केट को चोरों ने २३ बार बनाया निशाना

विकास मार्केट में चोर गिरोह वर्ष २०१३ से वारदातों को अंजाम देते आ रहे हैं। हैरानी की बात ये है इस बीच न तो पुलिस सुरक्षा व्यवस्था दे पाई और न दुकानदार ही अपने स्तर पर सुरक्षा के इंतजाम कर पाए। हालांकि कुछ दुकानदारों ने स्वंय की आरसीसी दीवारें दुकान के पीछे निर्मित करवा दीं हैं और लोहे के जाल भी लगवा दिए हैं। पर सभी दुकानदार ऐसा नहीं कर पाए। वारदात के बाद सुबह जमा हुई भीड़ में एक व्यापारी अमित अग्रवाल की जेब काट ली। हालांकि जेब कतरे को मौके पर ही दबोच लिया गया।

डॉग स्क्वायड और फॉरेंसिक टीम ने की पड़ताल, लिए फिंगर प्रिंट

विकास मार्केट में चोरी की वारदात के उपरांत डॉग स्क्वाड तथा फॉरेंसिक टीम ने एक-एक दुकान की स्थिति को बारीकी से स्केन किया। वहीं डॉग सूंघते हुए छत पर जाकर रुक गया। जहां से फॉरेंसिक टीम ने चोरों के फिंगर

प्रिंट लिए। जांच टीम का अनुमान है कि चोर गिरोह में करीब आधा दर्जन सदस्यों के होने का अनुमान है। विकास मार्केट में एक

भी दुकान में सीसी टीवी कैमरा सक्रिय नहीं पाया गया।

&व्यापारी इक_े हुए थे अधिकारियों से बात करने के लिए मौके पर पहुंचकर व्यापारियों की बात सुनी और उन्हें सुरक्षा मुहैया कराने के अलावा वारदात को शीघ्र ट्रेस कर लेने का भरोसा दिलाया है। विकास मार्केट के पास फिक्स प्वॉइंट भी बनाया जाएगा।

गुरकरन सिंह, एएसपी भिण्ड

Rajeev Goswami
और पढ़े
अगली कहानी
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned