वादा खिलाफी करने वालों को सबक सिखाने का वक्त आ गया है

गोहद में आमसभा को संबोधित करते हुए बोले ज्योतिरादित्य सिंधिया

गोहद. वादाखिलाफ करने वालों को सबक सिखाने का वक्त आ गया है। यह बात राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गोहद में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा गोहद क्षेत्र के लिए वृहद सिंचाई परियोजना की सौगात सीएम शिवराज ने दी है। इससे क्षेत्र का किसान खुशहाल होगा।


रणवीर जाटव की ओर इशारा करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि इस नौजवान के सिर से जब वट वृक्ष का साया उठने की दु:खद घड़ी आई उस समय इनकी मां ने आपके सामने झोली फैलाकर आशीर्वाद मांगा था। बदले में आपने भरपूर आशीर्वाद दिया था। उसी आशीर्वाद की फिर जरूरत है। उन्होंने कहा कि सीएम रहते शिवराज सिंह ने 21 हजार रुपए कन्यादान योजना के तहत बेटियों के विवाह के लिए दिए। चुनाव में 51 हजार रुपए देने की घोषणा कमलनाथ ने कर दी। सरकार बनने के बाद बेटियों की शादी हो गई। ससुराल चली गईं, लेकिन उन्हें एक रुपया नहीं दिया गया। इतना ही नहीं बेरोजगार युवाओं को चार हजार रुपए का बेरोजगारी भत्ता देने का वादा किया गया था, लेकिन किसी को धेला नहीं मिला। यह कमलनाथ और दिग्विजय सिंह द्वारा नौजवानों के साथ की गई गद्दारी है। कांग्रेसियों ने प्रदेश की जनता के साथ वादाखिलाफी की है। उन्हें सबक सिखाने का समय आ गया है। वहीं सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि कमलनाथ किसानों के कर्जे की राशि के अलावा मुर्दों के कफन तक के पैसे खा गए। इतना ही नहीं उनकी बहनों के लड्डुओं के पैसे तक नहीं छोड़े। सभा में रणवीर जाटव ने कहा जिस परिवार ने जनता के लिए लगातार संघर्ष किया हो ऐसे ज्योतिरादित्य सिंधिया के व्यक्तित्व का साथ पाकर धन्य हूं। इस मौके पर सीएम शिवराज सिंह ने आजीविका स्वसहायता समूह के लिए 51 हजार रुपए का चेक प्रदान किया।


पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा का हुआ अनावरण


सीएम शिवराज सिंह के साथ राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, डॉ. अरविंद भदौरिया आदि ने संयुक्त रूप से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा का अनावरण किया। इस मौके पर रणवीर जाटव के अलावा अन्य पूर्व विधायक तथा भाजपा पदाधिकारी भी मौजूद रहे। विदित हो कि गोहद में लंबे समय से अटलजी की प्रतिमा लगाए जाने की मांग की जा रही थी जिसे रविवार को मूर्त रूप दे दिया गया।
युवाओं ने भर्ती शुरू कराने और आशा कार्यकर्ताओं ने मांगें निराकृत किए जाने को लेकर किया प्रदर्शन
आमसभा के दौरान जहां नवयुवकों ने मध्य प्रदेश में पुलिस के अलावा अन्य विभागों में भर्ती शुरू किए जाने को लेकर तख्तियां लेकर प्रदर्शन किया वहीं आशा कार्यकर्ताओं ने अपनी लंबित मांगों का निराकरण किए जाने को लेकर आवेदन सभा में लहराए। इस दौरान कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सिंधिया को काले झंडे दिखाने का प्रयास किया जिन्हें मौके पर ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। वहीं अनुसूचित जाति एवं जनजाति विभाग के कर्मचारियों ने वेतन की मांग लेकर ज्ञापन दिया।


भाजपा का चुनाव प्रचार करते नजर आए पुलिसकर्मी


विदित हो कि आमसभा के दौरान कई पुलिसकर्मी भाजपा के रंग में रंगा मास्क लगाकर प्रचार करते नजर आए। मास्क पर न सिर्फ भाजपा प्रत्याशी का फोटो लगा हुआ था बल्कि चुनाव चिन्ह कमल का फूल भी छपा था। हैरत की बात ये है कि यह सब पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के सामने हो रहा था। आमसभा में एसडीओपी से लेकर एएसपी व एसपी तक मौजूद थे। आमसभा में मंच पर मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, डॉ. अरविंद भदौरिया, महापौर मुरैना अशोक अर्गल, पूर्व विधायक रसाल सिंह, चौधरी मुकेश सिंह चतु़र्वेदी, जिलाध्यक्ष नाथू सिंह गुर्जर, नरेंद्र सिंह कुशवाह, राकेश शुक्ला सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।

महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned