मोड़ पर पलटा गर्म डामर से भरा तो चीख उठी मासूम

मोड़ पर पलटा गर्म डामर से भरा तो चीख उठी मासूम

monu sahu | Publish: Jan, 13 2018 05:21:50 PM (IST) Bhind, Madhya Pradesh, India

बेटी की मौत, मां गंभीर, यात्री वाहन के इंतजार में तिराहे पर बैठा था परिवार, तमाम कोशिशों के बाद भी वाहनों की गति पर नहीं लग पा रहा अंकुश

लहार/चोरई. असवार थाना क्षेत्र के ग्राम चोरई में तिराहे पर रोड किनारे बैठे एक परिवार पर अनियंत्रित डंपर पलट गया। गिट्टी व डामर के मिश्रण में दबकर आठ वर्षीय बालिका की मौके पर ही मौत हो गई जबकि उसकी 30 वर्षीय मां को नाजुक हालत में ग्वालियर रैफर किया गया है। हादसे में एक अन्य ४० वर्षीय व्यक्ति भी घायल हो गया है। दुर्घटना शुक्रवार सुबह करीब 10:30 बजे की बताई गई है।

जानकारी के अनुसार असवार के पास स्थित प्लांट से काली गिट्टी व डामर का मिश्रण भरकर एक डंपर दबोह के निकट चल रहे सड़क निर्माण स्थल पर जा रहा था। बताया गया है कि चोरई तिराहे पर चालक ने तेज गति में डंपर को मोड़कर निकालना चाहा तभी डंपर पलट गया। हादसे में रोड किनारे बैठी राधा पुत्री अशोक विश्वकर्मा गर्म मिश्रण के ढेर में दबगई, जबकि तक उसे स्थानीय लोगों की मदद से निकाला गया तब तक उसकी मौत हो गई। वहीं इस दुर्घटना में उसकी मां रचना विश्वकर्मा निवासी मघन थाना मौ एवं एक अन्य व्यक्ति संतोष विश्वकर्मा (४०) निवासी विछोदना भाण्डेर घायल हो गए। संतोष को लहार अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि रचना को नाजुक हालत में ग्वालियर के लिए रैफर किया गया है।

एसपी सहित 4 पुलिस अफसरों के खिलाफ इस्तगासा पेश

भिण्ड. अटेर विधायक हेमंत कटारे को कथित रूप से आरोपी बनाकर चालान न्यायालय में पेश किए जाने के मामले में शुक्रवार को विशेष न्यायालय भिण्ड में एसपी, एएसपी, तत्कालीन एसडीओपी अटेर व तत्कालीन डीएसपी एजेके के खिलाफ इस्तगासा पेश किया गया। न्यायालय ने मामले की जांच डीआईजी चंबल से कराए जाने के आदेश दिए हैं।

फरियादी कल्याण जाटव के अधिवक्ता अशोक सिंह भदौरिया के अनुसार तत्कालीन एसडीओपी अटेर इंद्रवीर सिंह भदौरिया द्वारा अटेर विधायक हेमंत कटारे को अनुसूचित जाति अत्याचार निवारण अधिनियम का सहआरोपी बनाकर न्यायालय में चालान तक पेश कर दिया गया था। इस कारनामें में एसपी प्रशांत खरे, एएसपी राजेंद्र वर्मा व तत्कालीन डीएसपी अजाक की भी सहमति रही। फर्जी तरीके से आरोपी बनाकर चालान न्यायालय में पेश कर दिए जाने पर वरिष्ठ अधिकारियों की कार्य निष्ठा पर भी संदेह जताते हुए फरियादी कल्याण जाटव ने इस्तगासा पेश किया है। जिस पर विशेष न्यायाधीश योगेश कुमार गुप्ता ने मामले की जांच डीआईजी चंबल से कराए जाने के आदेश दिए हैं।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned