दर्दनाक : दुल्हन की हाथ की मेहंदी भी नहीं छूटी, 28 दिन में ही उजड़ गया सुहाग

चंबल नदी में डूबने से दो की मौत, शादी के २६ दिन बाद अपने दोस्तों को लेकर ननिहाल घूमने गया था राजू

By: हुसैन अली

Published: 28 May 2021, 11:04 PM IST

भिण्ड. नौतपा की गर्मी से राहत पाने चंबल नदी के ठंडे पानी में नहाने के लिए गए चार युवक डूब गए। इनमें से दो युवकों को स्थानीय ग्रामीणों ने पानी से बाहर सुरक्षित निकाल लिया। शेष दो में से एक युवक का शव बाहर आ गया है जबक दूसरे शव की तलाश में रेस्क्यू किया जा रहा है। हादसा अटेर के जैतपुर घाट पर निर्माणाधीन पुल के पास 28मई की दोपहर करीब ढाई बजे हुआ। जानकारी के अनुसार 20 वर्षीय अर्जुन राठौर पुत्र राजबहादुर राठौर, 22 वर्षीय राजू पुत्र श्रीपाल राठौर निवासीगण अंबाह मुरैना, 23 वर्षीय बृज राठौर पुत्र मुकेश राठौर निवासी गुडग़ांव दिल्ली एवं २२ वर्षीय रामनिवास राठौर पुत्र शोभाराम राठौर निवासी हिम्मतपुरा नहाने के लिए गए चंबल नदी में उतर गए। देखते ही देखते वह डूब गए। इस दौरान स्थानीय लोगों ने उन्हें डूबते देखा तो बचाने के लिए छलांग लगा दी। नतीजतन बृज राठौर व रामनिवास राठौर को चंबल नदी से बाहर सुरक्षित निकाल लिया गया जबकि राजू राठौर एवं अर्जुन राठौर की मौत हो गई। प्रशासन द्वारा शुरू किए गए रेस्क्यू में अर्जुन राठौर का शव मिल गया है जबकि राजू राठौर के शव देर शाम तक नहीं मिल पाया है।

मुरैना जिले के अंबाह निवासी राजू राठौर की शादी ३० अप्रैल को हुई थी। शादी के बाद वह अपनी पत्नी के अलावा दोस्त अर्जुन राठौर को अपने साथ ननिहाल ले गया था। २८ मई की दोपहर राजू अपने दोस्त और ममेरे भाई तथा ममेरे भाई के दोस्त के साथ नहाने के लिए चंबल नदी गए जहां डूब गए। बता दें कि राजू राठौर अटेर क्षेत्र के ग्राम हिम्मतपुरा में स्थित अपने मामा श्रीपाल राठौर के घर गया था। शादी के बाद उसके मामा और मामी ने दावत पर नवदंपती को बुलाया था। 27 मई को राजू अपनी पत्नी तथा दोस्त अर्जुन के साथ हिम्मतपुरा पहुंचा। अगले दिन वह अर्जुन एवं ममेरे भाई बृज राठौर के अलावा बृज के दोस्त रामनिवास राठौर के साथ नहाने के लिए चंबल नदी पहुंचा था। बताया गया है कि सभी चार युवक एक साथ नदी में उतर गए। रामनिवास को तैरना आता था, इसलिए वह तैरकर बाहर निकल आया जबकि बृज राठौर को नदी किनारे खड़े अन्य लोगों ने कूदकर बाहर निकाल लिया, जबकि राजू और अर्जुन डूबने के बाद नहीं उछले।

एक बार भी पति के साथ पीहर नहीं पहुंच पाई दुल्हन

ममेरे ससुर श्रीपाल राठौर के घर पति राजू राठौर के साथ पहुंची नवविवाहिता को क्या पता था कि शादी के दिन विदा होकर ससुराल जाने के बाद वह फिर कभी अपने पति के साथ पीहर नहीं पहुंच पाएगी। बता दें कि शादी के २६ दिन बाद राजू राठौर उसे लेकर हिम्मतपुरा अपने मामा के घर पहुंचा था। दूल्हा और दुल्हन के हाथों की मेहंदी भी नहीं छूट पाई थी कि राजू काल के गाल में समा गया और नवविवाहिता के हिस्से में बेवा होने का अभागापन आ गया।

एसपी के त्वरित रेस्क्यू शुरू करने के निर्देश पर हरकत में आया दल

चार युवकों के चंबल नदी में डूबने की सूचना पर पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने थाना प्रभारी अटेर को तत्काल रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू करने के निर्देश दिए। तदुपरांत आनन-फानन में रेस्क्यू दल चंबल नदी पर पहुंचा जहां करीब आधे घंटे चले रेस्क्यू में अर्जुन राठौर का शव मिल गया। हालांकि देर शाम तक राजू राठौर का शव नहीं मिल पाया है। राजू राठौर के लिए २९ मई को भी रेस्क्यू चलाया जाएगा।

हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned