आवारा सुअरों से परेशान वार्डवासी, नपा नहीं दे रही ध्यान

मोहल्ले के लोगों का कहना है कि इस समस्या को लेकर कई बार नगर पालिका सहित प्रशासनिक स्तर पर शिकायत की गई। लेकिन इसके बाद भी जिम्मेदार अधिकारियों की तरफ से इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

By: rishi jaiswal

Published: 23 May 2020, 07:53 PM IST

भिंड। जहां प्रशासन द्वारा जिलेभर में सफ ाई अभियान चलाया जा रहा है। वहीं शहर के वार्ड क्रमांक तीन के वाटर वक्र्स इलाके में इन दिनों सुअरों का आतंक बढऩे मोहल्ले में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। आवारा सुअरों की वजह से मौहल्ले में गंदगी व सड़ांध का वातावरण बन गया है। जिससे स्थानीय लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

वहीं मोहल्ले के लोगों का कहना है कि इस समस्या को लेकर कई बार नगर पालिका सहित प्रशासनिक स्तर पर शिकायत की गई। लेकिन इसके बाद भी जिम्मेदार अधिकारियों की तरफ से इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

गौरतलब है कि शहर के पुराने रेलवे स्टेशन सहित नजदीक के ही वाटर वक्र्स मोहल्ले में विद्युत विभाग कार्यालय परिसर व पीएचई की की जगह पर करीब 500 से अधिक अवारा ***** पल रहे हैं। यह ***** मोहल्ले में बेफि क्र होकर इस कदर घूम रहे हैं। कि रोज इनके झुंड के झुंड सड़कों पर लगे नजर आते हैं। साथ ही सुअरों ने वारटर वक्र्स व बिजली घर को अपना स्थाई आवास बना लिया है। शासकीय कार्यालयों के अधिकारी भी आए दिन इसको लेकर शिकायते करते नजर आते है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यह ***** मोहल्ले में गंदगी तो फैलाते ही हैं। साथ ही कब दबे पांव घर में घुस जाएं इसका भी पता नहीं चल पाता। घर में घुस कर इधर उधर मूंह लगा देते हैं। जिसकी वजह से घर के दरवाजों का भी विशेष ध्यान देना पड़ता है कि कहीं दरवाजे खले न रह जाएं।

दुर्घटना के वक्त अचानक प्रकट हो जाते हैं आवार सुअरों के मालिक

वैसे तो मोहल्ले में घमते रहने वाले ***** आवारा हैं। और इन्हें पकडऩे या रखने के लिए कोई तैयार नहीं है। और नहीं कोई इनपर दावा करने वाला नजर आता है। लेकिन यदि कोई रास्ते से गुजरते वक्त यदि कोई ***** दुर्घटना में घायल या मर जाता है। तो तत्काल ***** का मालिक सामने आ जाता है। और वाहन मालिक को एफ आईआर करने की धमकी देते हुए उल्टे सीधे पैसों की मांग करने लगता है। आवारा घूम रहे ***** आए दिन लोगों के लिए दुर्घटना की वजह भी बन रहे हैं। बीते एक महीने में आवारा सुअरों से टकराने से 4 बाइक सवार भी घायल हो चुके हैं।

कथन

आवार सुअरों से होने वाली परेशानी की शिकायत सीएमओ से लेकर कलेक्टर तक कर चुके हैं। लेकिन इसके बाद भी अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई है।

- सतीश राजावत, स्थानीय निवासी

शासकी जमीने पर आवारा सुअरों ने अपना स्थाई घर बना लिया है। जहां यह शाम के समय झुंड में निकलते हैं। ***** से टकराने की वजह से एक बार मेरी बीइक भी गिर गई। तब मैं घायल होने से बाल.बाल बच गया।

- अजीत भदौरिया, स्थानीय निवासी

आवारा सुअरों को लेकर कांजी हाउस में रखने की हिदायत दी गई है। साथ ही यदि कोई भी ***** आवारा घूमता हुआ मिलता है। तो ***** पालकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

- ज्योति सिंह, सीएमओ नगर पालिका भिंड

rishi jaiswal
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned