script पासपोर्ट ऑफिस की तरह दिख रहा रजिस्ट्रार कार्यालय | Registrar office looking like passport office | Patrika News

पासपोर्ट ऑफिस की तरह दिख रहा रजिस्ट्रार कार्यालय

locationभिवाड़ीPublished: Jan 05, 2024 07:31:07 pm

Submitted by:

Dharmendra dixit


मॉडल की तरह होगा काम, निश्चित समय पर होगा दस्तावेज का पंजीयन, उपभोक्ताओं के बैठने बनाया वातानुकूलित प्रतीक्षालय

पासपोर्ट ऑफिस की तरह दिख रहा रजिस्ट्रार कार्यालय
पासपोर्ट ऑफिस की तरह दिख रहा रजिस्ट्रार कार्यालय

भिवाड़ी. राज्य सरकार को प्रति वर्ष 125 करोड़ से अधिक का राजस्व देने वाला उप पंजीयक कार्यालय अब मॉडल ऑफिस की तर्ज पर काम करेगा। पासपोर्ट कार्यालय की तरह यहां उपभोक्ताओं को पंजीयन कराने के लिए टाइम स्लॉट दिए जाएंगे। उन्हें एक निश्चित समय पर काम की गारंटी मिलेगी। ढावा स्थित वाणिज्यिक विभाग के पुराने दफ्तर का सौंदर्यीकरण हो चुका है। उपभोक्ताओं द्वारा पंजीयन के लिए आने के बाद प्रविष्टि कराने और उसके बाद उनके बैठने के लिए उचित इंतजाम किए गए हैं।
बजट घोषणा के तहत सब रजिस्ट्रार कार्यालय को पासपोर्ट ऑफिस की तर्ज पर विकसित किया गया है। आमजन को दस्तावेजों के पंजीयन के लिए लाइन में लगने की जगह टाइम स्लॉट दिया जाएगा। हर रोज औसतन 30 दस्तावेजों का यहां पंजीयन होता है, जिसकी वजह से बड़ी संख्या में लोगों का आवागमन होता है लेकिन अभी तक जगह कम होने की वजह से असुविधा होती थी। पहले चार शहरों में पासपोर्ट ऑफिस की तर्ज पर मॉडल रजिस्ट्रार ऑफिस खोलने की बजट घोषणा की थी, बाद में जयपुर, जोधपुर, भिवाड़ी, बीकानेर, अजमेर, उदयपुर, कोटा, सीकर, भरतपुर और बाड़मेर सहित छह शहरों को जोड़ा गया। मॉडल कार्यालय बीकानेर और जोधपुर में शुरू हो चुके हैं। भिवाड़ी में तीसरा मॉडल कार्यालय शुरू होगा।
----
इस तरह रहेगी दस्तावेज पंजीयन की प्रक्रिया
दस्तावेज लेकर उपभोक्ता कार्यालय पहुंचेगा, पहले रीडर से सत्यापन कराएगा, दस्तावेज की वैद्यता जांच होने के बाद उपभोक्ता को प्रतीक्षा नंबर दे दिया जाएगा। जिसके बाद वह वातानुकूलित प्रतीक्षालय में बैठकर अपनी बारी का इंतजार करेगा। इसी दौरान उसके सामने लगी डिस्प्ले पर उसका टोकन प्रदर्शित होता रहेगा। संबंधित दस्तावेज का नंबर आने पर वह ऑपरेटर एक या ऑपरेटर दो जो भी सिस्टम द्वारा आवंटित हुआ है, उस पर दस्तावेज के पंजीयन का काम पूरा कराएगा। दस्तावेज पंजीकृत होकर उप पंजीयक से हस्ताक्षर होंगे। इसके बाद पंजीकृत दस्तावेज की असल प्रतियां उपभोक्ता को दे दी जाएगी। कार्यालय में प्रवेश और निकास का अलग रास्ता होगा।
----
सौंदर्यीकरण का सारा काम पूरा हो चुका है। जल्द ही इसका उद्घाटन कर कामकाज शुरू करा दिया जाएगा। रेखा यादव, उप पंजीयक

ट्रेंडिंग वीडियो