Coronavirus Vaccine: Covaxin ट्रायल के दूसरे फेज ने पकड़ी रफ्तार, पहले फेज में नहीं दिखा कोई साइड इफेक्ट

Coronavirus Vaccine: जिन व्यक्तियों को दवा का डोज दिया गया था उनमें कोई साइडइफेक्ट दिखाई नहीं दे रहे है...(Coronavirus Vaccine Human Trial Second Phase Started In PGIMS Rohtak) (Coronavirus Vaccine In India) (Covaxin Trial) (Bhiwani News) (Rohtak News)...

By: Prateek

Published: 01 Aug 2020, 02:00 PM IST

रोहतक, भिवानी: coronavirus वैक्सीन का पूरी दुनिया को बेसब्री से इंतजार है। इस दिशा में वैज्ञानिक तेजी से काम भी कर रहे है। कई देशों ने वैक्सीन बनाने का दावा भी किया है पर फिलहाल सभी ट्रायल मोड में है। भारत बायोटेक की Covaxin भी ट्रायल के पहले फेज में सफल हो गई है। जिन व्यक्तियों को दवा का डोज दिया गया था उनमें कोई साइडइफेक्ट दिखाई नहीं दे रहे है। अब सैकंड फैज का ट्रायल शुरू हो गया है।

यह भी पढ़ें: Ram Mandir Bhoomi Poojan : दलित महामंडलेश्वर को नहीं मिला आमंत्रण, सवाल उठने पर VHP ने दी ये सफाई

देश के लगभग 12 चिकित्सा संस्थानों में कोरोना वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल चल रहा है। हरियाणा के रोहतक स्थित पीजीआईएमएस ने इसका पहला फेज पूरा करने में सफलता हासिल की है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ट्रायल के पहले फेज में 14 दिन तक डॉक्टरों ने 18 से 65 वर्ष के 79 लोगों को वैक्सीन की डोज दी। लगातार इनकी निगरानी भी की गई। इस पर पाया गया कि इनमें कोई साइड इफेक्ट नहीं आया है। ट्रायल कमेटी के सदस्यों इसे पहले फेज के ट्रायल की सफलता मान रहे है।

यह भी पढ़ें: COVID-19 के खिलाफ साथ आए India-Israel, इस तकनीक से महज 30 सेकेंड में होगा corona टेस्ट!

पहले फेज के ट्रायल में हिस्सा लेने वाले सभी वालेंटियर्स के शरीर में विकसित होने वाली एंटीबॉडी का परीक्षण करने के लिए सैंपल इकट्ठा कर दिल्ली भेजे जाएंगे। इधर 31 जुलाई से ट्रायल का दूसरा फेज भी शुरू कर दिया गया। इसके तहत तीन वालेंटियर्स को वैक्सीन की डोज दी गई। इधर डॉक्टरों ने सैकंड फेज के ट्रायल के लिए 12 से 65 आयु वर्ग के वालंटियर्स को आगे आने की अपील की है।

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned