हरियाणा ओपन 12वीं व 10वीं का परीक्षा परिणाम घोषित

हरियाणा ओपन 12वीं व 10वीं का परीक्षा परिणाम घोषित
file photo

Prateek Saini | Updated: 21 May 2019, 06:44:57 PM (IST) Bhiwani, Bhiwani, Haryana, India

बोर्ड अध्यक्ष व सचिव ने पत्रकारों से बात करते हुए बताया कि शिक्षा बोर्ड द्वारा प्रदेशभर में संचालित हरियाणा मुक्त विद्यालय परीक्षा मार्च-2019 की सीनियर सैकेण्डरी (फ्रैश) एवं सब्जैक्ट टू बी क्लीयर (एसटीसी) क्रेडिट ट्रांसफर पॉलिसी (सीटीपी) परीक्षा का परिणाम घोषित किया है...

(भिवानी): हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा प्रदेशभर में संचालित हरियाणा मुक्त विद्यालय की 10+2 व 10 वीं कक्षा की परीक्षाओं का परिणाम आज घोषित किया गया है। 10+2 ओपन स्कूल (फ्रैश) की परीक्षा का परिणाम 22.53 फीसदी तथा सीनियर सैकेण्डरी ओपन स्कूल एसटीसी/सीटीपी की परीक्षा का परिणाम 34.97 फीसदी रहा है। जबकि 10वीं ओपन (फ्रैश) का परीक्षा परिणाम 11.84 फीसदी तथा एसटीसी/सीटीपी की परीक्षा का परिणाम 26.72 फीसदी रहा है। इस परीक्षाओं के परिणाम की घोषणा बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह एवं सचिव राजीव प्रसाद एचसीएस ने अपने कार्यालय में की।


10+2 का परीक्षा परिणाम

बोर्ड अध्यक्ष व सचिव ने पत्रकारों से बात करते हुए बताया कि शिक्षा बोर्ड द्वारा प्रदेशभर में संचालित हरियाणा मुक्त विद्यालय परीक्षा मार्च-2019 की सीनियर सैकेण्डरी (फ्रैश) एवं सब्जैक्ट टू बी क्लीयर (एसटीसी) क्रेडिट ट्रांसफर पॉलिसी (सीटीपी) परीक्षा का परिणाम घोषित किया है। उन्होंने बताया कि सीनियर सैकेण्डरी ओपन स्कूल (फ्रैश) मार्च-2019 की परीक्षा का परिणाम 22.53 फीसदी तथा सीनियर सैकेण्डरी ओपन स्कूल (एसटीसी/सीटीपी) मार्च-2019 की परीक्षा का परिणाम 34.97 फीसदी रहा है। उन्होंने बताया कि गत वर्ष सीनियर सैकेण्डरी ओपन स्कूल (फ्रैश) मार्च-2018 की परीक्षा का परिणाम 21.56 फीसदी तथा सीनियर सैकेण्डरी ओपन स्कूल (एसटीसी/सीटीपी) मार्च-2018 की परीक्षा का परिणाम 22.78 फीसदी रहा था।


बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि सीनियर सैकेण्डरी ओपन स्कूल (फ्रैश) की परीक्षा में 26,392 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 5946 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए तथा 20,446 परीक्षार्थियों की एसटीसी आई है। इस परीक्षा में 17,827 लड़के बैठे थे, जिनमें से 3,492 पास हुए, इनकी पास प्रतिशतता 19.59 रही है, जबकि 8,564 प्रविष्ठ लड़कियों में से 2,453 पास हुई, इनकी पास प्रतिशतता 28.64 रही है। उन्होंने बताया कि इस परीक्षा में लड़कियों ने लडकों ने की अपेक्षा पास प्रतिशतता में 9.05 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की है तथा ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 22.15 रही है, जबकि शहरी क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 23.43 रही है। बोर्ड सचिव ने बताया कि सीनियर सैकेण्डरी ओपन स्कूल (सीटीपी/एसटीसी) की परीक्षा में 31,092 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 10,873 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए तथा 20,219 परीक्षार्थियों की एसटीसी आई है। इस परीक्षा में 21,369 लड़के बैठे थे, जिनमें से 7,135 पास हुए, इनकी पास प्रतिशतता 33.39 रही है, जबकि 9,723 प्रविष्ठ लड़कियों में से 3,738 पास हुई, इनकी पास प्रतिशतता 38.44 रही है। उन्होंने बताया कि लड़कियों ने लडकों की अपेक्षा पास प्रतिशतता में 5.05 प्रतिशत की बढ़ोतरी अर्जित की है तथा ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 34.83 रही है, जबकि शहरी क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 35.37 रही है।


10वीं का परीक्षा परिणाम-

बोर्ड अध्यक्ष व सचिव ने बताया कि प्रदेश भर में हुई सैकेण्डरी ओपन स्कूल (फ्रैश) मार्च-2019 की परीक्षा का परिणाम 11.84 फीसदी तथा सैकेण्डरी ओपन स्कूल एसटीसी/सीटीपी मार्च-2019 की परीक्षा का परिणाम 26.72 फीसदी रहा है। उन्होंने बताया कि गत वर्ष सैकेण्डरी ओपन स्कूल (फ्रैश) मार्च-2018 की परीक्षा का परिणाम 11.23 फीसदी तथा सैकेण्डरी ओपन स्कूल एसटीसी/सीटीपी मार्च-2018 की परीक्षा का परिणाम 21.79 फीसदी रहा था।

 

बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि सैकेण्डरी ओपन स्कूल (फ्रैश) की परीक्षा में 18,659 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 2210 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए तथा 16,449 परीक्षार्थियों की एसटीसी आई है। इस परीक्षा में 13,240 लडके बैठे थे, जिनमें से 1613 पास हुए, इनकी पास प्रतिशतता 12.18 रही है, जबकि 5,419 प्रविष्ठ लड़कियों में से 597 पास हुई, इनकी पास प्रतिशतता 11.02 रही है। उन्होंने बताया कि इस परीक्षा में लडकों ने लड़कियों की अपेक्षा पास प्रतिशतता में 1.16 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की है तथा ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 12.88 रही है, जबकि शहरी क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 8.87 रही है।


बोर्ड सचिव ने बताया कि सैकेण्डरी ओपन स्कूल सीटीपी एसटीसी की परीक्षा में 72,748 परीक्षार्थी प्रविष्ठ हुए थे, जिनमें से 19,439 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए तथा 53,309 परीक्षार्थियों की एस.टी.सी. आई है। इस परीक्षा में 43,612 लड़के बैठे थे, जिनमें से 11,318 पास हुए, इनकी पास प्रतिशतता 25.95 रही है, जबकि 29,136 प्रविष्ठ लड़कियों में से 8,121 पास हुई, इनकी पास प्रतिशतता 27.87 रही है। उन्होंने बताया कि लड़कियों ने लडकों की अपेक्षा पास प्रतिशतता में 1.92 प्रतिशत की बढ़ोतरी अर्जित की है तथा ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 26.56 रही है, जबकि शहरी क्षेत्र के विद्यार्थियों की पास प्रतिशतता 27.22 रही है।

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned