108 को फोन किया तो ये मिला जवाब

108 को फोन किया तो ये मिला जवाब

KRISHNAKANT SHUKLA | Publish: May, 21 2018 07:44:36 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

जिकित्जा हेल्थकेयर में फिर हड़ताल, आधी रात से दोपहर तक बंद रही नौ एंबुलेंस, ड्राइवरों ने

जबरन को रोकी गाडि़यां, मरीजों को हुई दिक्कत

भोपाल. प्रदेश में 108 एंबुलेंस का संचालन कर रही जिकित्जा हेल्थकेयर और पायलट्स, इएमटी स्टाफ की लड़ाई में एक बार फिर मरीजों को परेशान होना पड़ा। जब लोगों ने १०८ को फोन किया तो उन्हें जवाब मिला कि अपने वाहन से जाएं हम नहीं आ सकते। मांगों को लेकर पायलट्स और इएमटी स्टाफ ने रविवार सुबह करीब चार बजे से हड़ताल की घोषणा कर दी। इसके चलते भोपाल की कुल १७ एंबुलेंस में से ९ गाडि़यों ने काम करना बंद कर दिया।

यही नहीं एएमटी और पालट्स ने अन्य गाडि़यों को भी रोकने की कोशिश की। इसका असर यह हुआ कि रविवार सुबह जब जरूरतमंदों ने 108 पर कॉल किया तो उन्हें एंबुलेंस नहीं मिली। इधर हड़ताल की सूचना मिलते ही कंपनी ने आनन-फानन में नए स्टाफ को चाबियां दिलवाईं, तब जाकर रविवार शाम चार बजे एंबुलेंस सेवा में वापस लौटी। यह हड़ताल कंपनी द्वारा हटाए गए ४०० से ज्यादा कर्मचारियों को वापस लेने के लिए की गई थी।

पिता को घबराहत हुई तो लगाया फोन

शाहजहांनाबाद निवासी शकील के पिता को घबराहट और तेज पसीने की शिकायत हुई। 108 पर कॉल किया तो ऑपरेटर ने जवाब दिया कि अभी एंबुलेंस नहीं भेज सकते, आप निजी वाहन का इस्तेमाल करें। ऐसा ही रिस्पांस कोलार निवासी राजकुमार को भी मिला।

जबरन रोकीं गाडि़यां पुलिस ने भांजी लाठिया

हड़ताल के बाद कंपनी ने नए स्टाफ को काम पर भेजा तो ड्राइवरों ने उन्हें चाबियां देने से मना कर दिया। गाडिय़ां ईदगाह हिल्स स्थित जेडएचएल कार्यालय के सामने खड़ी थीं। ड्राइवरों ने जब नए स्टाफ को वहां से भगाने की कोशिश की तो पुलिस ने हड़तालियों की जमकर पिटाई की।

नई वैकेंसी आते ही हम कर्मचारियों को वापस ले लेंगे

इधर कंपनी ने एक प्रेसवार्ता में बताया कि उन्होंने कर्मचारियों से कहा है कि उन्हें फिर से नौकरी पर ले लिया जाएगा। प्रोजेक्ट हेड मप्र जितेन्द्र शर्मा ने बताया कि सभी गाडिय़ां चल रही हैं। यह लोग खुद नौकरी छोड़ कर गए थे, इसलिए हमने इनके स्थान पर नई भर्ती कर ली। जैसे ही नई वैकेंसी आएगी। हम सभी कर्मचारियों को समायोजित कर लेंगे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned