बिजली गिरने से 13 लोगों की मौत, सीएम ने दुख व्यक्त किया

lightning in many disctrict: मध्यप्रदेश के श्योपुर, ग्वालियर, रीवा, होशंगाबाद और बैतूल में बिजली गिरने से हुई मौतें...।

By: Manish Gite

Published: 12 Jul 2021, 04:57 PM IST

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के ग्वालियर, शिवपुरी और श्योपुर जिले में अचानक बिजली गिरने से 9 लोगों की मौत हो गई, जबकि आधा दर्जन से अधिक लोग झुलस गए हैं। घायलों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। इधर, रीवा, होशंगाबाद और बैतूल में भी मौतें हुई हैं। खबर लिखे जाने तक पिछले 24 घंटों के दौरान 13 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि अनुमान लगाया जा रहा है कि यह संख्या और भी बढ़ सकती है। इस घटना पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गहरा दुख व्यक्त किया है।

 

 

मध्यप्रदेश में बिजली गिरने पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chauhan) ने इसे दुखद बताया है। उन्होंने ट्वीट संदेश में कहा कि मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में आकाशीय बिजली गिरने से अनेक अनमोल जिंदगियों के असमय निधन का समाचार दुखदायी है। मैं ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को की शांति और परिजनों को संबल देने तथा ऐसी आपदाओं से प्रदेश, देश व दुनिया के सभी भाई-बहनों की जीवन रक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं।

 

 

 

कहीं खेत में कही पेड़ पर गिरी बिजली

बारिश के दौरान बिजोली के सुनारपुरा में आकाशीय बिजली गिरी और एक 10 साल के बच्चे सहित दो लोगों की मौत हो गई। जबकि दो लोगों की हालत गंभीर बताई जाती है। घायलों को ग्वालियर के जेएएच में भर्ती कराया गया है। मरने वालों में एक मृतक शिवपुरी का है, जबकि सभी राजस्थान के पाली के पशु चराने वाले हैं। बताया जा रहा है कि जब बारिश हुई तो सभी बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे खड़े हो गए थे। अचानक बिजली गिरी और सभी झुलस गए। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

 

राजस्थान के पाली गांव निवासी शोभाराम मारवाड़ी, दुर्गाराम मारवाड़ी अपने परिवारों के साथ ग्वालियर जिले के बिजौली के सुनारपुरा गांव में पशु चराने आए थे। यहीं पर उन्होंने अपना डेरा डाल रखा था। राजस्थान में पानी की कमी के कारण वे हर साल अपने ऊंट और मवेशियों को लेकर मध्यप्रदेश की सीमा में आ जाते हैं। मवेशियों की देखभाल करने के लिए हाकिम सिंह आदिवासी (22 साल) निवासी शिवपुरी राजस्थान से आने वाले मवेशियों की देखभाल करता था। रविवार शाम को जब मवेशियों के साथ यह भेड़ चरा रहे थे, तब अचानक बादल गड़गड़ाए और बारिश होने लगी। बारिश से बचने के लिए हाकिम के साथ शोभाराम और दुर्गाराम और 10 साल का रवि मारवाड़ी पेड़ के नीचे रुक गए थे। तभी तेज आवाज के साथ बिजली गिर गई और इस घटना में हाकिम और उसके 10 साल के बेटे रवि की मौत हो गई। जबकि दुर्गाराम और शोभाराम गंभीर रूप से झुलस गए। पुलिस ने घायलों को ग्वालियर जयारोग्य अस्पताल पहुंचाया।

 

कोलारस के बौलाज गांव से भी खबर है कि वहां पूजा पुत्री कप्‍तान सिंह के ऊपर बिजली गिरने से उसकी मौत हो गई।

-हादसे यहीं नहीं रुके। करैरा के बरोदी गांव में शुभम पुत्र रामराजा तिवारी (16) की मौत भी बिजली गिरने से हुई है। गांव में तीन और बालक संजीव, निपुण और राज भी घायल हुए हैं। बिजली गिरने से मवेशियों को भी नुकसान पहुंचा है। 11 बकरियों की भी मौत होने की खबर है।

-श्‍योपुर के मोरावन पंचायत के टपरिया गांव में बिजली गिरने से पिता पुत्र की मौत हो गई। टपरिया गांव के 65 वर्षीय हरिओम व उनके 35 वर्षीय बेटा कुबेर सिंह खेत पर काम कर रहे थे तभी बिजली गिर गई और उनकी मौत हो गई। जबकि रामखिलावन नाम का एक शख्स घायल हो गया।

 

शिवपुरी में दो महिलाओं की मौत

शिवपुरी जिले के करैरा थाना अंतर्गत ग्राम निवासी 2 महिलाओं की सोमवार को दोपहर में बिजली गिरने से मौत हो गई। ग्राम साल निवासी विमला पत्नी चंदन सिंह रावत 50 साल और कुसुमा पत्नी बाबूलाल परिहार उम्र 51 साल दोनों दोपहर करीब 2:30 बजे खेत के पास अपनी भैंस लेकर आ रही थी। तभी तेज गड़गड़ाहट की आवाज के कारण दोनों एक आम के पेड़ के नीचे बैठ गईं, तभी बिजली की चपेट में आ गईं।

इस प्रकार पोहरी तहसील के बामरा गांव में भी हादसा हो गया। यहां जय सिंह पुत्र रामप्रसाद यादव के ऊपर आकाशीय बिजली गिर गई। जिससे उनकी मौत हो गई।

रीवा में 2 की मौत, 7 घायल

रीवा जिले से खबर हैं कि यहां भी बिजली गिरने से दो लोगों की मौत की खबर है, जबकि सात लोग घायल हैं। घटना बिछिया थाना क्षेत्र के भटलों गांव में हुई, जहां चार युवक जब खेत में काम कर रहे थे, तब बारिश शुरू हो गई और यह लोग पेड़ और मंदिर के पास खड़े हो गए। तभी तेज आवाज के साथ बिजली गिरी। इनमें से गुड्डू उपाध्याय पिता नत्थू उपाध्याय (27) की मौत हो गई, जबकि तीन लोग झुलस गए। गोविंदगढ़ थाने के पाती गांव में भी खेत में बुवाई के दौरान गिरीश प्रसाद पटेल (38) के ऊपर बिजली गिर गई। इसके अलावा बिछिया थाना क्षेत्र के डगवार गांव में भी चार लोगों के झुलसने की खबर है।

 

बैतूल में भी मौत

इधर, बैतूल से खबर है कि चिचोली के ग्राम आवरिया में बिजली गिरने से सालकराम मर्सकोले (48) की मौत हो गई। वो अपने घर के पास ही खड़ा हुआ था। उसकने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया।

 

होशंगाबाद में भी मौत

होशंगाबाद के बनखेड़ी के पास स्थित करवा गांव में रविवार शाम 5 बजे बिजली गिरने से दौलत सिंह (40) की मौत हो गई। जब वो खेत में टैक्टर चलाने के बाद पानी पीने के लिए पेड़ के नीचे गया, तभी बिजली गिर गई और उसकी मौत हो गई।

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned