स्पेशल भर्ती के 123 होमगार्ड जवान अपात्र.. देखें पूरा मामला!

कई मापदंडों पर नहीं उतरे खरे

By: दीपेश तिवारी

Published: 24 May 2018, 07:23 PM IST

भोपाल। सिंहस्थ में ड्यूटी कर मार्च में ही नियमित हुए 123 होमगार्ड जवान शारीरिक परीक्षण में फेल हो गए हैं। पिछले माह पांच संभागों में किए गए परीक्षण में किसी की लंबाई कम मिली तो किसी का सीना। किसी के फुट फ्लैट हैं, तो कोई नॉक-नी वाला है। तीन जवानों की तो उम्र भी कम पाई गई है। होमगार्ड मुख्यालय जानना चाहता था कि सिंहस्थ के दो साल बाद 23 मार्च को स्थायी किए गए 2790 होमगार्ड जवानों के खिलाफ कहीं गंभीर आपराधिक प्रकरण तो दर्ज तो नहीं हैं। ये सभी मापदंड पूरे करते भी हैं या नहीं। पांच संभागों में कमेटी बनाकर जब दोबारा शारीरिक परीक्षण किया गया तो 123 जवान मापदंडों पर खरे नहीं उतर पाए। इन अपात्रों के लिए आगे के निर्णय के लिए होमगार्ड अब शासन से पत्राचार कर रहा है।

भर्ती प्रकिया पर सवाल

सिंहस्थ ड्यूटी के लिए 3 हजार पदों की भर्ती इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, उज्जैन और होशंगाबाद में संभाग स्तर पर जिला सेनानियों की निगरानी में हुई थी। कम उम्र के जवानों की भर्ती से विभाग पर ही सवाल उठा रहे हैं।

शासन से पूछा- किस आधार पर दें छूट

होमगार्ड विभाग ने शासन से पूछा है कि जवानों को किस आधार पर और कहां छूट दें। सरकार ने सिंहस्थ भर्ती को स्पेशल केस मानते हुए भर्ती नियमों में छूट दी थी, लेकिन ‘छूट’ का स्पष्ट उल्लेख नहीं था। होमगार्ड ने पत्र लिखकर पूछा है कि लंबाई, सीना, रोजगार कार्यालय का जीवित पंजीयन, फ्लैट फुट, नॉक नी और अंडर एज में से छूट किसमें दी जाए। होमगार्ड ने पत्र लिखकर पूछा है कि लंबाई, सीना, रोजगार कार्यालय का जीवित पंजीयन, फ्लैट फुट, नॉक नी और अंडर एज में से छूट किसमें दी जाए।

स्थायी किए गए 2790 जवानों का शारीरिक परीक्षण दोबारा कराया गया, तो पांचों संभाग में 123 जवान अपात्र मिले हैं। शासन से पूछा है कि फ्लैट-फुट, नॉक-नी और कम उम्र के लिए क्या करें।
-महान भारत सागर, डीजी, होमगार्ड

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned