भोपाल में 2000 बच्चे कुपोषित, इन्हें गोद लेकर आप भी पा सकते हैं पुरस्कार

भोपाल में 2000 बच्चे कुपोषित, इन्हें गोद लेकर आप भी पा सकते हैं पुरस्कार

Brajendra Sarvariya | Publish: Dec, 25 2015 02:25:00 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India


भोपाल। राजधानी में अभी लगभग दो हजार कुपोषित बच्चे हैं। स्नेह सरोकार अभियान के तहत इनमें से लगभग 500 बच्चों को जिले के अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों और अन्य वर्गांे के लोगों ने गोद लिया है। वे इन बच्चों के पेरेन्ट्स की काउंसलिंग करने के साथ इनके पोषण आहार और उपचार की व्यवस्था भी कर रहे हैं, पर अभी भी लगभग डेढ़ हजार बच्चों को गोद का इंतजार है।

आप भी इन गरीब परिवारों के कुपोषित बच्चों  को थोड़ा सहारा देकर उन्हें नवजीवन दे सकते हैं। इसके लिए गोद लेने वालों को सम्मानित किया जाएगा। उन्हें नकद पुरस्कार के रूप में 25 हजार रुपए तक मिल सकते हैं। यदि आप भी कुपोषित बच्चों का भविष्य संवारना चाहते हैं तो 31 जनवरी तक आवेदन कर सकते हैं। 

कुछ ऐसी है ये योजना
राज्य शासन द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रों में आने वाले कम वजन के बच्चों के पोषण स्तर पर सुधार के लिये जनभागीदारी की व्यवस्था लागू की गई है। इसके तहत प्रत्येक जिले में आंगनबाड़ी केन्द्रों पर उस क्षेत्र के रहने वाले अधिकारी-कर्मचारी, जनप्रतिनिधि, स्वयंसेवी संगठन या अन्य कोई व्यक्ति समाज के कमजोर वर्ग की मदद करने के उद्देश्य से  केन्द्र के किसी भी कम वजन के बच्चे को गोद ले सकता है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned