script270 MP students paying the price of Russia-Ukraine war | रूस-यूक्रेन युद्ध की कीमत चुका रहे एमपी के 270 विद्यार्थी | Patrika News

रूस-यूक्रेन युद्ध की कीमत चुका रहे एमपी के 270 विद्यार्थी

खार्किव के हजारों छात्रों का भविष्य दांव पर ब्रिटेन जैसे शहर में पढ़ाई का विकल्प ये है काफी महंगा

 

भोपाल

Published: September 14, 2022 03:42:52 pm

भोपाल. एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे हजारों भारतीय छात्रों को रूस.यूक्रेन युद्ध की कीमत चुकानी पड़ रही है। यूक्रेन के कई शहरों में आज तक हालात सुधरे नहीं हैं। अर्थव्यवस्था पूरी तरह से बेपटरी हो गई। एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे मप्र के 270 से ज्यादा स्टूडेंट्स आज अधर में हैं। युद्ध के बाद कुछ स्टूडेंट वहां वापस लौटकर गए हैं लेकिन उन्हें अभी भविष्य सुरक्षित नहीं दिख रहा। इधर भारत के मेडिकल कॉलेजों में भी उनके समायोजन को लेकर कोई रास्ता नहीं खुला।

ukraine.png
पढ़ाई का विकल्प काफी महंगा

ऐसे में राजधानी सहित मप्र के स्टूडेंट असमंजस में हैं। इनके परिजन कुछ दिन पूर्व भोपाल दौरे पर आए गृहमंत्री अमित शाह से मिलने भी गए थे लेकिन उनसे मुलाकात नहीं हो सकी। अब वे शासन स्तर से इन छात्रों के भविष्य के लिए कुछ करने के लिए एकत्र हो रहे हैं। अवधपुरी की शिवानी खार्किव की मेडिकल यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस थर्ड ईयर की पढ़ाई कर रही है। युद्ध के दौरान शिवानी शुचि किसी प्रकार वहां से निकलीं। परिजनों को गृह मंत्रालय तक से मदद लेनी पड़ी। शिवानी ने बताया कि घर से ही ऑनलाइन क्लास कर रही है। वहां जाने के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं दे रहा।

उनके ग्रुप में 250 छात्र.छात्राएं हैं जो मप्र से हैं, इसमें काफी भोपाल के भी हैं। वे सब ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं फीस पूरी जा रही है। कुछ दिन पूर्व जब छात्रों ने ज्यादा पूछताछ की तो अगले दिन उनको ब्रिटेन कजाकिस्तान जाकर पढ़ाई पूरी करने का ऑप्शन दिया। शिवानी का कहना है कि ये लोग लगभग पढ़ाई पूरी करने को हैं। ऐसे में दूसरे देश जाने में परेशानी होगी, दूसरा जिन देशों का ऑप्शन दिया है, वह काफी महंगे हैं। फीस भी काफी देनी होगी। जबकि यूक्रेन का फीस स्ट्रक्चर काफी कम है।

लोन लेकर प्रॉपर्टी बेचकर पढ़ा रहे बच्चों को
यूक्रेन में पढ़ाई कराने भेजने वाले कई अभिभावक एजुकेशन लोन और प्रॉपर्टी बेचकर बच्चों की पढ़ाई करा रहे हैं। जब उनका एमबीबीएस कम्पलीट करने का समय आया तो ये हालात पैदा हो गए। एक छात्र ने बताया कि उसके पिता तो परेशान रहने लगे हैं। ऐसी स्थिति अकेले उसकी नहीं कई अभिभावकों की है।

इन छात्रों को निकाला था वहां से
अवधपुरी की शिवानी शुचि नीलबड़ का आत्रेय श्रीवास्तव एयरपोर्ट रोड निवासी पार्थ द्विवेदी बरखेड़ी की गुंजन कुशवाहा अवधपुरी की मानसी दुबे तुलसी नगर निवासी मिली और मुस्कान के अलावा भोपाल और आसपास जिलों के 50 से ज्यादा छात्रों को वहां से निकाला था।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Swachh Survekshan 2022: लगातार छठी बार देश का सबसे साफ शहर बना इंदौर, सूरत दूसरे तो मुंबई तीसरे स्थान परअब 2.5 रुपये/किलोमीटर से ज्यादा दीजिए सिर्फ रोड का टोल! नए रेट लागूकांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए KN त्रिपाठी का नामांकन पत्र रद्द, मल्लिकार्जुन खड़गे और शशि थरूर में मुकाबला41 साल के शख्स को 142 साल की जेल, केरल की अदालत ने इस अपराध में सुनाई यह सजाBihar News: बिहार में और सख्त होगी शराबबंदी, पहली बार शराब पीते पकड़े गए तो घर पर चस्पा होंगे पोस्टर, दूसरी और तीसरी बार में मिलेगी ये सजास्वच्छता अभियान 2022 शुरू, 100 लाख किलो प्लास्टिक जमा करने का लक्ष्यसैनिटरी पैड के लिए IAS से भिड़ने वाली बिहार की लड़की को मुफ्त मिलेगा पैड, पढ़ाई का खर्च भी शून्यएयरपोर्ट पर 'राम' को देख भावुक हो गई बुजुर्ग महिला, छूने लगी अरुण गोविल के पैर, आस्था देख छलके आंसू
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.