script3 and a half thousand patients reduced in 6 days | 6 दिन में कम हो गए साढ़े 3 हजार मरीज, गुजर चुका है तीसरी लहर का पीक! | Patrika News

6 दिन में कम हो गए साढ़े 3 हजार मरीज, गुजर चुका है तीसरी लहर का पीक!

दैनिक संक्रमण में गिरावट

भोपाल

Updated: January 29, 2022 01:28:55 pm

भोपाल. मध्यप्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर की पीक शायद निकल चुकी है. कोरोना की स्थिति बतानेवाले सारे संकेतकों को देखें तो ऐसा ही लगता है कि प्रदेश में तीसरी लहर का पीक गुजर चुका है. प्रदेश में पिछले 6 दिनों से दैनिक संक्रमण में लगातार गिरावट देखी जा रही है. चार दिन से तो सक्रिय संक्रमण में जबर्दस्त कमी देखी जा रही है.

corona_update1.png

लोगों के लिए यह अच्छी खबर है कि कोरोना संक्रमण का पीक टाइम अब ढलान पर दिखने लगा है। पिछले 6 दिन के हेल्थ बुलेटिन पर नजर डाली जाए तो नए प्रकरणों में कमी आई है। एक्टिव केस की गति भी धीमी पड़ी है।

आंख खोलते आंकड़े: अस्पताल में भर्ती मरीजों में 275 आईसीयू-एचडीयू में , 692 मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर

नए केस मिलने और स्वस्थ होने वालों की संख्या करीब-करीब बराबरी पर आ गई है। सबसे ज्यादा इंदौर जिले में नए संक्रमित मिलते थे, जो धीरे-धीरे कम होते जा रहे हैं। हालांकि एक्सपर्ट अभी भी लापरवाही भारी पड़ने की बात कह रहे हैं.

ऑफलाइन ही होंगे बोर्ड एग्जाम पर आगे बढ़ेगी डेट, जल्द घोषित होगा परीक्षा का नया टाइमटेबिल

corona_death.png

तीसरी लहर में इन अंगों पर पड़ रहा सबसे बुरा प्रभाव, वेंटिलेटर से बचा रहे जान

प्रदेश में बीत साले दिसंबर के मध्य से नए केस बढऩे लगे थे। हालांकि वैज्ञानिकों ने पूर्व में ही बता दिया था तीसरी लहर देश में नवंबर में आएगी। मप्र में तीसरी लहर का व्यापक असर दिसंबर के आखिर से दिखना शुरू हो गया था। जनवरी में हर दिन 500 से ज्यादा केस मिलने लगे थे.

साढ़े तीन लाख लोगों को सरकार ने दिए 875 करोड़ रुपये, आप भी चेक कर लीजिए अपना बैंक खाता

22 जनवरी तक नए केस 11274 तक पहुंच गए। इसके बाद से नए केस की संख्या में तेजी से कमी हो रही है। शुक्रवार को महज 7763 मरीज मिले. इस तरह नए केसेस में करीब साढ़े 3 हजार मरीज कम हो गए.

यह भी पढ़ें : एक्ट्रेस ने अपने अंडरगारमेंट से भगवान को जोड़ा, हुई FIR, किया ऐसा कमेंट कि भड़क उठे लोग

हालांकि जांचें में थोड़ा कम हुई हैं। पहले 83 हजार के आसपास सैंपल लिए जाते थे। अब संख्या 70 और 80 हजार पर पहुंच गई है।

यह भी पढ़ें : सावधान! बिना लक्षण के हो रहे संक्रमित, सीधे जान ले रहा कोरोना, जानिए इन मरीजों की कहानी

पॉजिटिविटी दरों में क्रमश: कमी और स्थिरता आई है। बताया जाता है कि अभी भी 90 प्रतिशत संक्रमित होम क्वारंटीन ही हैं। देश की तरह ही अब मध्यप्रदेश में भी ओमिक्रान वेरिएंट का असर ज्यादा नहीं दिख रहा है.

यह भी पढ़ें :एक्ट्रेस की गंदी बात, ब्रा से भगवान को जोड़ा, जानिए ऐसा क्या कहा कि मच गया बवाल
हालांकि एक्सपर्ट ये भी कह रहे हैं कि हो सकता है कि ओमिक्रान की व्यापक तौर पर पहचान ही नहीं हो पाई हो. यह तथ्य भी सामने आया है कि ज्यादातर बिना लक्षणों के मरीजों में ओमिक्रान पाया गया है.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

नोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेरपुलिस में मामला दर्ज, नाराज कांग्रेस विधायक का इस्तीफा, जानें क्या है पूरा मामलाDelhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणाज्ञानवापी मस्जिद: नौ तालों में कैद वजूखाना, दो शिफ्टों में निगरानी कर रहे CRPF जवान, महंतो का नया दावापाकिस्तान व चीन बॉडर पर S-400 मिसाइल तैनात करेगा भारत, जानिए क्या है इसकी खासियतप्रयागराज में फिर से दिखा लाशों का अंबार, कोरोना काल से भयावह दृश्य, दूर-दूर तक दफ़नाए गए शव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.