script3 days in 5500 candidates filled the nomination form | 3 दिन में 5500 उम्मीद्वारों ने भरे नामांकन फार्म, आयुक्त ने दिए खास निर्देश | Patrika News

3 दिन में 5500 उम्मीद्वारों ने भरे नामांकन फार्म, आयुक्त ने दिए खास निर्देश

पंचायत चुनाव के तहत अब तक 5 हजार से अधिक उम्मीद्वारों ने नामांकन फार्म जमा कर दिए हैं.

भोपाल

Updated: June 03, 2022 12:18:19 pm

भोपाल. पंचायत चुनाव के तहत अब तक 5 हजार से अधिक उम्मीद्वारों ने नामांकन फार्म जमा कर दिए हैं, इतने नामांकन महज 3 दिन में जमा हुए हैं, अभी नामांकन फार्म भरने की अंतिम तिथि में 5 दिन का समय शेष है, 6 जून नामांकन की अंतिम तिथि रहेगी, इसके बाद 10 जून तक उम्मीद्वार नाम वापस ले सकते हैं, अन्यथा इसी दिन चुनाव चिन्हों का वितरण हो जाएगा।

3 दिन में 5500 उम्मीद्वारों ने भरे नामांकन फार्म, आयुक्त ने दिए खास निर्देश
3 दिन में 5500 उम्मीद्वारों ने भरे नामांकन फार्म, आयुक्त ने दिए खास निर्देश


आपको बतादें कि 30 मई से शुरू हुई नामांकन फार्म भरने की प्रक्रिया में 1 जून शाम तक करीब 5536 उम्मीद्वारों ने नामांकन फार्म भर दिए हैं, जिसमें 114 ने पंचायत सदस्य, 412 ने जनपद पंचायत सदस्य, 3073 ने सरपंच और करीब 1937 ने पंच पद के लिए नामांकन फार्म भरे हैं।

इसके बाद तीन चरण में होगा मतदान
मध्यप्रदेश में पंचायत चुनाव के तहत तीन चरणों में मतदान होगा, पहला चरण 25 जून, दूसरा चरण 1 जुलाई व तीसरा चरण 8 जुलाई को रहेगा, इन तीनों चरणों में मतदान का समय सुबह 7 बजे से दोपहर 3 बजे तक रहेगा। इसके बाद पंच-सरपंच और जनपद पंचायत सदस्य के लिए परिणाम की घोषणा 14 जुलाई और जिला पंचायत सदस्य की घोषण 15 जुलाई को हो जाएगी।

यह भी पढ़ें : हारे का सहारा, श्याम हमारा, इन शब्दों ने ही ढूंढ निकाले महिलाओं को लूटने वाले शातिर बदमाश

18 जुलाई को पूरे प्रदेश में आदर्श आचार संहिता समाप्त
प्रदेश में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयुक्त ने चुनाव की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक आयोजित की, जिसमें निर्वाचन आयुक्त ने कलेक्टर और एसपी को सख्ती से आचरण संहिता लागू करने के निर्देश दिए हैं। वहीं कलेक्टर और एसपी को एक साथ भ्रमण करने के निर्देश दिए हैं। निर्वाचन आयुक्त ने शिकायत निवारण सेल और कंट्रोल रूम स्थापित करने के भी निर्देश दिए हैं। ताकि प्रदेश में आचार संहिता का किसी भी प्रकार से उल्लंघन नहीं हो। इसी के साथ अधिकारियों को महत्वपूर्ण घटनाओं की वीडियोग्राफी अनिवार्य रूप से कराने को कहा गया है। शस्त्र लाइसेंस निलंबन, संपत्ति विरूपण, कोलाहल नियंत्रण और सीआरपीसी के तहत प्रभावी कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। 18 जुलाई को पूरे प्रदेश में आदर्श आचार संहिता समाप्त हो जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: संजय राउत का बड़ा दावा, कहा-मुझे भी गुवाहाटी जाने का प्रस्ताव मिला था; बताया क्यों नहीं गएक्या कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी में होने वाले हैं शामिल?कानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशानाआतंकी सोच ऐसी कि बाइक का नम्बर भी 2611, मुम्बई हमले की तारीख से जुड़ा है नंबर, इसी बाइक से भागे थे दरिंदेपाकिस्तान में चुनावी पोस्टर में दिख रहीं सिद्धू मूसेवाला की तस्वीरें, जानिए क्या है पूरा मामलानूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट लिखने पर अमरावती में दुकान मालिक की हुई हत्या!Maharashtra Politics: उद्धव और शिंदे के बीच सुलह कराना चाहते हैं शिवसेना के सांसद, बीजेपी का बड़ा दावा-12 एमपी पाला बदलने के लिए तैयारदक्षिणी ईरान में आए 4 अलग-अलग भूकंप, 5 लोगों की मौत कई घायल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.