script3 thousand crore increase in exports due to grains | खाद्यान्नों की जबर्दस्त मांग, निर्यात में 3 हजार करोड़ की बढ़ोतरी, जानिए किसानों को कैसे होगा लाभ | Patrika News

खाद्यान्नों की जबर्दस्त मांग, निर्यात में 3 हजार करोड़ की बढ़ोतरी, जानिए किसानों को कैसे होगा लाभ

विदेशों में बढ़ी डिमांड

भोपाल

Published: April 03, 2022 05:21:57 pm

भोपाल. देश के कुल निर्यात में मप्र की हिस्सेदारी वर्तमान में महज 2.25% है लेकिन ये तेजी से बढ़ रही है। मध्यप्रदेश में बनी दवाई और कॉटन यार्न के साथ ही खाद्यान्न की भी दुनियाभर में मांग बढ़ रही है। यही कारण है कि इस बार मध्यप्रदेश का निर्यात पहली बार करीब 60 हजार करोड़ पर पहुंच सकता है। रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण वैश्विक स्तर पर मप्र के खाद्यान्नों की मांग बढ़ती जा रही है। इसका लाभ खासतौर पर प्रदेश के गेहूं किसानों को मिला है और खाद्यान्न में अभी भी लाभ उठाने की गुंजाइश है। अप्रैल माह के मध्य तक आनेवाले पिछले वित्तीय वर्ष के अंतिम आंकड़े में प्रदेश का निर्यात रिकार्ड स्तर पर पहुंचने की संभावना जताई जा रही है।

grains.png
3 thousand crore increase in exports due to grains

अधिकारियों के अनुसार खासतौर पर फार्मा सेक्टर में निर्यात तेजी से बढ़ा है। इस सेक्टर मप्र का योगदान देश के कुल निर्यात में 6.5% हो चुका है। 1 साल से कोविड-19 की दवाओं की भारी मांग के चलते फार्मा सेक्टर में एमपी का निर्यात बढ़कर 10 हजार करोड़ रुपए तक पहुंच जाने की उम्मीद है। पिछले साल प्रदेश से 6550 करोड़ की दवाएं विदेश भेजी गईं थी।

इधर पिछले कुछ माहों में खाद्यान्नों का भी निर्यात तेजी से बढ़ा है। रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद तो मप्र के खाद्यान्नों की वैश्विक स्तर पर जबर्दस्त मांग है। एक्सपर्ट बताते हैं कि इससे हमारे निर्यात में करीब 3 हजार करोड़ रुपए की बढ़ोतरी हो सकती है। मंडीदीप इंडस्ट्रीयल एसोसिएशन के पदाधिकारी बताते हैं कि 2—3 माह से तो इतनी अधिक मांग थी कि निर्यात के लिए ड्राईपोर्ट में कंटेनर कम पड़ रहे थे। विदेशों के लिए माल भेजने के लिए 15 दिन तक का इंतजार करना पड़ रहा था। खाद्यान्नों की मांग में तेजी के बाद अब सरकार ने कंटेनर भी बढ़ा दिए हैं।

एक्सपर्ट बताते हैं कि गेहूं के निर्यात के बाद अब मध्यप्रदेश के किसान सोयाबीन से भी खासा लाभ कमा सकते हैं। प्रदेश के सोयाबीन उत्पाद विदेशियों को खूब पसंद आ रहे हैं। यहां से 2,240 करोड़ सोया केक निर्यात किया गया जबकि अन्य सोया उत्पाद का निर्यात 2,054 करोड़ रुपए का रहा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.