चार बड़े शहरों की 30 सीटों पर 300 दावेदार

चार बड़े शहरों की 30 सीटों पर 300 दावेदार

anil chaudhary | Publish: Sep, 03 2018 08:48:13 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

भाजपा संगठन के सामने नाम का चयन बड़ी चुनौती
भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर में दावेदार सबसे ज्यादा

अरुण तिवारी की रिपोर्ट @ भोपाल. प्रदेश भाजपा में विधानसभा चुनाव के दावेदार बढ़ रहे हैं। सबसे ज्यादा दावेदार भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर की सीटों के हैं। इन चारों शहरों में 30 विधानसभा सीटें हैं। इनके लिए करीब 300 नेता दावेदारी जता चुके हैं। इन शहरों के महापौर भी दावेदारी कर रहे हैं। इन 30 सीटों में से कांग्रेस के पास सिर्फ छह हैं। चूंकि, इन शहरों में बड़े नेताओं का सीधा प्रभाव है, इसलिए भाजपा के सामने उम्मीदवार के चयन की बड़ी समस्या है। भोपाल के टिकट मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के हिसाब से तय होती हैं।

इंदौर में टिकट तय करने के लिए सुमित्रा महाजन और कैलाश विजयवर्गीय की सहमति जरूरी होती है। ग्वालियर में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, सिंधिया घराना और अंचल के छह मंत्रियों का दखल है। जबलपुर में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह के खुद के हिसाब से टिकट तय किए जाएंगे।
- किस शहर में कितने दावेदार
भोपाल : भाजपा की पांच सीटों पर बड़े नेताओं की दावेदारी है। दक्षिण-पश्चिम सीट पर लगातार तीन बार से विधायक और राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता के अलावा ध्रुवनारायण सिंह, शैलेंद्र प्रधान और सुरेंद्रनाथ सिंह भी टिकट चाहते हैं। नरेला से दो बार के विधायक और राज्यमंत्री विश्वास सारंग के अलावा रमेश शर्मा गुट्टू भैया और चेतन सिंह दावेदारी कर रहे हैं। मध्य से सुरेंद्रनाथ सिंह के अलावा ध्रुवनारायण सिंह, आलोक संजर और राहुल कोठारी भी टिकट चाहते हैं। गोविंदपुरा से बाबूलाल गौर के अलावा कृष्णा गौर, तपन भौमिक और महापौर आलोक शर्मा उम्मीदवार बनना चाह रहे हैं। हुजूर से विधायक रामेश्वर शर्मा को भगवानदास सबनानी, जितेंद्र डागा, भागीरथ पाटीदार से चुनौती मिल रही है।
इंदौर : इंदौर-1 से दो बार के विधायक सुदर्शन गुप्ता की जगह सत्यनारयण सत्तन ने दावेदारी पेश कर दी है। इंदौर-2 सीट कैलश विजयवर्गीय की सीट है। उन्होंने रमेश मेंदोला को दो बार टिकट दिलवाई है। आकाश विजयवर्गीय भी यहां से उम्मीदवार हो सकते हैं। इंदौर-3 में ऊषा ठाकुर के अलावा गोपीकृष्ण नेमा और गोविंद मालू भी टिकट चाहते हैं। इंदौर-4 से विधायक और महापौर मालिनी गौड़ चुनाव लड़ती हैं। अब शंकर ललवानी, कृष्णमुरारी मोघे और कैलाश शर्मा दावेदारी कर रहे हैं। राउ से जीतू जिराती, मधु वर्मा और बलराम वर्मा दावेदार हैं।


ग्वालियर : मंत्री माया सिंह की सीट ग्वालियर पूर्व से सतीश सिकरवार और जयसिंह कुशवाहा टिकट चाहते हैं। ग्वालियर ग्रामीण पर भरत सिंह कुशवाहा के अलावा अनूप मिश्रा की नजर है। ग्वालियर दक्षिण में मंत्री नारायण सिंह कुशवाहा के अलावा महापौर विवेक शेजवलकर, अभय चौधरी और राकेश जादौन दावेदारी कर रहे हैं। अनूप मिश्रा भितरवार से भी टिकट चाहते हैं।


जबलपुर : भाजपा की परंपरागत सीट रही जबलपुर पश्चिम पिछले चुनाव में कांग्रेस के तरुण भानौट के पास चली गई थी, लेकिन यहां पर इस बार सबसे ज्यादा दावेदार हैं। महापौर स्वाति गोडबोले के पति सदानंद गोडबोले, हरेंद्रजीत सिंह बब्बू, दीपांकर बैनर्जी, प्रभात साहू और अजय विश्नोई बड़े दावेदार हैं। जबलपुर उत्तर से राज्यमंत्री शरद जैन की सीट पर विनोद मिश्रा और अजय विश्नोई की दावेदारी है। जबलपुर केंटोनमेंट पर अशोक रोहाणी के अलावा कमलेश अग्रवाल दावेदार हैं।

 

Ad Block is Banned