4 महीने की मासूम को पिता ने दी ऐसी सजा, जानकर कांप जाएगी आपकी रूह

चाइल्ड लाइन की तफ्तीश में सामने आई हैरान कर देने वाली सच्चाई, पिता की हैवानियत आई सामने..

By: Shailendra Sharma

Published: 24 Dec 2020, 02:26 PM IST

भोपाल. महज 4 महीने की एक मासूम पर उसके बेरहम पिता ने इस कदर सितम ढाए कि आपभी उसकी दास्तां सुनकर कांप उठेंगे। पूरे मामले का सच उस वक्त सामने आया जब मासूम को माता-पिता ही बेहद ही दर्दभरी हालत में इलाज के लिए भोपाल के एम्स अस्पताल लेकर पहुंचे। बच्ची का इलाज शुरु हुआ और जब डॉक्टर्स ने जांच की तो पता चला कि बच्ची के शरीर में कई जगह फ्रैक्चर हैं जिनके दर्द से बच्ची तड़पड़ती रहती है।

चाइल्ड लाइन की तफ्तीश में सच का खुलासा
सागर जिले से दर्दभरी हालत में एम्स में लाई गई मासूम बच्ची के बारे में जब चाइल्ड लाइन को सूचना मिली तो चाइल्ड लाइन की टीम ने मामले की तफ्तीश शुरु की। माता-पिता से बच्ची की हालत के बारे में पूछा तो पहले तो पिता चाइल्ड लाइन की टीम को बातों में घुमाता रहा और खुद इस बात से पूरी तरह अंजान बनने की कोशिश करता रहा लेकिन बाद में उसने सच कबूल लिया। आरोप है कि बच्ची की इस दर्दभरी स्थिति का जिम्मेदार उसका पिता ही और पिता की हैवानियत के कारण ही मासूम दर्द से बिलखती रहती है।

aiims.jpg

इंजेक्शन लगने पर रोने के कारण पटकता था पिता
बताया जा रहा है कि मासूम बच्ची को जब भी टीके का इंजेक्शन लगता था तो वो काफी रोती थी और इसी बात से उसका पिता नाराज होकर उसे बिस्तर पर पटकता था। पिता के बेरहमी से पटकने के कारण बच्ची के शरीर में कई जगह फ्रैक्चर हो गए हैं जिसके कारण अब उसके शरीर में काफी दर्द होता है और वो दर्द से रोती रहती है। बच्ची की नाक, हाथ-पैर सहित कई हिस्सों में फ्रैक्चर होने का पता चला है। इसके साथ ही एक पैर पर ऐसा जख्म है जैसे कि किसी ने उसे चाकू से काटा हो। एम्स के डॉक्टर्स का कहना है कि बच्ची की हड्डियां अलग अलग समय पर टूटी हैं, बच्ची की सर्वाइकल कंडीशन अच्छी है इसलिए हड्डियां अपने आप जुड़ भी रही हैं लेकिन आशंका है कि जैसे जैसे बच्ची की उम्र बढ़ेगी तो उसके हाथ-पैर और दूसरे अंग विकृत हो सकते हैं।

 

देखें वीडियो- एक जैसी बीमारी से ग्रसित हैं सगे भाई, सरकारी मदद की दरकार

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned