script5 thousand for H3N2 test in private pathology | खतरनाक एच3एन2 की नहीं हो रही जांच, 5 हजार तक वसूल रहे प्राइवेट पैथोलॉजी वाले | Patrika News

खतरनाक एच3एन2 की नहीं हो रही जांच, 5 हजार तक वसूल रहे प्राइवेट पैथोलॉजी वाले

locationभोपालPublished: Mar 18, 2023 09:40:39 am

Submitted by:

deepak deewan

इंफ्लुएंजा वायरस जैसे लक्षणों वाले मरीजों की भीड़, एडवाइजरी के बावजूद कोविड गाइड लाइन का सख्ती से पालन नहीं, जांच की सुविधा न ही बचाव, एच3एन2 के मरीज बढ़े, जीएमसी में किट ही नहीं, सिविल में आरटीपीसीआर टेस्ट, जांच के नाम पर निजी पैथोलॉजी ले रही हैं 1200 से 4900 रुपए

virus18m.png
इंफ्लुएंजा वायरस जैसे लक्षणों वाले मरीजों की भीड़

भोपाल. सरकारी अस्पतालों में एच3एन2 इंफ्लुएंजा वायरस जांच की कोई खास व्यवस्थाएं नहीं है। इससे प्राइवेट पैथोलॉजी वाले जांच के नाम पर 5 हजार रुपए तक वसूल रहे हैं। इस खतरनाक बीमारी जैसे लक्षणों वाले मरीजों की भीड़ लगातार बढ़ रही है लेकिन, न तो कोई मास्क लगा रहा है न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है। यह तब हो रहा है जब केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने कोविड गाइड लाइन की सख्त पालन करने के निर्देश दिए हैं। इससे स्थितियां और बिगड़ रही हैं।

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.