script60 lakh liters of water is being wasted every day in the capital | राजधानी में हर रोल 60 लाख लीटर पानी हो रहा है बर्बाद | Patrika News

राजधानी में हर रोल 60 लाख लीटर पानी हो रहा है बर्बाद

- बिना जरूरत आरओ के उपयोग से व्यर्थ बह रहा अमृत, शरीर में मिनरल्स की कमी का भी खतरा

- एनजीटी ने आरओ पर रोक लगाने के साथ दिए थे पॉलिसी बनाने और लोगों को इसके नुकसान के बारे में जागरूक करने के निर्देश

भोपाल

Published: June 27, 2022 06:20:16 pm

भोपाल@सुनील मिश्रा

राजधानी में जरूरत के बिना भी पेयजल शुद्ध करने आरओ यानी रिवर्स ऑस्मोसिस सिस्टम का प्रयोग लगातार बढ़ रहा है। जबकि इससे स्वास्थ्य और पर्यावरण को होने वाले नुकसान को देखते हुए एनजीटी ने दिल्ली में इस पर रोक लगा दी थी। हालांकि बाद में सुप्रीम कोर्ट ने यह रोक हटा दी।

water.png

लेकिन एनजीटी ने सरकार को इस संबंध में पॉलिसी बनाने और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को आरओ सिस्टम के संबंध में लोगों को जागरूक करने के लिए कहा था, यह भी नहीं हुआ। जबकि आरओ सिस्टम के चलते हर दिन भोपाल में लगभग 60 लाख लीटर पानी बर्बाद हो रहा है। लोगों में मिनरल्स की कमी होने का खतरा भी बढ़ रहा है।

जानकारों के अनुुसार जहां एक ओर पानी की बर्बादी गर्मी के दिनों में प्रदेश के अनेक जिलों को प्रभावित करती है। वहीं जानकारों का ये भी कहना है कि ये बर्बाद होने वाला पानी पृथ्वी की पानी की पूर्ति करने की जगह इसे बंजर बनाने का कार्य करता है।
टीडीएस की मात्रा 500 मिलीग्राम से कम होने पर प्रतिबंध
नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने पीने के पानी में टीडीएस की मात्रा 500 मिलीग्राम से कम होने पर आरओ पर प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिए थे। यानी जिन जगहों में ये मात्रा मानक से कम है, वहां के लोगों को आरओ का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। राजधानी में ज्यादातार पेयजल की सप्लाई कोलार, नर्मदा और केरवा डैम से हो रही है।
ऐसे स्रोतों के पानी में टीडीएस कम होता है। आमतौर पर ग्राउंड वाटर होने पर इसकी जरूरत होती है। इसके बावजूद हर व्यक्ति घर में आरओ लगवा रहा है। अभी यहां लगभग डेढ़ लाख घरों में आरओ सिस्टम लगे हुए हैं।
फैक्ट फाइल
: भोपाल में हाउसहोल्ड- 4 लाख

: आरओ सिस्टम लगे- 1.5 लाख

: एक परिवार में प्रतिदिन औसत पानी की खपत- 20 लीटर

: आरओ द्वारा- 20 लीटर के शुद्धीकरण में बाहर निकलने वाला पानी- 40 लीटर
: प्रतिदिन बर्बाद होने वाला पानी- 60 लाख लीटर

यह होता है टीडीएस

टीडीएस या टोटल डिजॉल्व्ड सॉलिड्स का मतलब है पानी में घुले हुए ठोस तत्व। पानी में घुले खनिजों को आमतौर पर घुलित ठोस यानी टीडीएस कहा जाता है। जैसे कि कैल्शियम या मैग्नीशियम क्लोराइड, कैल्शियम और मैग्नीशियम सल्फेट आदि। इन खनिजों के कारण ही पानी का स्वाद ज्यादा या कम खारा होता है।

एनजीटी ने आरओ सिस्टम पर रोक लगाने के निर्देश दिए थे। लेकिन इसके लिए अभी तक कोई लीगल फ्रेमवर्क तैयार नहीं हो पाया है। इसलिए कोई कार्रवाई आगे नहीं बढ़ी है। लोगों को जरूर टीडीएस की जांच कराकर ही आरओ सिस्टम लगवाने का फैसला लेना चाहिए। एक लीटर पानी में 500 एमजी से कम टीडीएस होने पर आरओ का प्रयो नहीं करना चाहिए।
- ब्रजेश शर्मा, रीजनल अधिकारी एमपीपीसीबी

यह है नुकसान
पर्यावरणविद डॉ सुभाष सी पांडे के अनुसार आरओ यानी रिवर्स ऑस्मोसिस से पानी शुद्ध करने के लिए लिए काफी पानी चाहिए होता है। यदि आरओ में तीन लीटर पानी छानने के लिए डालें तो एक लीटर साफ पानी आता है और 2 लीटर बाहर निकल जाता है। इससे पानी की तीन गुनी मात्रा बर्बाद होती है।

इसके साथ आरओ सिस्टम उन मिनरल्स को भी छान देता है जो शरीर के लिए जरूरी हैं। जैसे आयरन, मैग्नीशियम, कैल्शियम और सोडियम जैसे तत्व भी छन जाते हैं। आरओ पानी में पाए जाने वाले सॉल्ट से क्षारीय खनिज को हटा देता है। इससे पानी अम्लीय हो जाता है और पेट की समस्या पैदा करता है। हमीदिया अस्पताल के डॉ मनुज शर्मा के अनुसार शरीर की अंदरूनी क्रियाओं को सुचारू रूप से संचालित करने और सैल्स के निर्माण में मिनरल्स बहुत जरूरी होते हैं। इससे कई बीमारियां हो सकती हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

PM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकातजम्मू कश्मीर में टेरर लिंक मामले में बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्तFlag Code Of India: 'हर घर तिरंगा' अभियान शुरू, 15 अगस्त से पहले जानिए तिरंगा फहराने के नियम, अपमान पर होगी जेलMaharashtra: शिंदे कैबिनेट के विस्तार के बाद अब विभागों के बंटवारे पर फंसा पेंच, इन मंत्रालयों पर नहीं बन पा रही बातनीरज चोपड़ा को हराने वाले वर्ल्ड चैम्पियन एथलीट से पार्टी में हुई जमकर मारपीट, अधमरा कर बोट से नीचे फेंकाCoronavirus News Live Updates in India: सोनिया गांधी और मीरा कुमार को फिर हुआ कोरोना'प्लीज फिल्म का बायकॉट मत कीजिए', खाली सिनेमाघरों और कैंसिल शोज को देखते हुए बदले Kareena Kapoor के सुर, अब लोगों से कर रहीं रिक्वेस्ट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.