ई-बाहा कॉम्पीटिशन में दौड़ेगी मैनिट स्टूडेंट्स की बनाई रेसिंग कार

6.50 लाख की लागत से किया है तैयार, इंदौर में 22 जनवरी से होगा ई-बाहा कॉम्पीटिशन

By: Mukesh Vishwakarma

Updated: 03 Jan 2020, 08:43 AM IST

भोपाल। मैनिट की टीम इस बार बाहा की जगह ई-बाहा कॉम्पीटिशन में हिस्सा लेगी। 22 से 26 जनवरी तक इंदौर में होने वाला कॉम्पीटिशन बाहा में देशभर की करीब 285 टीमें और ई-बाहा में 95 टीमें हिस्सा लेंगी। 4 घंटे की रिले रेस में हर टीम को करीब 120 से 130 किलोमीटर तक ट्रैक पर ऑल टेरेन व्हीलक दौड़ाकर दूसरी टीमों से टक्कर लेनी होगी। ई-बाहा के लिए रेसिंग कार को इलेक्ट्रीकल और मैकेनिकल डिपार्टमेंट के 25 स्टूडेंट्स की टीम ने 6 माह की मेहनत से तैयार किया है। इसे तैयार करने में करीब 6.5 लाख की लागत आई है।

ई-बाहा पर किया फोकस
टीम को लीड कर रहे सौरभ कमल ने बताया कि ई-व्हीलक में बैटरी के कारण वेट काफी बढ़ जाता है। रेसिंग कार का वजन कम करना हमारे लिए बड़ी चुनौती थी। हमने इसके लिए बैटरी को खौस तौर पर डिजाइन कराया। 110 एम्पीयिर की बैटरी 110 मिनट में पूरी तरह से चार्ज हो जाती है। गाड़ी का साइज इस बार काफी कॉम्पैक्ट किया गया है। वेट कम रखने के लिए एच आम्र्स का यूज किया है। अभी इसका वेट करीब 190 किलोग्राम है। ये कार 52 से 55 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ सकती है।

पूरा डिजाइन नए सिरे से किया गया तैयार
टीम को गाइड कर रहे डॉ. आरके मंडलोई ने बताया कि चूंकि इलेक्ट्रीकल व्हील की डिमांड तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में इस बार बाहा की जगह ई-बाहा कॉम्पीटिशन पर फोकस किया गया है। इसके लिए कार की डिजाइन नए सिर से तैयार की गई। सीवी की जगह यूवी एक्सल का यूज किया गया। एलॉय व्हील से 5 किलोग्राम वेट कम हुआ। वहीं, 4.5 किलोवॉट की मोटर और 38 न्यूटन मीटर टॉक जनरेट का यूज किया गया है। इससे कार को एक्ट्रा पावर मिलेगी।

Mukesh Vishwakarma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned