रहवासियों की इस परेशानियों का अब तक नहीं हुआ समाधान

रहवासियों की इस परेशानियों का अब तक नहीं हुआ समाधान

deepak tripathi | Publish: Sep, 05 2018 03:08:40 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

खाली मकान बने रहवासियों की परेशानी

कोलार/भोपाल. क्षेत्र में खाली प्लॉट और मकान कोलारवासियों के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। खाली प्लॉट्स को कचराघर में तब्दील कर दिया गया है, जिसके कारण आसपास गंदगी पसरी रहती है, साथ ही बीमारियां फैलेने का खतरा हमेशा बना रहता है।

इसी तरह कोलार के विभिन्न क्षेत्रों में खाली पड़े मकान खंडहर में तब्दील हो गए हैं, जिनकी मरम्मत की फिक्र मकान मालिकों को नहीं है, वहीं इन खाली पड़े मकानों में असामाजिक तत्वों ने अपना डेरा जमा लिया है। वार्ड 83 स्थित आम्र स्टेट और फाइन एवेन्यू कॉलोनी के पास बरसों से आधा दर्जन आधे निर्मित मकान हैं। इन मकानों में शाम ढलते ही शराबखोरी एवं जुआ सट्टा आदि आपराधिक गतिविधियां संचालित की जाती हैं। इसकी शिकायत कई बार रहवासियों द्वारा पुलिस से की गई है, पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है। इससे स्थानीय रहवासियों में आक्रोश व्याप्त है।

कार्रवाई का देते हैं भरोसा

रहवासियों का आरोप है कि खाली आवासों में असामाजिक तत्वों के जमघट के कारण रहवासियों में भय व्याप्त रहता है। नशे में ये सभी आपस में गाली गलौज करते है। कई बार मारपीट तक की स्थिति बन जाती है। शाम को इस मार्ग से महिलाओं द्वारा आवाजाही नहीं की जाती । जब रहवासियों ने इसकी शिकायत कोलार थाने में की, तो कार्रवाई का भरोसा दिया गया, पर अभी तक कार्रवाई नहीं होने से रहवासी दहशत में हैं।

कोलार में लगभग 500 से अधिक खाली प्लॉट अधूरे निर्माण कर छोड़े गए हैं जो अब खंडहर में तब्दील हो गए हैं। इस संबंध में रहवासियों ने कई बार शिकायत कर प्रशासन का ध्यान इस ओर दिलाया है, लेकिन इसके बावजूद हालात जस के तस बने हुए हैं। मेरे पास अभी तक कोई शिकायत नहीं आई है। अगर कोई भी नागरिक शिकायत करता है, तो मकान मलिकों पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी।
सुशील कुमार वर्मा, टीआई, कोलार

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned