एक खीरे में हैं 10 बड़े फायदे, ये है इसके खाने का सबसे सही तरीका

खीरे में विटामिन ए, बी1, बी6 सी,डी पौटेशियम, फास्फोरस, आयरन आदि प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं।

भोपाल। क्या आप जानते हैं कि खीरा खाना न केवल स्वास्थ्य के लिए बल्कि खूबसूरती के लिए भी फायदेमंद है। कम फैट व कैलोरी से भरपूर खीरे का सेवन आपको कई गंभीर बीमारियों से बचाने में सहायक है। सलाद के तौर पर प्रयोग किए जाने वाले खीरे में इरेप्सिन नामक एंजाइम होता है, जो प्रोटीन को पचाने में सहायता करता है। खीरा में 96% पानी होता है। खीरे में विटामिन ए, बी1, बी6 सी,डी पौटेशियम, फास्फोरस, आयरन आदि प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं। खीरा कब्ज के साथ-साथ पेट की अन्य बीमारियों से भी मुक्ति दिलाता है।

cucumber

बालों और स्किन की चमक बढ़ाए
खीरे में सिलिकन व सल्फर बालों की ग्रोथ में मदद करते हैं। खीरे के जूस को गाजर व पालक के जूस के साथ भी मिलाकर पीने से जल्दी फायदा होता है। फेस मास्क में शामिल खीरे के रस त्वचा में कसाव लाता है। इसके अलावा खीरा त्वचा को सनबर्न से भी बचाता है। खीरे में मौजूद एस्कोरबिक एसिड व कैफीक एसिड पानी की कमी को कम करता है।

monsoon-1335708/" target="_blank">MUST READ: HEALTH: मानसून में खाना करता है बीमार, कुछ ऐसी रखें डाइट

कैंसर और डायबिटीज में फायदा
खीरा के नियमित सेवन से कैंसर के खतरे को कम करता है। खीरे में साइकोइसोलएरीक्रिसेल, लैरीक्रिसेल और पाइनोरिस्क्रोल तत्व होते हैं। ये तत्व सभी तरह के कैंसर की रोकथाम में सहायक हैं। इसके अलावा खीरे के रस में वो तत्व हैं जो पैनक्रियाज को सक्रिय करते हैं। पैनक्रियाज सक्रिय होने पर शरीर में इंसुलिन बनती है। इंसुलिन शरीर में बनने पर मधुमेह से लडऩे में मदद मिलती है। खीरा खाने से कोलस्ट्रोल का स्तर कम होता है। खीरा में फाइबर, पोटैशियम और मैगनीशियम होता है जो ब्लड प्रेशर दुरुस्त रखने में अहम भूमिका निभाते हैं। खीरा हाई और लो ब्लड प्रेशर दोनों में ही एक तरह से दवा का कार्य करता है।


आंखों को देता है ठंडक
फेसपैक लगाने के बाद आंखों की जलन से बचने के लिए खीरे को स्लाइस की तरह काटकर आंखों की पलक के ऊपर पर रखते हैं। इससे आंखों को ठंडक मिलती है। खीरा की तासीर जलन कम करने की होती है। जब भी आंखों में जलन महसूस हो तो आप खीरे की मदद ले सकते हैं। खीरे के एक टुकड़े को जीभ से मुंह के ऊपरी हिस्से पर आधा मिनट तक रोके। ऐसे में खीरे से निकलने वाला फाइटोकैमिकल मुंह की दुर्गंध को खत्म करता है।

cucumber

जोड़ों की असरकारी दवा
खीरे में सीलिशिया प्रचुर मात्रा में होता है। इससे जोड़ों को मजबूती मिलती है और टिशू परस्पर मजबूत होते हैं। गाजर और खीरे का जूस मिलाकर पीने पर गठिया बाय रोग में मदद मिलती है। इससे यूरिक एसिड का स्तर भी कम होता है।
Show More
Brajendra Sarvariya
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned