आखिरी सप्ताह में किसी दिन शुरू हो सकता है एयरकार्गो, तैयारियां पूरीं, 3 एयरलाइंस आईं आगे

स्पाइस जेट, एयर इंडिया और इंडिगो आईं आगे, अभी इंदौर से बुक कराना पड़ता है सामान,

By: KRISHNAKANT SHUKLA

Published: 05 Sep 2019, 08:02 AM IST

भोपाल। राजाभोज एयरपोर्ट के पुराने टर्मिनल भवन (ओल्ड एयरपोर्ट) से सितंबर के आखिरी सप्ताह में किसी दिन एयरकार्गो शुरू हो सकता है। शुरुआत में तीन एयरलाइंस, स्पाइस जेट, एयर इंडिया और इंडिगो, एयरकार्गो के लिए आगे आईं हैं। इसके लिए पुराने टर्मिनल भवन में हब की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी हैं। सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे, एक्सरे मशीन, एक्सप्लोसिवे ट्रेस डिटेक्टर व एयरपोर्ट क्लीयरेंस से संबंधित अन्य काउंटर की व्यवस्था की जा चुकी है, सिर्फ मशीनें लगना बाकी है।

 

संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव बुधवार को ओल्ड एयरपोर्ट स्थित कार्गो हब का निरीक्षण करने पहुंचीं। वहां उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जल्द से जल्द काम खत्म कर इसी माह के आखिरी सप्ताह में एयरकार्गो की शुरूआत करना है। अभी अनुमान के तौर पर २८ सितंबर डेट मानकर चल रहे हैं।

 

करीब तीन माह की मश्कत के बाद भोपाल एयरपोर्ट से पहली बार शुरू होने जा रहे एयरकार्गों से भोपाल और आस-पास के टेक्सटाइल इंडस्ट्री, सब्जी, दवाओं और अन्य गुड्स सामान का ट्रांसपोर्टेशन करने वाले व्यापरियों का १६६० टन का माल इंदौर एयरपोर्ट जाता है। भोपाल एयरपोर्ट से जाने वाली अलग-अलग उड़ानों में अभी ११० टन का माल ही ले जाया जाता है। अधिकारियों को उम्मीद है कि इसके शुरू होने के तीन चार दिन के अंदर ही इंदौर जाने वाला माल भोपाल एयरपोर्ट पर शिफ्ट हो जाएगा।

 

ज्यादा बुकिंग से बढ़ेगा 12.5 करोड़ सालाना का बिजनेस

जानकार बताते हैं कि एयरकार्गो के रफ्तार पकडऩे के बाद भोपाल से बुक होकर जाने वाले माल से ही एयरलाइंस कंपनियों का करीब 12.5 करोड़ रुपए का बिजनेस बढ़ सकता है। भोपाल से दवा उत्पादकों का 30 टन कार्गो हर माह बाया इंदौर जाता है। इसके लिए टेम्प्रेचर कंट्रोल सुविधा एयरलाईंस को देनी होंगी। राजधानी में टेक्सटाइल इंडस्ट्री भी है, इसका 20 टन कार्गो हर माह निर्यात होता है और इतना ही आयात। जानकार बताते हैं कि भोपाल से एयरकार्गो शुरू होने के बाद यहां के रेट इंदौर से कम हो सकते हैं। इसके अलावा बड़े स्तर पर फल सब्जी का भी आयात और निर्यात होता है।

 

एनएसएस से वापस ली 13 एकड़ जमीन

कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने बताया कि कार्गो हब बनाने के लिए ओल्ड टर्मिनल भवन और एनएसएस की १३ एकड़ जमीन वापस लेकर करीब ३० एकड़ जमीन उपलब्ध करा दी गई है। इसी में पार्र्किंग, कोल्ड स्टोरेज व अन्य व्यवस्थाएं भी की जाएंगी।

 

सितंबर के आखिरी सप्ताह में किसी दिन एयरकार्गो की शुरूआत हो जाएगी। अभी तीन एयरलाइंस आगे आईं हैं। इसके लिए व्यवस्थाओ का निरीक्षण भी किया है।
- कल्पना श्रीवास्तव, संभागायुक्त

KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned