'बल्लामार' विधायक आकाश विजयवर्गीय ने नोटिस भेजने के 13 दिन बाद मांगी माफी, कहा- अब ऐसा काम नहीं करूंगा

'बल्लामार' विधायक आकाश विजयवर्गीय ने नोटिस भेजने के 13 दिन बाद मांगी माफी, कहा- अब ऐसा काम नहीं करूंगा

Pawan Tiwari | Updated: 18 Jul 2019, 11:27:06 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

  • 26 जून को आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम के अधिकारी को बैट से पीटा था।
  • भोपाल की विशेष अदालत से आकाश विजयवर्गीय को जमानत मिली थी।

भोपाल. भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय ( akash vijayvargiya ) ने नगर निगम अफसर को बैट से पीटने के मामले में माफ़ी मांग ली है। आकाश विजयवर्गीय ने प्रदेश भाजपा संगठन को अपना माफीनामा भेज दिया है। आकाश ने अपने कृत्य पर एक लाइन में माफी मांगी है।

 

इसे भी पढ़ें- कैलाश ने आकाश विजयवर्गीय को बताया- कच्चा खिलाड़ी, निगम अधिकारियों के बहाने अपने ही मेयर पर बोला हमला

 

4 जुलाई को भेजा गया था नोटिस
बैटकांड में आकाश विजयवर्गीय को भाजपा ने 4 जुलाई को नोटिस भेजा था। आकाश विजयवर्गीय के मामले में पीएम मोदी ( pm modi ) ने नाराजगी जताई थी जिसके बाद पार्टी ने आकाश को नोटिस भेजा था। वहीं, पार्टी ने आकाश को जबाव के लिए 14 दिन का समय दिया था। आकाश विजयवर्गीय ने 13 दिन घटना पर माफी मांगी है।

 

 

एक लाइन में मांगी माफी
आकाश विजयवर्गीय ने अपने लेटर में एक लाइन में लिखकर माफी मांगी है। सूत्रों के अनुसार, आकाश विजयवर्गीय ने लेटर में लिखा है, आकाश विजयवर्गीय ने कहा- भविष्य नें कभी भी इस तरह का कोई कार्य नहीं करने का वचन देता हूं।

दिल्ली भेजा गया जबाव
प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने आकाश विजयवर्गीय के जबाव को दिल्ली भेज दिया है। ये जबाव भाजपा के केन्द्रीय संगठन को भेजा गया है।

 

 

क्या है मामला
आकाश विजयवर्गीय इंदौर-3 से बीजेपी विधायक है। 26 जून को गंजी कंपाउंड इलाके में एक जर्जर मकान तोड़ने गए नगर निगम के अफसर को उन्होंने बैट से पीटा था। वहीं, उनके समर्थकों के साथ पुलिस के साथ भी झड़प हुई थी। इस घटना के बाद चार दिन तक आकाश को जेल में रहना पड़ा था। उसके बाद भोपाल की विशेष अदालत से आकाश विजयवर्गीय को जमानत मिली थी।

 

इसे भी पढ़ें- आकाश के मुद्दे पर पीएम मोदी की नाराजगी के बाद इन 5 नेताओं पर हो सकती है कार्रवाई, 3 पूर्व मंत्री भी शामिल

 

क्या कहा था पीएम मोदी ने
आकाश विजयवर्गीय की घटना पर प्रधानमंत्री मोदी ने भाजपा की संसदीय दल की बैठक में नाराजगी जताई थी। पीएम मोदी ने बैठक में कहा था कि ऐसे लोगों को पार्टी से बाहर कर देना चाहिए वो चाहे किसी का भी बेटा हो।

 

उत्तराखंड के विधायक को पार्टी से निकाला गया
बीजेपी ने उत्तराखंड के खानपुर क्षेत्र के विधायक कुंवर प्रणव सिंह 'चैंपियन' को पार्टी से निकाल दिया है। उन्हें भारतीय जनता पार्टी (BJP) से छह साल के लिए निष्कासित किया गया है। हाल ही में प्रणव सिंह का हथियार लहराते हुए डांस करने का वीडियो सामने आया था। वहीं, आकाश विजयवर्गीय को केवल अभी तक नोटिस दिया गया है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned