वर-वधु को 7 वचनों के साथ मतदान करने के लिए दिलाया आठवां वचन

वर-वधु को 7 वचनों के साथ मतदान करने के लिए दिलाया आठवां वचन

Ram kailash napit | Publish: May, 08 2019 03:03:03 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

अक्षय तृतीया पर जगह-जगह हुए सामाजिक संगठनों के सामूहिक विवाह

भोपाल. अक्षय तृतीया के अक्षय मुहूर्त पर मंगलवार को गली-गली बैंड बाजे और शहनाई की गूंज पर थिरकते बाराती, उत्साह और उमंग का माहौल था, कहीं दूल्हे राजा घोड़े पर सवार थे। कहीं ऊंट पर तो कहीं दूल्हा-दुल्हन ट्रॉलियों में बैठी थी। ढोल ढमाकों पर बाराती जमकर नाच रहे थे। विवाह समारोहों में गर्मी से बचने के लिए जतन भी करते लोग नजर आए। पंडाल में दूल्हे राजा को गर्मी न लगे इसलिए कोई हाथ से पंखा चला रहा था तो कोई आइस्क्रीम खिला रहा था।
मौका था अक्षय तृतीया पर शहर में आयोजित विवाह सम्मेलनों का। मंगलवार को राजधानी में सामूहिक विवाह सम्मेलनों के अधिक शादियां हुई। नगर निगम की ओर से शहर में 10 स्थानों पर अलग-अलग समाजों के सामूहिक विवाह सम्मेलन के दौरान 200 से अधिक जोड़े परिणय बंधन में बंधे। सामूहिक विवाह सम्मेलनों में शहर के पंडितों ने अनेक स्थानों पर विवाह के सात वचनों के साथ मतदान के लिए आठवां वचन भी दिलाया।

यहां भी हुए सामूहिक विवाह सम्मेलन
चित्रांश जनकल्याण समिति की ओर से जवाहर चौक जैन मंदिर में सामूहिक विवाह सम्मेलन हुआ, इसमें दो जोड़ों का विवाह हुआ। खटिक समाज का सम्मेलन यादगारे शाहजहांनी पार्क में हुआ। नागर धाकड़ समाज का सामूहिक विवाह नई जेल के पास पलासी में आयोजित किया गया, इसमें 24 जोड़ परिणय बंधन में बंधे। सर्वविश्वकर्मा समाज का विवाह सम्मेलन प्रियंका नगर कोलार में हुआ, इसमें 40 जोड़ों का विवाह हुआ।

पाल समाज: ट्रॉलों में दुल्हन, ऊंट पर दूल्हे
पाल समाज की ओर से सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन बावडिय़ा कला स्थित रूद्राक्ष रेसीडेंसियल ग्राउंड पर हुआ। इसमें 30 से अधिक जोड़े विवाह के गठबंधन में बंधे। शाहपुरा से बारात निकाली गई, इसमें ट्रॉलों में दुल्हन और ऊंट पर दूल्हे बैठे थे, जो विभिन्न मार्गों से होते हुए आयोजन स्थल पर पहुंची।


फूल माली समाज: 25 जोड़ों का हुआ सामूहिक विवाह
फूल माली समाज की ओर से सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन जगदीशपुर गांव में किया गया। इसमें 25 जोड़े विवाह के गठबंधन में बंधे। सामूहिक विवाह सम्मेलन समिति के अध्यक्ष हरिनारायण माली और समाज के अध्यक्ष गीता प्रसाद माली ने बताया कि समाज की ओर से लगातार 23 वर्षों से यह आयोजन किया जा हा है। जगदीशपुर स्थित राम मंदिर से 25 दूल्हों की सामूहिक बारात निकाली गई जो विभिन्न मार्गों से होते हुए आयोजन स्थल पहुंचेगी। यहां विधि विधान के साथ विवाह की रस्मे हुई। बड़ी संख्या में समाज के लोग उपस्थित थे।

 

राजपूत समाज: 21 जोड़े बंधे परिणय सूत्र में
ईश्वर नगर गेट के पास गुलमोहर में राजपूत समाज सोशल वेलफेयर सोसायटी, राजपूत करणी सेना की ओर से सामूहिक विवाह का आयोजन हुआ। इसमें 21 जोड़े विवाह के पवित्र बंधन में बंधे। बारात महाकाल मंदिर से निकाली गई, जो आयोजन स्थल पहुंची। यहां विवाह की रस्में हुई।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned