scriptAmarnath Yatra 2022: Yatra will resume after two years frome 30 june | Amarnath Yatra 2022: दो साल बाद फिर से होंगे बाबा बर्फानी के दर्शन, जानें कब से शुरू होगी यात्रा | Patrika News

Amarnath Yatra 2022: दो साल बाद फिर से होंगे बाबा बर्फानी के दर्शन, जानें कब से शुरू होगी यात्रा

43 दिनों तक चलेगी अमरनाथ यात्रा और परंपरा के अनुसार रक्षा बंधन के दिन होगी सम्पन्न ।

भोपाल

Published: March 31, 2022 05:59:35 pm

भोपाल. फिछले दो साल से बाबा बर्फानी के दर्शनों के लिए इंतजार कर रहे भक्तों के लिए बड़ी खबर है। बाबा अमरनाथ यात्रा के लिए तारीखों का एलान हो गया है। दो साल से कोरोना महामारी के चलते इस यात्रा को स्थगित कर दिया गया था। अब देश प्रदेश में कोरोना के मरीजों की संख्या कम होने के बाद इस बार अमरनाथ यात्रा को भी मंजूरी मिल गई है।

amarnath_yatra_2022.png

जम्मू-कश्मीर उपराज्यपाल कार्यलय ने बताया है कि इस बार अमरनाथ यात्रा 30 जून, 2022 से शुरू होगी, यात्रा सभी कोविड प्रोटोकॉल के साथ शुरू होगी। अमरनाथ यात्रा की परंपरा के अनुसार यात्रा का समापन रक्षा बंधन के दिन होता है। साल 2022 में अमरनाथ यात्रा 43 दिनों तक चलेगी।

यह भी पढ़ेंः खुशखबरीः तीर्थ दर्शन योजना की पहली ट्रेन की तारीख तय, ऐसे करें एप्लाई

दरअसल हिन्दुओं का एक प्रमुख तीर्थस्थल अमरनाथ जम्मू काश्मीर राज्य के श्रीनगर शहर के उत्तर-पूर्व में 135 किलोमीटर दूर और समुद्रतल से 13,600 फुट की ऊंचाई पर स्थित है। इस गुफा की लंबाई (भीतर की ओर गहराई) 19 मीटर, 11 मीटर ऊंची और चौड़ाई 16 मीटर है। अमरनाथ को तीर्थों का तीर्थ माना जाता है, मान्यता है कि भगवान शिव ने मां पार्वती को इसी गुफा में अमरत्व का रहस्य बताया था। गुफा में बर्फ का शिवलिंग स्वयं ही प्रकट होता है, इसलिए इनको बाबा बर्फानी भी कहते हैं।

साल 2022 में बाबा अमरनाथ यात्रा पर जाने के लिए 11 अप्रैल से रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएंगे। यात्रा में एक दिन में सिर्फ 10 हजार तीर्थयात्रियों को ही पैदल यात्रा की अनुमति होगी। वही हेलीकॉप्टर से यात्रा करने वाले भक्तों की संख्या अलग से निर्धारित की जाएगी। श्राइन बोर्ड के मुताबिक गांदरबल जिले में बालटाल से और अनंतनाग जिले के पहलगाम दोनों ही ट्रेक से एक साथ यात्रा शुरू की जाएगी।

बाबा अमरनाथ की यात्रा के लिए सरकार ने नियम शर्तों को भी निर्धारित किया है। यात्रा का मार्ग जोखिमों से भरा है, यात्रा में 6 हफ्ते से ज्यादा गर्भवती महिलाएं और 75 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग को जाने की अनुमति नहीं होगी। साथ ही 13 साल से कम उम्र के बच्चे भी अमरनाथ की यात्रा नहीं कर सकेंगे।

श्री अमरनाथ यात्रा 2022 पंजीकरण प्रक्रिया
देश भर में विभिन्न बैंकों की शाखाओं के माध्यम से श्री अमरनाथ यात्रा 2022 का पंजीकरण किया जा सकेगा। इसके लिए सबसे पहले आने वाले को आधार पर पंजीकरण और यात्रा परमिट किया जाएगा। एक यात्रा परमिट बस एक यात्री पंजीकरण के लिए मान्य होगा। आवेदन पत्र और अनिवार्य स्वास्थ्य प्रमाणपत्र यात्रा हर यात्री को प्रस्तुत करना होगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.