Oil Price Hike: मध्य प्रदेश में अब और बढ़ सकते हैं पेट्रोल डीजल के दाम

US-ईरान तनाव से कच्‍चे तेल के भाव में 4 फीसदी की तेजी आई... Crude oil prices up

भोपाल। देश india में लगातार बढ़ रहे पेट्रोल के दामों के बीच एक बार फिर कच्‍चे तेल crude oil के भाव में तेजी speed up आने से जल्द ही पेट्रोल के दामों में बढ़ौतरी increase in Petrol prices हो सकती है।

जिसका सबसे अधिक असर मध्य प्रदेश madhya pradesh में पढ़ेगा, दरअसल पहले से ही महंगे तेल को लेकर जुझ रहे मध्यप्रदेश में अब एक बार फिर पेट्रोल के दामों Petrol prices में बढ़ौतरी Increase जनता के लिए परेशानी का सबब बन सकती है।

ये है कारण...
दरअसल, अमेरिका की बगदाद एयरपोर्ट Baghdad Airport पर एयर स्ट्राइक यानि हवाई हमले में ईरानी मेजर जनरल कासिम सुलेमानी Iranian Major General Qasim Sulemani समेत 8 लोगों के मारे जाने की खबर है। जिससे अमेरिका America और ईरान Iran के बीच तनाव बढ़ गया है।

वहीं अमेरिका और ईरान के बीच तनाव की वजह से कच्‍चे तेल के भाव में 4 फीसदी की तेजी आ गई है, जिसका सीधा असर मध्य प्रदेश सहित देश के विभिन्न हिस्सों में भी पड़ने का अनुमान है। इस हमले में कासिम के अलावा इराक में ईरानी समर्थक सशस्त्र बल Iranian pro-armed forces के डिप्टी कमांडर अबू महदी अल-मुहांदिस की भी मौत हो गई।

भारत : खतरे की घंटी! Danger Alarm bells ...
जानकारों की मानें तो कच्‍चे तेल के भाव में तेजी की वजह से भारत में महंगाई बढ़ने की आशंका है। दरअसल, कच्चे तेल के भाव बढ़ने की वजह से हमें दूसरे देशों से इसे खरीदने पर खर्च अधिक करना पड़ता है और चालू खाता घाटा भी बढ़ जाता है।

वहीं कच्‍चे तेल के भाव में उछाल की वजह से रुपए पर भी दबाव बढ़ जाता है, ऐसे में भारत को तेल खरीदने पर अधिक डॉलर खर्च करने पड़ते हैं। इसके अलावा जानकारों का मानना है कि इसका प्रभाव केवल भारत पर ही न होकर पूरी दुनिया world will be highly effected पर पड़ने के आसार है।

मध्यप्रदेश में ऐसे पड़ेगा असर... effect on madhya pradesh
जानकारों के अनुसार भारत इरान से मुख्य रूप से कच्चा तेल आयात करता है, ऐसे में कच्‍चे तेल के भाव में तेजी भारत के लिए परेशानी का कारण बन सकती है। वहीं यदि सरकार की ओर से तेल को महंगा किया जाता है। तो मध्यप्रदेश में जहां अभी देश का सबसे महंगा तेल मिलता है। वहां एक बार फिर जनता को अत्यधिक महंगे तेल का सामना करना पड़ेगा।

जानकारों की मानें तो अभी मध्यप्रदेश में तकरीबन हर जगह पेट्रोल 80 रुपए प्रति लीटर से महंगा चल रहा है। ऐसे में विश्व बाजार में कच्चे तेल के भाव में हुए इजाफे के चलते यदि देश की सरकार भी इसके दामों में बढ़ौतरी करती है। तो मध्यप्रदेश में यही तेल 90 से 100 रुपए प्रति लीटर का भाव पहुंच सकता है।

ये पड़ेगा आप पर असर : Effects On You
जानकारों का कहना है कि कच्‍चे तेल के भाव में तेजी की वजह से तेल कंपनियों पर पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाने का दबाव बढ़ जाता है। पेट्रोल-डीजल के भाव बढ़ने की वजह से महंगाई बढ़ जाती है।

वहीं महंगाई का असर सब्‍जी से लेकर रोजमर्रा की जिंदगी में इस्‍तेमाल होने वाले प्रोडक्‍ट पर भी पड़ता है। महंगाई कम होने की वजह से रिजर्व बैंक पर दबाव कम रहता है और ऐसे में वह ब्याज दर में कटौती कर सकता है। ब्‍याज दर कटौती का मतलब ये है कि आपके लोन और ईएमआई कम हो जाते हैं।

यहां बता दें कि भारत अपनी कुल जरूरत का 80 फीसदी से अधिक तेल आयात करता है। एक अनुमान के मुताबिक तेल की कीमतों में प्रति डॉलर बढ़त से भारत का सालाना आयात बिल 10,700 करोड़ रुपये बढ़ जाता है। साल 2018-19 में भारत ने 111.9 अरब डॉलर मूल्य के तेल का आयात किया था।

कच्‍चा तेल Crude oil : 4 फीसदी की तेजी
अमेरिका और ईरान के बीच तनाव की वजह से कच्‍चे तेल के भाव में 4 फीसदी की तेजी आ गई है। ज्ञात हो कि अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर पिछले कुछ महीनों से कच्‍चे तेल के भाव में तेजी देखने को मिल रही है। अक्टूबर 2019 में कच्‍चे तेल का भाव 59.70 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था। वहीं नवंबर में यह करीब 63 डॉलर हो गया। इसी तरह दिसंबर में कच्‍चे तेल का भाव 65 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गया है।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned