scriptAnatomy virtual table will remove the shortage of dead bodies in medic | मेडिकल कॉलेजों में डेड बॉडी की कमी दूर करेगी anatomy virtual table | Patrika News

मेडिकल कॉलेजों में डेड बॉडी की कमी दूर करेगी anatomy virtual table

- प्रदेश के सभी मेडिकल कालेजों में होगी इस टेबल की सप्लाई

- मरीजों को भी इसके जरिए बताया जा सकेंगा कि आप शरीर में किस अंग में किस तरह की दिक्कतें आ रही हैं

भोपाल

Published: March 27, 2022 10:49:52 pm

भोपाल।Practical in Medical Colleges करने के लिए डेड बॉडी की कमी कोanatomy virtual table दूर करेगी। इसमें शरीर के आंतरिक संरचना विज्ञान को 3-डी प्रिंट पर देकर MBBS की पढ़ाई कर रहेdoctor operation करने का अनुभव कर सकेंगे। सरकार इस टेबल को सभी मेडिकल कालेजों में सप्लाई करने की तैयारी कर रही है, जिससे कि सभी विद्यार्थियों को इसमें बार-बार प्रैक्टिकल का अनुभव लेकर आपरेशन तथा शारीरिक संरचना में पारंगत हो सकें।
इस टेबल के जरिए एमआरआई रिपोर्ट को भी 3-D Print के फ्रेम में देखा जा सकेगा। इसके बाद मरीजों को भी इसके जरिए बताया जा सकेंगा कि आप शरीर में किस अंग में किस तरह की दिक्कतें आ रही हैं। इसमें किसी भी व्यक्ति के जीवित अथवा मृत व्यक्ति के पूरे डटा और संरचना को साफ्टवेयर के जरिए अपलोड किया जा सकेगा। इसके साथ तीन से अधिक बड़ी-बड़ी tv screen भी लगाई जा सकेगी। इससे डॉक्टर शरीर के छोटे-छोटे अवयवों से लेकर सभी तंत्रों को उसी तरह से देखा जा सकेगा, जैसे कि कोई वास्तव में शरीर हो।
gandhi_medical_collage.jpg

क्यों पड़ी इसकी जरूरत
दर असल आधार नम्बर अनिवार्य होने के बाद लावारिश लाशों की परिभाषा अब धीरे-धीरे खत्म होती जा रही है। इससे मेडिकल कॉलेजों को लावारिश डेड बॉडी अब मिलना बंद होती जा रही है। वैसे भी मेडिकल कालेजों में एक-दो डेड बॉडी से ही पूरे M B B S करने वाले विद्यार्थी सर्जरी तथा शरीरिक संरचना विज्ञान सीखते हैं और प्रैक्टिकल करते हैं। इसके अलावा अगर विद्यार्थी भूल जाते हैं अथवा उन्हें इसके संबंध में दोबारा पढऩा हो तो बहुत कम ही डेड बॉडी मिल पाती थी। इस टेबल के जरिए वे बार बार प्रैक्टिकल और विजुअल सीन देख सकेंगे।

ये है प्रदेश में मेडिकल सीटों की स्थिति
गाँधी मेडिकल कॉलेज, भोपाल-- 250

गजराज मेडिकलकॉलेज, ग्वालियर--180

महात्मा गाँधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज, इंदौर--250

नेताजी सुभाष चंद्र मेडिकल कॉलेज, जबलपुर---180

श्याम शाह मेडिकल कॉलेज, रेवा-----150

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज, सागर----125
गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, रतलाम----180

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, विदिशा----180

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, खांडवा----120

छिंदवाड़ा इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज, छिंदवाड़ा --100

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, शहडोल--100

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, शिवपुरी--100

दतिया मेडिकल कॉलेज, दतिया--120
गवर्नमेंट डेंटल कॉलेज, इंदौर----63

ये है देहदान की स्थिति ---
इंदौर में 5 साल में 213 देहदान, 900 पंजीयन, भोपाल में पांच साल में 129 ग्वालियर, जबलपुर में दो साल में नौ देहदान

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.