गुस्साई भीड़ थाने में घुसी, बाइक-बस में तोडफ़ोड़, पुलिस ने खदेड़ा तो किया चक्काजाम

Yogendra Sen

Publish: Mar, 14 2018 09:49:54 AM (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
गुस्साई भीड़ थाने में घुसी, बाइक-बस में तोडफ़ोड़, पुलिस ने खदेड़ा तो किया चक्काजाम

आत्महत्या के बाद समाज के लोगों ने मृतका के घर से गौतम नगर थाने तक कैंडल मार्च निकाला

भोपाल. गीतांजलि कॉलेज की छात्रा आरती की आत्महत्या के बाद समाज के लोगों ने मृतका के घर से गौतम नगर थाने तक कैंडल मार्च निकाला। मंगलवार शाम को निकाले गएमार्च में शामिल लोग सड़क किनारे खड़े वाहनों को भी गिराने लगे। एक बस का कांच भी तोड़ दिया। यह देख सड़क किनारे खुली दुकानें धड़ाधड़ बंद होने लगी। इसके बाद पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर मामला शांत कराया। वहीं इस मामले में एएसपी राजेश भदौरिया ने किसी भी तरह के बल प्रयोग से इंकार किया है।

मार्च में शामिल कलचुरी सेना के कौशल राय ने बताया कि इस घटना से पूरा शहर आहत है, आरोपी को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। इसी तरह करणी सेना ने मंगलवार दोपहर मुख्यमंत्री निवास पहुंचकर ज्ञापन सौंपा और आरोपी को कड़ी सजा देने की मांग की।

मां ने कहा- बेटी के हत्यारे को फांसी हो
आरती की मां और भाई भी कैंडल मार्च में शमिल हुए। भीड़ के साथ-साथ ये लोग गौतम नगर थाने तक पहुंचे। भीड़ को देखकर मां भावुक हो गई थी। उनकी आंखों में आक्रोश साफ दिख रहा था। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने बताया कि आरोपी ने मेरी बेटी पर गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया था। वो उसे परेशान करता था। दानिश कॉलोनी में भी अपने दोस्तों के साथ आकर गाली-गलौच करता था। मेरी बेटी के हत्यारे को फांसी होनी चाहिए।

एबीवीपी ने थाने के सामने की नारेबाजी, सौंपा ज्ञापन
आरती की आत्महत्या से आक्रोशित एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को थाने पहुंचकर नारेबाजी की। कार्यकर्ताओं ने ज्ञापन भी सौंपा। संगठन मंत्री अरुण दांगी ने कहा कि दनिश की वजह से ही आरती ने आत्महत्या की है। उसे फांसी की सजा दी जानी चाहिए।

अब कॉल डिटेल खंगाल रही पुलिस
गीतांजलि कॉलेज की छात्रा आरती राय की आत्महत्या मामले में पुलिस आरोपी और पीडि़ता के मोबाइल का कॉल रिकॉर्ड खंगाल रही है। पुलिस कॉल रिकॉर्ड आने के बाद ही किसी ठोस निष्कर्ष पर पहुंच पाएगी।

छेड़छाड़ से बचाने कलचुरी सेना शुरू करेगी हेल्पलाइन
भोपाल. बेटियों की मदद के लिए कलचुरी सेना ने एक हेल्पलाइन शुरू करने का निर्णय लिया है। इसमें शिकायत मिलने के बाद सेना के पदाधिकारी उसकी मदद के लिए आगे आएंगे। इसके साथ ही ये कानूनी मार्गदर्शन भी देंगे। सेना ने इसके लिए प्रयास शुरू कर दिए हैं। पदाधिकारियों का कहना है कि इसी माह से इसकी शुरुआत कर दी जाएगी, जो सभी के लिए होगा।

राजधानी के गीतांजलि कॉलेज की छात्रा आरती के साथ दानिश नामक युवक द्वारा छेड़छाड़ और मारपीट के बाद छात्रा द्वारा आत्महत्या करने की घटना के बाद कलचुरी सेना ने यह निर्णय लिया है, ताकि शहर में इस तरह की घटनाओं को रोका जा सके। सेना के जिलाध्यक्ष संतोष चौकसे ने बताया कि हमारा प्रयास है कि हम एक टोल फ्री नंबर उपलब्ध कराएं। इसके लिए महिला और पुरुष कार्यकर्ताओं की एक कमेटी भी बनाई जाएगी। उन्होंने बताया कि वैसे इस तरह के मामलों का संचालन महिला विंग ही करेगी।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned