जिस विक्रमजीत को पुलिस फरार बता रही वह शहर में खुलेआम घूम रहा है

कटारे के कहने पर मैं लड़की से मिलने गया। लड़की को बताया कि मामला रफा-दफा करने कटारे 8-10 लाख रुपए दे रहे हैं।

By: योगेंद्र Sen

Published: 10 Feb 2018, 08:50 AM IST

भोपाल. कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे 'हनी ट्रैप मामले के मुख्य सूत्रधार विक्रमजीत सिंह को पुलिस फरार बता रही है, जबकि विक्रमजीत शहर में खुलेआम घूम रहा है। ऐसा ही शुक्रवार को सोशल मीडिया में विक्रमजीत का एक वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें विक्रमजीत एमपी नगर इलाके में एक न्यूज चैनल के दफ्तर में पहुंचकर अपना पक्ष रख रहा है।

वायरल वीडियो में विक्रमजीत कह रहा कि विधायक कटारे के कहने पर वह छात्रा से मिला था। कंाग्रेस नेता कृष्णा घाडग़े ने कटारे से उसका संपर्क कराया था। मुलाकात के दौरान कटारे ने बताया था अप्रैल में उसकी शादी होने वाली है, लेकिन एक लड़की उसे परेशान कर रही है। लड़की से समझौता कराने के लिए कटारे ने मुझे मध्यस्थ बनाया। कटारे के कहने पर मैं लड़की से मिलने गया।

लड़की को बताया कि मामला रफा-दफा करने कटारे 8-10 लाख रुपए दे रहे हैं। इसके बाद मैं अलग हो गया। इसी बीच कटारे ने षड्यंत्र रचकर हम दोनों को फंसा दिया। 24 जनवरी को हेमंत कटारे की शिकायत पर क्राइम ब्रांच ने छात्रा और विक्रमजीत पर ब्लैकमेलिंग का मामला दर्ज किया था।

इधर, गिरफ्तारी की मांग को लेकर पैदल मार्च

शुक्रवार दोपहर विधायक कटारे की गिरफ्तारी की मांग को लेकर क्राइम ब्रांच थाने के सामने से बोर्ड आफिस चौराहे तक पैदल मार्च किया। इस दौरान छात्रा को समर्थन देने दर्जनों अन्य छात्राएं भी शामिल रहीं।

छात्रा ने कहा कि कटारे जब तक गिरफ्तार नहीं हो जाता वह चैन से नहीं बैठेंगी। कटारे का समर्थन करने वाले नेताओं पर भी छात्रा ने ओछी राजनीत करने का आरोप लगाया। वहीं, क्राइम ब्रांच एएसपी रश्मि मिश्रा पर कानूनी कार्रवाई की मांग की। इसी बीच पैदल मार्च का समर्थन करने पहुंचे भाजपा के कार्यकर्ताओं को छात्रा ने फटकार कर भगा दिया। छात्रा ने कहा उसे किसी के समर्थन की जरूरत नहीं है। उसके साथ कटारे ने गलत किया है, वह न्याय पाकर दम लेगी।

कटारे के लिए काम

कटारे ने विक्रमजीत को छात्रा का दलाल बताया था। इसके जवाब में विक्रमजीत ने कहा कि वह लड़की के लिए दलाली नहीं कर रहा था बल्कि कटारे का वह दलाल था। कटारे ने धोखा दिया। उसने आपस की बातचीत के मेरे कई वीडियो बनाए हैं।

इधर,विधायक निर्दोष, फंसाने की कोशिश: सिंधिया
कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे मामले में अभी तक चुप रहे सांसद ज्यातिरादित्य सिंधिया ने उनका बचाव करते हुए कटारे को निर्दोष बताया। साथ ही आरोप लगाया कि कांगे्रस विधायक को फंसाने की कोशिश हो रही है। इस मामले में कुछ भाजपा नेताओं के नाम भी सामने आ रहे हैं। इनकी जांच होना चाहिए। मुंगावली जाने के पहले सिंधिया ने शुक्रवार की सुबह मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच हो। साथ ही कहा कि हम सब विधायक कटारे के साथ हैं।

यादव ने बताया षड्यंत्र: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने भी कटारे का बचाव किया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार कटारे को फंसाने के लिए षड्यंत्र कर रही है। जबकि सभी घटनाक्रम पुलिस के सामने हुआ है।

 

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के बयान पर आपत्ति जताते हुए सवाल उठाया है कि क्या सिंधिया की पीडि़त छात्रा से भेंट हुई? क्या उन्होंने उस छात्रा का दुख जाना? और क्या उस छात्रा के साथ न्याय नहीं होना चाहिए? अपने बयान में झा ने कहा कि उनको और भाजपा को छात्रा के साथ जो कृत्य हुआ, उसका दुख है।

हमारा मानना है कि जिसने भी गलत काम किया है उसे सजा मिलनी चाहिए और जिसके साथ गलत हुआ है, उसे भी न्याय मिलना चाहिए। ज्योतिरादित्य सिंधिया इतने संगीन मामले का भी राजनैतिककरण करना चाहते है। झा ने सवाल क्या है कि क्या सिंधिया न्यायालयीन प्रक्रिया के अधीन चल रहे मामले में बिना जांच के किसी एक पक्ष के साथ खड़े होने को न्याय मानते है ?

मैं आरोप-प्रत्यारोप में भरोसा नहीं रखता : शिवराज

उधर होशंगाबाद में मीडिया से चर्चा करते हुए मुख्यंमत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मामले में कहा कि 'मैं आरोप-प्रत्यारोप में भरोसा नहीं रखता हूं और न ही कभी किसी को गाली देता हूं। उनका काम है गाली देना और वे ही यह करते रहते हैं।' मुख्यमंत्री से मीडिया ने सवाल किया था कि सिंधिया ने भाजपा पर कटारे को फंसाने का आरोप लगाया है।

Congress leader
योगेंद्र Sen Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned