मेडिकल कॉलेज में अपनों को रेवड़ी बांटने की तैयारी

मेडिकल कॉलेज में अपनों को रेवड़ी बांटने की तैयारी

KRISHNAKANT SHUKLA | Publish: May, 25 2018 07:57:29 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

संभावितों की लिस्ट में अधिकतर रसूखदारों के रिश्तेदार

भोपाल@रिपोर्ट - प्रवीण श्रीवास्तव

गांधी मेडिकल कॉलेज में असिस्टेंस प्रोफेसरों की भर्ती प्रक्रिया लगातार चल रही है। हर रोज शॉर्ट लिस्टेड उम्मीदवारों के इंटरव्यू लिए जा रहे हैं। सिलेक्टेड अभ्यर्थियों की लिस्ट इंटरव्यू प्रक्रिया पूरी होने के बाद ऑनलाइन की जाएगी। हालांकि इस प्रकिया पर अब सवाल खड़े होने लगे हैं। गांधी मेडिकल कॉलेज प्रबंधन पर आरोप लगाए जा रहे हैं कि प्रबंधन अपने खास लोगों का चयन पहले ही कर चुका है।

इसके साथ ही सोशल मीडिया पर इंटरव्यू में शामिल उन लोगों की एक लिस्ट भी वायरल हो रही है, जिनकी नियुक्ति लगभग हो चुकी है। यह सभी प्रत्याशी या तो गांधी मेडिकल कॉलेज में मौजूदा प्रोफेसरों या अन्य प्रभावशाली व्यक्ति के बेटा, बेटी या अन्य रिश्तेदार हैं। इस लिस्ट के सामने आने के बाद कॉलेज प्रशासन ने चुप्पी साध ली है।

दरअसल गांधी मेडिकल कॉलेज में ५१ पदों पर असिस्टेंस प्रोफेसरों की भर्ती प्रक्रिया चल रही है। इस प्रक्रिया पर शुरू से ही गड़बड़ी के आरोप लग रहे हैं। पब्लिक सर्विस कमिशन में नियमों के मुताबिक यदि आपका कोई रिश्तेदार अभ्यर्थी है तो उसे प्रक्रिया में शामिल नहीं किया जा सकता।

 

बिना पोस्ट के बना दिया असि. प्रोफेसर
इंटरव्यू में अपनों को फायदा देने के साथ ही डॉ. हिमांशु शर्मा के चयन पर भी उंगली उठने लगी है। दरअसल डॉ. हिमांशु शर्मा को विभाग ने बिना पद के ही नेफ्रोलॉजी विभाग में असि. प्रोफेसर बना दिया। अब जब इंटरव्यू प्रकिया शुरू हुई तो दोबारा इंटरव्यू देने को कहा गया। अब दिक्कत यह है कि ओपन इंटरव्यू में एक और अभ्यर्थी ने आवेदन किया है। आरोप है कि प्रबंधन ने इस अभ्यर्थी को दरकिनार कर डॉ. शर्मा का नाम फाइनल कर लिया है।

यह भी लगे आरोप
एमसीआइ के नियमों के मुताबिक किसी भी कॉलेज में भर्ती में प्राथमिकता उस संस्थान में काम कर रहे योग्य अभ्यर्थी को दी जाती है, लेकिन जीएमसी प्रबंधन इन हाउस केंडीडेट्स को इंटरव्यू में शामिल होने का मौका ही नहीं दिया जा रहा।

 एक अभ्यर्थी ने नहीं दिया इंटरव्यू

सूची मे शामिल डा. सोनिया सक्सेना शहर मे नहीं होने के चलते इंटरव्यू में शामिल नहीं हो पाईं। हालांकि उनका नाम डेमोस्ट्रेटर की शॉर्ट लिस्टेट केंडीडेंट की सूची में भी शामिल है। एेसे में अटकलें लगाई जा रही हैं कि डेमोस्ट्रेटर के पद पर इनका चयन आसानी से हो जाएगा।

 

यह है नाम - रिश्ता

रिचा चतुर्वेदी - पत्नी, डॉ. आनंद गौतम प्लास्टिक सर्जन
सोनिया सक्सेना - पत्नी , डॉ. निशांत श्रीवास्तव चेस्ट एंड टीबी डिपार्टमेंट

आर्चा शर्मा - पत्नी, डॉ. सौरभ शर्मा ऑर्थोपेडिक्स, बहु पूर्व डीन डॉ. पीके शर्मा
असीम रांगनेकर - इनके नाना नानी जीएमसी में पदस्थ थे

चंद्रशेखर बाघमारे - ग्वालियर से यहां आने के लिए ट्रांसफर कराया
हरसिंह मकवाना- इनकी कोई जानकारी नहीं

निधि गुप्ता - मंत्री उमाशंकर गुप्ता की रिश्तेदार
मधु चंचालानी - पत्नी, वरिष्ठ शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ. रोशन चंचलानी

कीर्ति केडिया - पत्नी, डॉ. यशवीर सिंह इएनटी
सारांश जैन - पुत्र, डॉ. आरके जैन एचओडी गेस्ट्रोलॉजी

ज्योति अरोरा - पुत्री, आला अधिकारी

एेसी कोई लिस्ट चल रही है इसकी मुझे कोई जानकारी नहीं है। हमने जो इंटरव्यू लिए हैं उनमें एेकेडमिक के ८० और इंटरव्यू के २० नंबर है। इसमें कौन किस का रिश्तेदार इसके बारे में कोई जानकारी नहीं। ४४ पदों पर सिलेक्शन हो चुका है।

अजातशत्रु श्रीवास्तव, कमिश्नर, भोपाल

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned