शिवराज के खिलाफ बुधनी से चुनाव लड़ेगा ये युवा नेता, किसान आंदोलन से मिली थीं सुर्खियां

शिवराज के खिलाफ बुधनी से चुनाव लड़ेगा ये युवा नेता, किसान आंदोलन से मिली थीं सुर्खियां

Manish Geete | Publish: Oct, 13 2018 02:23:02 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

शिवराज के खिलाफ बुधनी से चुनाव लड़ेगा ये युवा नेता, किसान आंदोलन से मिली थीं सुर्खियां

 

भोपाल। मध्यप्रदेश में किसान आंदोलन के दौरान जेल भेजे जाने और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ आंदोलन चलाने वाले युवा नेता अर्जुन आर्य कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। हाल ही में समाजवादी पार्टी ने उन्हें बुधनी से टिकट दिया था, लेकिन उन्होंने टिकट ठुकरा दिया है और वे कांग्रेस में शामिल हो गए। इनके साथ ही गोटेगांव से बीजेपी के पूर्व विधायक शेखर चौधरी ने भी कांग्रेस ज्वाइन कर ली।

दिल्ली में पढ़ाई करने के बाद मध्यप्रदेश की राजनीति में आए युवा नेता अर्जुन आर्य शनिवार को कांग्रेस कार्यालय पहुंचे और उन्होंने कांग्रेस की सदस्यता ले ली। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई। इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी साथ थे।

 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को दी चुनौती
कांग्रेस में शामिल होने से पहले अर्जुन आर्य ने मीडिया से कहा था कि वे किसानों की परेशानियों को देखते हुए कांग्रेस में शामिल हुए हैं। वे बुदनी से चुनाव लड़ना चाहते हैं और भाजपा सरकार के सफाया करने का दम रखते हैं। हाल ही में उन्हें समाजवादी पार्टी ने बुदनी से टिकट दिया था और उन्होंने लौटा दिया था। किसान नेता अर्जुन आर्य ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी वर्तमान सरकार को हटाने में सक्षम है। वे किसानों की परेशानी को देखते हुए कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं।

 

सबसे हाईप्रोफाइल सीट है बुदनी
यह सीट मध्यप्रदेश की सबसे हाईप्रोफाइल सीटों में से एक है। क्योंकि यहां से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चुनाव लड़ते हैं और वे लगातार चुनाव जीतते आ रहे हैं। समाजवादी पार्टी की तरफ टिकट मिलने के 24 घंटे में ही अर्जुन आर्य ने यह टिकट लौटा दिया है। उन्हें बुदनी सीट से लड़ने के लिए टिकट दिया गया था।

 

किसान आंदोलन के दौरान जेल गए थे अर्जुन
अर्जुन आर्य मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सीहोर में छिड़े किसान आंदोलन में के दौरान जेल गए थे। कुछ दिन बाद उन्हें जमानत मिल गई थी।


VIDEO जारी कर कांग्रेस से मांगा टिकट
अर्जुन आर्य ने एक वीडियो जारी कर समाजवादी पार्टी को टिकट वापस करने का कारण बताया, साथ ही कांग्रेस से भी टिकट मांगा था। अर्जुन ने अपने वीडियो में कहा था कि मैं कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से कहना चाहता हूं कि अर्जुन आर्य पर भरोसा करें। मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश के किसी भी कोने से चुनाव लड़ें और कांग्रेस यदि टिकट देती है तो वे शिवराज सरकार को समाप्त करने के बाद ही दम लेंगे।

अखिलेश दे चुके हैं कांग्रेस को झटका
इससे पहले अखिलेश यादव भी मध्यप्रदेश में कांग्रेस के साथ गठबंधन करने की संभावनाओं को खत्म कर चुके हैं। यादव ने संकेत दिए थे कि वे मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में बसपा के साथ गठबंधन करेंगे।


माया ने छोड़ा साथ
इससे तीन दिन पहले बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने भी साफ कर दिया था कि वो कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेगी और अपने दम पर चुनाव लड़ेगी। मायावती ने इस गठबंधन के नहीं होने के पीछे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को जिम्मेदार बताते हुए कहा था कि ऐसे लोग नहीं चाहते कि गठबंधन हो।

 

शेखर चौधरी भी कांग्रेस में शामिल
गोटेगांव से पूर्व विधायक रहे भाजपा नेता शेखर चौधरी भी कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। वे 1998 से 2003 तक विधायक रहे। चौधरी को भी कमलनाथ शपथ दिलाने जा रहे हैं।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned