केजरीवाल का दावा छापे में मिले कम्प्यूटर में दर्ज है पीएम मोदी के राज

देश में नोटबंदी कर जनता को लाइन में लगा दिया और खुद पैसे खा रहे हैं। उन्होंने कहा, बिड़ला के यहां छापा लगा तो वहां बरामद दस्तावेज में मोदी को लेन-देन का हिसाब मिला।

भोपाल। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। मंगलवार को केजरीवाल बोले कि बिड़ला और सहारा के यहां इनकम टैक्स के छापे में कम्प्यूटर में जो लिखा मिला, उसमें रिश्वत देने के प्रमाण हैं।

उसके कागज लेकर घूम रहा है। इसकी जांच कराई जानी चाहिए। इन कागजों में लिखा है कि किसे कितने पैसे दिए गए। पहले मैं मोदी को ईमानदार मानता था, लेकिन अब प्रमाण है कि मोदी रिश्वत लेते हैं। दिल्ली का सीएम बनने के बाद केजरीवाल मंगलवार को पहली बार भोपाल आए। उनके तेवर बेहद तीखे रहे। छोला स्थित दशहरा मैदान पर सभा में उन्होंने कहा, मोदी की नीयत ही खराब है। 
देश में नोटबंदी कर जनता को लाइन में लगा दिया और खुद पैसे खा रहे हैं। उन्होंने कहा, बिड़ला के यहां छापा लगा तो वहां बरामद दस्तावेज में मोदी को लेन-देन का हिसाब मिला। सहारा पर रेड हुई, तो भी लेन-देन के कागज मिले। वो कागज मेरे हाथ लग गए। अब जांच करा ली जाए। केजरीवाल ने कहा इनमें एमपी-सीएम और नीरज वशिष्ठ को लेन-देन का उल्लेख भी है।

माल्या का 1200 करोड़ कर्ज माफ
केजरीवाल ने कहा, मोदी की विजय माल्या से क्या रिश्तेदारी है?  मोदी ने नोटबंदी के बाद पिछले हफ्ते 1200 करोड़ रुपए माल्या का कर्ज माफ कर दिया? कुछ तो लिया होगा। यह माफी शक पैदा करती है कि रिश्वत ली होगी। अभी आठ लाख करोड़ रुपए मोदी और माफ करने वाले हैं। पूरे देश को बर्बाद कर दिया और कहते हैं कि 50 दिन दे दो, अरे बताओ क्या 1 जनवरी को हम पैसे निकाल सकते हैं या नहीं? यदि कालाधन लाना है तो मोदीजी के पास एक फाइल है जिसमें स्विस बैंक में कालाधान रखने वाले 648 लोगों के नाम है। 

उस फाइल में जिन लोगों के नाम है उन्हें जेल में डाल दो, शाम तक पूरा कालाधन खत्म हो जाएगा। लेकिन एेसा होगा नहीं। क्योंकि उस फाइल में मोदीजी के दोस्तों के नाम हैं। उस फाइल में मुकेश अंबानी, अनिल अंबानी, नरेश गोयल सहित सारे बड़े लोगों के नाम हैं। 
modi AAP
Show More
Juhi Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned