16 साल बाद फिर हॉकी का चैंपियन बना भारत, मलेशिया को हराया

मेजबान भारत ने गतविजेता मलेशिया को हराकर यहां खेली जा रही पांचवीं स्कूल एशियन हॉकी चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम कर गोल्ड मेडल जीता। भारत ने मलेशिया को 5-1 से पराजित किया।

By: Manish Gite

Published: 12 Apr 2017, 11:19 AM IST


भोपाल।  मेजबान भारत ने गतविजेता मलेशिया को हराकर यहां खेली जा रही पांचवीं स्कूल एशियन हॉकी चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम कर गोल्ड मेडल जीता। भारत ने मलेशिया को 5-1 से पराजित किया।

भारत का यह दूसरा खिताब है। इससे पहले भारत ने 2001 में लुधियाना में हुए इस चैंपियनशिप के फाइनल में बांग्लादेश को हराकर खिताब जीता था। भारत पहले हाफ में 4-1 से आगे रहा। जबकि दूसरे हाफ में 5-1 से जीत दर्ज कर इतिहास रचा। दर्शकों से खचाखच भरे एेशबाग स्टेडियम में भारत के लिए 11वें मिनट में मो. अलीशान (12वें) ने पहला गोल दागा।

पैनल्टी कॉर्नर को गोल में बदलकर प्रताप सिंह लाकरा (20) ने दूसरा गोल किया। इसके तीन मिनट बाद प्रताप सिंह लाकरा (23) तीसरा गोल दागा। पहला पैनल्टी कॉर्नर मलेशिया को मिला, लेकिन वे कोई गोल नहीं कर सकी। अनुअर ईसूक (32वें) ने मलेशिया से पहला गोल किया।

इसके बाद मो. आलीशान (34) ने चौथा गोल ठोका और टीम का स्कोर 4-1 कर दिया। पहले हाफ  टाइम तक भारत 4-1 से आगे रहा। दूसरे हाफ  में भारत से मनिन्दर सिंह (38) ने पांचवां गोल कर टीम को 5-1 की अजय बढ़त दिला दी। इसके बाद मलेशिया को कई पैनल्टी कॉर्नर मिले, लेकिन कोई गोल नहीं सक सकी।

मो. अलीशान बने मैन ऑफ द टूर्नामेंट
विजेता भारत ने टूर्नामेंट में कुल 70 गोल किए। जिसमें टीम के खिलाड़ी मो. अलीशान खान ने 23 गोल किए। उन्हें मैन ऑफ द टूर्नामेंट का पुरस्कार दिया गया।  
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned