MP में होने जा रही हजारों शिक्षकों की भर्ती, सीएम ने जारी किए आदेश!

MP में होने जा रही हजारों शिक्षकों की भर्ती

By: दीपेश तिवारी

Updated: 20 Jul 2018, 01:35 PM IST

भोपाल। प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने शिक्षकों की भर्ती के लिए आदेश जारी किए है। यह आदेश उन्होंने आज मंत्रालय में आयोजित बैठक में दिए। मध्यप्रदेश में होने वाली संविदा शिक्षक भर्ती के अंतर्गत जल्द ही नई भर्ती होने वाली है। पर, इस बार इस परीक्षा का नाम बदलकर मप्र शिक्षक भर्ती प्रक्रिया किया जा रहा है।

आपको बता दें कि इससे पहले शिवराज ने ऐलान दिया था कि प्रदेश में अब कोई भी संविदा भर्ती नहीं होगी। ऐसे में आगामी भर्ती को नियमित शिक्षक भर्ती प्रक्रिया कहा जा रहा है। फिल्हान अभी इस बात का पता नहीं चला है कि यह परीक्षा किसके अंतर्गत की जाएगी। भर्ती प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड करवाएगा या कोई अन्य माध्यम। इस बार इस परीक्षा का आयोजन 30 हजार रिक्त पदों के लिए किया जा रहा हैं।

बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज ने नियमित शिक्षकों की भर्ती के लिए प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। साथ ही यह भी बात सामने आई है कि सीएम ने अधिकारियों को आदेश दिए है कि वे 15 अगस्त से पहले पहले परीक्षा से संबंधित औपचारिकताएं पूरी कर लें। जबकि इससे पहले कहा गया था कि मप्र संविदा शिक्षक भर्ती प्रक्रिया शिक्षण सत्र शुरू होने से पहले समाप्त कर ली जाएगी।

चुनाव में फायदा
कुछ जानकारों का यह भी मानना है कि वर्ष 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव में वोट बैंक बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार ने 70 हजार युवाओं को नौकरी देने की प्रक्रिया को अब फिर शुरू कर दिया है।
जानकारों के अनुसार पिछली बार भी संविदा भर्ती चुनाव के ठीक पहले यानि 2011 में हुई थीं। जिसके बाद दो साल तक भर्ती की प्रकिया को खीचा गया। यही कारण था कि भाजपा को चुनाव में अच्छी खासी जीत मिली। परन्तु इस बार कहा जा रहा है कि यह परीक्षा हर साल करवाई जाएंगी।
पिछली बार यह परीक्षा 2014 में होनी थी, लेकिन आज तक नहीं हुई। चुनाव से पहले इस परीक्षा का होना, संदेह उत्पन्न कर रही है।

कई परीक्षार्थी कर रहे इंतजार
शिक्षक भर्ती परीक्षा का इंतजार, प्रदेश में करीब 10.23 लाख लोग कर रहे है। इस परीक्षा का इंतजार करते करते, कईयों की तो उम्र भी निकल गई। साथ ही मध्यप्रदेश के 80 हजार अतिथि शिक्षक इस परीक्षा में आरक्षण की मांग कर रहे है।

आदेश जारी
लंबे वक्त से अटकी हुई अतिथि शिक्षकों की भर्ती, सरकार जल्द पूरी करने जा रही है। जिसके तहत स्कूलों में शिक्षकों की कमी पूरी हो जाएंगी। इसके तहत आदेश जारी हो चुके है। जल्द ही आगे की प्रक्रिया भी शुरू की जाएगी। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि अतिथि शिक्षकों की ज्वाइनिंग भी स्कूलों में हो जाएगी। जिससे पढ़ाई में आ रही परेशानी दूर होने की आशा है। अगर भर्ती इसी माह से हुई तो ऐसे स्कूल यहां शिक्षक नहीं है, उन स्कूलों में जल्दी ही शिक्षकों की भर्ती होगी।

भोपाल से आए आदेश...
स्कूलों में शिक्षकों की कमी के बावजूद अतिथि शिक्षक नियुक्त करने में देरी पर भोपाल से आए आदेश हैं, जो इस प्रकार बताए जाते हैं...

प्राइमरी व हाई स्कूल में अतिथि शिक्षकों की ज्वाइनिंग 25 से 26 जुलाई तो हाई व हायर सेकंडरी में 22 जुलाई तक हो जाएगी। आवेदन जमा करने की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से जारी आदेश के मुताबिक अतिथि शिक्षक व्यवस्था को पारदर्शी एवं उपयुक्त अभ्यर्थी की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए ही प्रक्रिया ऑनलाइन की जा रही है।

शिक्षा विभाग से मिली जानकारी में बताया गया है कि अतिथि शिक्षकों को स्कूलों में रखने के आदेश जारी हो गए। उधर, जीएफएमएस पोर्टल में पंजीकृत एवं सत्यापित आवेदक संशोधन कराने की अंतिम तिथि 12 जुलाई थी। जिले के 127 हाई और हायर सेकंडरी स्कूलों में रिक्त पदों पर भर्ती होना है। ओझा ने बताया पदों का सत्यापन किया जा रहा है।

हाई और हायर सेकंडरी स्कूल : आवेदक द्वारा विद्यालय का चयन 14 से 17 जुलाई तक। जीएफएमएस पोर्टल पर विद्यालयवार, विषयवार पैनल का जनरेशन-19 जुलाई।

विद्यालय स्तर पर एसएमडीसी द्वारा पैनल तैयार कर अनुमोदन 20 जुलाई। पैनल में शामिल आवेदक द्वारा संबंधित स्कूल को अपनी स्वीकृति- 21 और 22 जुलाई। पैनल के अनुसार आवेदकों की विद्यालय में उपस्थिति- 22 जुलाई। संकुल प्राचार्य द्वारा आवेदक की विद्यालय में उपस्थिति की जानकारी 24 जुलाई तक अपलोड होगी।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned