बाबा रामदेव पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज ब्राह्मण समाज ने खटखटाया कोर्ट का दरवाजा

वकीलों के साथ जाकर इस्तगासा किया पेश भोपाल हाल ही में सोशल मीडिया पर बाबा रामदेव द्वारा ब्राह्मण समाज पर की गई टिप्पणी को लेकर  वायरल हुए वीडियो के

अभा ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष पुष्पंेद्र मिश्र ने बताया कि सोशल मीडिया पर बाबा रामदेव द्वारा ब्राह्मण समाज को लेकर अनर्गल भाषा का प्रयोग किया है। इससे समाज में रोष है। इसे लेकर समाज द्वारा बोर्ड ऑफिस चौराहे पर प्रदर्शन किया था, साथ ही ५ दिन पूर्व आईजी, एसपी, सीएसपी सहित पुलिस अधिकारियों को कार्रवाई की मांग को लेकर ज्ञापन भी दिए थे।

लेकिन इस मामले को लेकर पुलिस प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की। इसलिए अब समाज ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। इसे लेकर हमने ५० वकीलों के साथ जाकर सीजेएम अदालत में इस्तगासा पेश किया है। पुलिस प्रशासन के रूख से समाज नाराज है। हम उम्मीद करते हैं कि वरिष्ठ अधिकारी इस पहलू पर गौर करे। इस मौके पर उमेश तिवारी, विनोद पांडे, एड सुरेंद्र त्रिपाठी, उमेश द्विवेदी सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

पतंजलि परिवार ने दिया स्पष्टीकरण, बोले भ्रामक प्रचार से बचे इस मामले को लेकर भारत स्वाभिमान ट्रस्ट और पतंजलि योग समिति की ओर से भी स्पष्टीकरण दिया गया है। भारत स्वाभिमान न्यास के राज्य प्रभारी राजेंद्र आर्य ने पत्रकारों को बताया कि ब्राह्मण समाज सहित सभी समाजों एवं सभी वर्णों का हम पूर्ण आदर और सम्मान करते हैं।

जब किसी वीडियो अथवा बयान को आधा अधूरा पढ़ा, सुना या देखा जाता है तो उसमें भ्रांतियां होना स्वाभाविक है, भ्रांतियों का निवारण करने के लिए उस कार्यक्रम का पूरा वीडियो देखे, स्वामीजी महाराज ने भारतीय समाज को एक दूसरे के आदर एवं सम्मान करने के भाव को व्यक्त करते हुए राष्ट्र को सशक्त करने का आव्हान किया है। इसमें कुछ लोग अज्ञान के कारण दुष्प्रचार से भ्रमित होकर प्रदर्शन आदि कर रहे हैं। इसलिए हमारा यहीं कहना है कि वह एक बार पूरा वीडियो देख ले और किसी प्रकार के दुष्प्रचार या बहकावे में ना आए।

प्रवीण सावरकर Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned