वेंटिलेटर पर पर पूर्व सीएम, हालत गंभीर, अस्पताल पहुंचे भाजपा नेता, शिवराज ने कहा- मन दुखी है

वेंटिलेटर पर पर पूर्व सीएम, हालत गंभीर, अस्पताल पहुंचे भाजपा नेता, शिवराज ने कहा- मन दुखी है

Pawan Tiwari | Updated: 08 Aug 2019, 10:05:07 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

  • पूर्व सीएम के बीमार होने की खबर मिलते भीभाजपा नेता अस्पताल पहुंचे
  • सीएम कमलनाथ ने कहा- पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल ग़ौर के अस्वस्थ होने की जानकारी मिली। उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली।
  • शिवराज ने ट्वीट कर कहा- मन दुखी है।

भोपाल. मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम बाबूलाल गौर ( Babulal Gaur ) की तबियत एक बार फिर से बिगड़ गई है। बाबूलाल गौर को भोपाल के एक निजी अस्पताल में वेंटिलेटर पर रखा गया है। 90 साल के बाबूलाल गौर काफी समय से बीमार चल रहे हैं। डॉक्टरों के अनुसार, बाबूलाल गौर के फेंफड़ों में संक्रमण हैं।

 

 

इसे भी पढ़ें- एक किस्सा: एक वॉरंट ने जिसे बना दिया था मुख्यमंत्री, कभी चुनाव नहीं हारने का मिला है आशीर्वाद

 

 

मेदांता में भर्ती भी थे बाबूलाल गौर
बाबूलाल गौर को हाल ही में तबियत खराब होने के बाद गुरुग्राम के मेदांता हॉस्पिटल ( medanta hospital ) में भर्ती किया गया था। वहां, एंजियोप्लास्टी होने के बाद गौर 27 जुलाई को भोपाल लौटकर आए थे। भोपाल जिला अध्यक्ष विकास विरानी ने बताया कि बाबूलाल गौर अचानक बीमार हो गए थए और उसके बाद उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है।

 

 

narottam mishra

मिलने पहुंचे नरोत्तम मिश्रा
बाबूलाल गौर के बीमार होने की खबर लगते ही भाजपा के वरिष्ठ नेता नरोत्तम मिश्रा बाबूलाल गौर के देखने अस्पताल पहुंचे। इसके साथ ही मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट किया। शिवराज सिंह चौहान ने कहा- पूर्व मुख्यमंत्री, आदरणीय बाबूलाल ग़ौर के अस्वस्थ होने की जानकारी मिली। ईश्वर से शीघ्र उनके स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।



 

आप शीघ्र स्वस्थ हों
शिवराज ने कहा- मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री, हमारे श्रद्धेय श्री बाबूलाल गौर जी आपका मध्यप्रदेश के विकास एवं राजनीति में बहुत योगदान है। आपके अस्वस्थ होने के समाचार से मन बहुत दुःखी है। आप शीघ्र स्वस्थ हों और आपकी वही पुरानी अपनत्व भरी मुस्कान देखूँ, यही कामना करता हूं।

 

मध्यप्रदेश के सीएम रहे हैं बाबूलाल गौर
आपको बता दें कि बाबूलाल गौर 23 अगस्त 2004 से 29 नवंबर 2005 तक मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। उनके बाद शिवराज सिंह चौहान सूबे के मुख्यमंत्री बने थे। बाबूलाल गौर लगातार 10 बार गोविंदपुरा विधानसभा सीट से विधायक रहे हैं। 2018 के चुनाव में पार्टी ने उनकी जगह उनकी बहू कृष्णा गौर को टिकट दिया था। कृष्णा गौर गोविंदपुरा से पहली बार विधायक बनी हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned